• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Minister Mahesh Joshi Said Testing Will Be Done For Rs 600, 102 Block Laboratory, Post Approved In Chemist Cadre

सभी 33 जिलों में पानी जांच लैबोरेट्री को 'NABL एक्रीडिशन':मंत्री महेश जोशी बोले-600 रुपए में टेस्टिंग होगी,102 ब्लॉक लैबोरेट्री,कैमिस्ट कैडर में पोस्ट मंजूर

जयपुर9 महीने पहले
सभी 33 जिलों में पानी जांच लैबोरेट्री को 'NABL एक्रीडिशन'।

राजस्थान के पीएचईडी विभाग की ओर से प्रदेश के सभी 33 जिलों में चलाई जा रहीं पीने के पानी की क्वालिटी जांचने वाली लैबोरेट्रीज को नेशनल एक्रीडिशन बोर्ड फॉर टेस्टिंग एंड केलिब्रेशन लैबोरेट्रीज (NABL) का एक्रीडिशन मिल गया है। अब तक 30 जिलों को एक्रीडिशन मिला था। जबकि तीन जिलों चितौड़गढ़, सवाईमाधोपुर,प्रतापगढ़ को भी अब एक्रीडिशन मिल गया है। राजधानी जयपुर में मुख्यालय पर स्टेट लेवल की वाटर क्वालिटी टेस्टिंग लैब है। पानीपेच पर स्टेट लैब की नई बिल्डिंग के लिए 3 करोड़ रुपए की स्वीकृति दी है। जबकि बाकी 32 जिलों में डिस्ट्रिक्ट लेवल की लैब चलाई जा रही हैं। 11 हजार 343 ग्राम पंचायतों में बांटने के लिए 12 हजार से ज्यादा 'फील्ड टेस्टिंग किट' भी खरीदे गए हैं।

PHED मंत्री डॉ महेश जोशी ने बताया कि प्रदेश के ग्रामीण और शहरी इलाकों में लोगों को पीने के साफ पानी की सप्लाई सुनिश्चित करने के लिए विभाग ने वाटर क्वालिटी टेस्टिंग फैसिलिटी पर फोकस किया है। जिसका रिजल्ट है कि सभी लैब को एक्रीडिशन मिल गया है। उन्होंने विभाग के अधिकारियों और कैमिस्ट टीम को बधाई दी है।

16 पॉइंट्स पर क्वालिटी टेस्टिंग 600 रुपए में होगी

मंत्री डॉ महेश जोशी ने बताया कि सभी लोगों के लिए 16 पॉइंट्स पर आधारित पीने के पानी की क्वालिटी की जांच 1000 रुपए से घटाकर अब 600 रुपए कर दी गई है। प्रदेश की सभी 'एनएबीएल एक्रीडेटेड' जिला स्तरीय लैबोरेट्री में फलोराइड, नाइट्रेट, थर्मो टॉलरेंट कॉलीफॉर्म बैक्टीरिया, टोटल कोलोफॉर्म बैक्टीरिया, आर्सेनिक, आयरन, सल्फेट, क्लोराइड, रेजिड्युअल क्लोरिन, टोटल हार्डनेस, टोटल अल्केलाइनिटी, टर्बिनिटी, टोटल डिजॉल्वड सॉलिड, पीएच, कलर और ऑडर की टेस्टिंग फैसिलिटी मुहैया कराई जा रही है।

विभाग की बैठक लेते पीएचईडी मंत्री डॉ महेश जोशी।
विभाग की बैठक लेते पीएचईडी मंत्री डॉ महेश जोशी।

ब्लॉक लेवल पर 102 नई लैबोरेट्री और कैमिस्ट कैडर में पोस्ट मंजूर

डॉ. महेश जोशी ने बताया कि प्रदेश में जल जीवन मिशन में ग्रामीण क्षेत्रों में साल 2024 तक सभी परिवारों को पानी कनेक्शन देना है। साथ में वाटर क्वालिटी मॉनिटरिंग एंड सर्विलियंस प्रोगाम भी चलाया जा रहा है। मौजूदा वित्तीय वर्ष 2021-22 में 102 नई ब्लॉक लेवल लैब भी लगाई जाएंगी। इसके लिए पीएचईडी में चीफ कैमिस्ट ऑफिस के तहत 10 नई पोस्ट क्रिएट करने को भी मंजूरी दी गई है। इनमें चीफ कैमिस्ट की 1 एडिशनल पोस्ट, सुप्रींटेंडेंट कैमिस्ट की 3 और सीनियर कैमिस्ट की 6 पोस्ट शामिल हैं।

खबरें और भी हैं...