पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Nagar Nigam Election Polls For Jaipur Heritage, Jodhpur North And Kota North, 60.42 Polling In First Phase Rajasthan

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नगर निगम चुनाव-2020:जयपुर हैरिटेज, जोधपुर उत्तर और कोटा उत्तर में 'शहरी सरकार‘ के लिए चुनाव सम्पन्न, प्रथम चरण में कुल 60.42 मतदान

जयपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
प्रदेश की जयपुर हैरिटेज, जोधपुर उत्तर और कोटा उत्तर की नगर निगमों में प्रथम चरण के लिए हुए मतदान में 60.42 फीसद मतदाताओं ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया।
  • सबसे ज्यादा मतदान कोटा उत्तर नगर निगम में हुआ, यहां 65.12 प्रतिशत वोटिंग
  • सबसे कम मतदान जयपुर हेरिटेज में 57.85 प्रतिशत, जोधपुर उत्तर में 62.64 प्रतिशत
  • जयपुर में 101 वर्षीया वृद्धा ने डाला वोट, कोरोना कपल ने पीपीई किट पहनकर वोट किया

प्रदेश की जयपुर हैरिटेज, जोधपुर उत्तर और कोटा उत्तर की नगर निगमों में प्रथम चरण के लिए हुए मतदान में 60.42 फीसद मतदाताओं ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया। सर्वाधिक मतदान कोटा उत्तर नगर निगम में हुआ, जहां 65.12 प्रतिशत मतदाताओं ने वोट डाले।

जयपुर हेरिटेज में वार्ड नंबर 58, पुरानी बस्ती में बूथ नंबर 492 में 101 वर्षीय लक्ष्मी देवी ने वोट डाला। उनके पौते व रिश्तेदार व्हील चेयर पर बैठाकर पोलिंग बूथ तक ले गए।
जयपुर हेरिटेज में वार्ड नंबर 58, पुरानी बस्ती में बूथ नंबर 492 में 101 वर्षीय लक्ष्मी देवी ने वोट डाला। उनके पौते व रिश्तेदार व्हील चेयर पर बैठाकर पोलिंग बूथ तक ले गए।

राज्य निर्वाचन आयोग के आयुक्त पीएस मेहरा ने आयुक्त ने बताया कि तीनों नगर निगमों में शहरी सरकार चुनने के लिए मतदाताओं ने पूरे जोश और उत्साह के साथ मतदान किया। सबसे कम मतदान जयपुर हैरिटेज में हुआ। यहां 57.82 प्रतिशत मतदाताओं ने मतदान किया। वहीं सबसे ज्यादा मतदान कोटा उत्तर हुआ। यहां मतदाताओं ने 65.12 प्रतिशत वोटिंग की। जबकि, जोधपुर उत्तर में 62.64 फीसद मतदाताओं ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया।

मतदान केंद्रों पर कोरोना से बचाव के लिए मतदाताओं के हाथ सेनेटाइज करवाए गए
मतदान केंद्रों पर कोरोना से बचाव के लिए मतदाताओं के हाथ सेनेटाइज करवाए गए
नगर निगम चुनावों के पहले चरण में जयपुर हेरिटेज में सबसे कम 57.85 प्रतिशत मतदान हुआ। यहां भाजपा सांसद दीया कुमारी ने परकोटे में जनानी ड्योढी स्थित एक पोलिंग बूथ में वोट डाला।
नगर निगम चुनावों के पहले चरण में जयपुर हेरिटेज में सबसे कम 57.85 प्रतिशत मतदान हुआ। यहां भाजपा सांसद दीया कुमारी ने परकोटे में जनानी ड्योढी स्थित एक पोलिंग बूथ में वोट डाला।

9 लाख 99 हजार 691 मतदाताओं ने किया मताधिकार का इस्तेमाल

मेहरा ने बताया कि प्रथम चरण में 250 वार्डों के 2761 मतदान केंद्रों पर 16 लाख 54 हजार 592 मतदाताओं में से 9 लाख 99 हजार 691 मतदाताओं ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया। गौरतलब है कि दूसरे चरण में जयपुर ग्रेटर, जोधपुर दक्षिण और कोटा दक्षिण में मतदान 1 नवंबर को होगा, जबकि मतगणना 3 नवंबर को प्रातः 9 बजे से होगी।

जयपुर हेरिटेज में ही पुरानी बस्ती में कोरोना से संक्रमित एक दंपती ने वोट डाला। शाम करीब 5 बजे वे दोनों पीपीई किट पहनकर पर्ची बनाने पहुंचे। जहां बूथ पर मौजूद लोगों ने उनकी मदद की।
जयपुर हेरिटेज में ही पुरानी बस्ती में कोरोना से संक्रमित एक दंपती ने वोट डाला। शाम करीब 5 बजे वे दोनों पीपीई किट पहनकर पर्ची बनाने पहुंचे। जहां बूथ पर मौजूद लोगों ने उनकी मदद की।

यूं बढ़ता गया मतदान का प्रतिशत

मेहरा ने बताया कि तीनों शहरों में सोशल डिस्टेंसिंग और कोरोना प्रोटोकॉल के साथ मतदान प्रारंभ हुआ। सुबह 10 बजे तक तीनों नगर निगमों में 18.30 प्रतिशत मतदान हुआ। दोपहर 1 बजे मतदान का प्रतिशत 38.75 तक पहुंच गया। दोपहर 3 बजे तक प्रतिशत 49.46 तक जा पहुंचा और शाम बजे 5.30 बजे 58.96 प्रतिशत मतदाताओं ने वोट डाले। मतदान समाप्ति के बाद कुल 60.42 फीसद मतदान दर्ज हुआ।

पुलिस ने जरुरतमंद मतदाताओं की मदद भी की
पुलिस ने जरुरतमंद मतदाताओं की मदद भी की

पिछले चुनावों में तीनों शहरों का मतदान प्रतिशत

गौरतलब है कि जयपुर में 2014 में हुए नगर निगम चुनाव में 60 प्रतिशत, 2009 में 51.80 प्रतिशत मतदान हुआ था। इसी तरह जोधपुर में 2014 में 63 और 2009 में 58.53 प्रतिशत मतदाताओं ने वोट डाले थे। वहीं कोटा में 2014 में 67 प्रतिशत तो 2009 में 60.53 फीसद मतदाताओं ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया था। वर्तमान चुनाव की तुलना में पहले 3 नगर निगम हुआ करते थे, जबकि अब प्रत्येक नगर निगम को दो भागों में बांटा जा चुका है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- दिन उन्नतिकारक है। आपकी प्रतिभा व योग्यता के अनुरूप आपको अपने कार्यों के उचित परिणाम प्राप्त होंगे। कामकाज व कैरियर को महत्व देंगे परंतु पहली प्राथमिकता आपकी परिवार ही रहेगी। संतान के विवाह क...

और पढ़ें