पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

राजस्थान में राजनीतिक संकट:हाईकोर्ट का नोटिस मिलने पर बोले अवाना, कांग्रेस में विधायक दल का विलय हुआ है न कि पार्टी का

भरतपुर6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
नदबई विधायक जोगेंदर सिंह अवाना। - Dainik Bhaskar
नदबई विधायक जोगेंदर सिंह अवाना।
  • कांग्रेस में शामिल हुए नदबई विधायक ने भास्कर से शेयर की अपनी व्यथा
  • बोले, स्थानीय नेताओं ने हमें पार्टी सुप्रीमो मायावती से मिलने ही नहीं दिया

(प्रमोद कल्याण)। बसपा छोड़कर कांग्रेस में शामिल हुए विधायकों को हाईकोर्ट के नोटिस शुक्रवार को तामील हो गए। इसके साथ ही विधायकों के तेवर थोड़े नरम पड़े हैं। नदबई विधायक जोगेंदर सिंह अवाना ने बसपा सुप्रीमो मायावती की तारीफ की। लेकिन, विलय के लिए तत्कालीन प्रदेश पदाधिकारियों को दोषी ठहराया।

उन्होंने कहा कि तत्कालीन प्रदेशाध्यक्ष सीताराम मेघवाल और प्रदेश प्रभारी एवं राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रामजी गौतम को हमने अपनी पीड़ा बताई थी। उन्होंने ना तो हमारी बात सुप्रीमो मायावती तक पहुंचने दी और ना ही हमें मिलने दिया। पार्टी सुप्रीमो को गुमराह किया गया। मजबूरन अपने क्षेत्र के विकास के लिए हम सभी बसपा विधायकों को कांग्रेस में शामिल होना पड़ा।

बसपा खुद दुविधा में थी ऐसे में हमारी स्थिति अजीब सी हो गई
दैनिक भास्कर से बातचीत में उन्होंने कहा कि बसपा खुद दुविधा में थी। एक ओर गहलोत सरकार को समर्थन कर रही थी। वहीं लोकसभा चुनाव में वह कांग्रेस के खिलाफ थी। ऐसे में हमारी स्थिति अजीब हो गई थी। हमने तो पार्टी से विपक्ष में बैठने को कहा था लेकिन, हमारी बात नहीं मानी गई।

चूंकि जिस मिशन भाव को लेकर हम चल रहे थे वही कांग्रेस का था। इसलिए हमने कांग्रेस में सहभागी होने का निर्णय लिया। कांग्रेस में बसपा विधायक दल का विलय हुआ है ना की पार्टी का। इसलिए बसपा द्वारा जो भी आपत्ति जताई गई है वह गलत है। इससे पहले पार्टी चुनाव आयोग और स्पीकर के पास जा चुकी है, जहां कानूनन उनके दावे को नकारा जा चुका है।

नोटिस स्पीकर को जारी हुआ है, हम तो पक्षकार हैं
अवाना ने कहा कि कोर्ट का नोटिस हमें मिल गया है। यह मुख्य रूप से स्पीकर को जारी हुआ है, लेकिन हम इसमें सहभागी पक्षकार हैं। इस संबंध में कानून विशेषज्ञों से चर्चा के बाद जवाब पेश किया जाएगा। हमने विलय में सभी नियमों और कानूनी प्रक्रियाओं का पालन किया है। इसलिए हम इसे लेकर चिंतित नहीं है।

बसपा सुप्रीमो मायावती द्वारा पार्टी छोड़ने वाले विधायकों और कांग्रेस को सबक सिखाने संबंधी बयान पर विधायक अवाना ने टिप्पणी करने से इनकार कर दिया। उन्होंने कहा, वे हमारी आदरणीय हैं। उन्होंने हमें विधायक बनाया। लेकिन, विधायकों के कांग्रेस में विलय के लिए पार्टी की दोहरी नीति और तत्कालीन प्रदेश पदाधिकारी जिम्मेदार हैं। अब हम पिछड़े लोगों के विकास के लिए ज्यादा काम कर रहे हैं।

बोले, गहलोत के नेतृत्व में नदबई में कई काम हुए हैं
उन्होंने कहा, मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के नेतृत्व में नदबई विधानसभा क्षेत्र में विकास के काफी काम हुए हैं। डिग्री कॉलेज, नगर पालिका, पंचायत समिति, ट्रोमा सेंटर, टोल केंद्र, इंडस्ट्रीज एरिया, देव नारायण छात्रावास, आईटीआई कॉलेज, स्टेडियम, सीएचसी, पांच पीएचसी आदि प्रमुख हैं। विकास के अभी और भी काम होने हैं।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आपकी मेहनत व परिश्रम से कोई महत्वपूर्ण कार्य संपन्न होगा। किसी विश्वसनीय व्यक्ति की सलाह और सहयोग से आपका आत्म बल और आत्मविश्वास और अधिक बढ़ेगा। तथा कोई शुभ समाचार मिलने से घर परिवार में खुशी ...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser