पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

वैक्सीनेशन का नया रिकॉर्ड:राजस्थान में एक दिन में 1.23 लाख से ज्यादा डोज लगाई, एक दिन में टीका लगाने के मामले में ये सबसे ज्यादा

जयपुर8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
राजस्थान पुलिस महानिदेशक एम एल लाठर वैक्सीन लगवाते हुए। - Dainik Bhaskar
राजस्थान पुलिस महानिदेशक एम एल लाठर वैक्सीन लगवाते हुए।

कोरोना वैक्सीनेशन में राजस्थान में नया रिकॉर्ड बना है। पूरे प्रदेश में बुधवार को 1 लाख 23 हजार 54 लोगों को डोज लगाई गई। इतनी डोज अब तक हुए वैक्सीनेशन प्रोग्राम में एक दिन में नहीं लगी। इसमें सबसे ज्यादा पंचायती राज संस्था और शिक्षा विभाग से जुड़े अधिकारी-कर्मचारी है।

चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग से जारी रिपोर्ट को देखे तो कल जिन्हे डोज लगाई गई उसमें 1 लाख 22 हजार 30 फ्रंट लाइन वर्कर्स है, जो पंचायती राज और शिक्षा विभाग से जुड़े है, इन्हे फस्ट डोज दी गई। जबकि 1024 कर्मचारी हेल्थ वर्कर्स है, जिनमें से 337 को फस्ट डोज और 687 को दूसरी डोज लगाई गई।

सबसे ज्यादा वैक्सीन लगवाने बाड़मेर में पहुंचे
बुधवार को लगी वैक्सीन की जिलेवार स्थिति देखे तो सबसे ज्यादा वैक्सीन बाड़मेर जिले में लगाई गई। यहां 65 सेंटरों पर 11 हजार 36 लोगों को वैक्सीन लगाने का प्रोग्राम निर्धारित किया था, जिसमें से 9964 फ्रंट लाइन वर्कर्स वैक्सीन लगवाने पहुंचे। इसके बाद दूसरे नंबर पर उदयपुर जिला रहा, जहां 33 सेंटरों पर 9008 में से 7295 ने टीका लगवाया। सबसे कम टीके हनुमानगढ़ में 1 हजार 570 लोगों के लगे।

अब तक 7.59 लाख टीके लगाए
16 जनवरी से राज्य में शुरू हुए वैक्सीनेशन प्रोग्राम के बाद से लेकर अब तक 7,44,632 लाभार्थियों को 7 लाख 59 हजार 966 टीके लगाए जा चुके है। इसमें से 15 हजार 334 हेल्थ वर्कर्स तो वे हैं, जो दोनों डोज लगवा चुके हैं। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने बताया कि प्रदेश में चल रहे वैक्सीनेशन प्रोग्राम में अब तक लक्ष्य के करीब 71 फीसदी लोगों को टीके लग चुके हैं।

खबरें और भी हैं...

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज आपकी प्रतिभा और व्यक्तित्व खुलकर लोगों के सामने आएंगे और आप अपने कार्यों को बेहतरीन तरीके से संपन्न करेंगे। आपके विरोधी आपके समक्ष टिक नहीं पाएंगे। समाज में भी मान-सम्मान बना रहेगा। नेग...

और पढ़ें