• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Possible Discussion On Rajasthan's Assembly By elections And Panchayat Elections, Focus On Mission 2023 And Upcoming 5 State Elections

7 नवम्बर को बीजेपी की राष्ट्रीय कार्यसमिति:राजस्थान विधानसभा उपचुनाव में शिकस्त से बढ़ीं धड़कनें, पार्टी परफॉर्मेंस से खफा है नेतृत्व

जयपुर24 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
राजस्थान से राष्ट्रीय कार्यसमिति पदाधिकारी। - Dainik Bhaskar
राजस्थान से राष्ट्रीय कार्यसमिति पदाधिकारी।

बीजेपी की राष्ट्रीय कार्यसमिति की बैठक 7 नवंबर को है। तारीख घोषित होने के साथ ही राजस्थान के पार्टी पदाधिकारियों की धड़कनें तेज हो गई हैं। विधानसभा उपचुनाव में करारी हार और पंचायत चुनाव में खराब प्रदर्शन ने खूब किरकिरी कराई है। इससे नेतृत्व खफा भी है। बाकायदा रिपोर्ट भी तलब की गई है। अब कार्यसमिति की बैठक में होने वाली समीक्षा में राजस्थान का मुद्दा उठना तय है। गुटबाजी, स्टार प्रचारकों का रुचि नहीं लेना, एकजुट होकर काम नहीं करने जैसी बातें सामने आ चुकी हैं। उधर, पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा की चेयरमेनशिप में होने वाली इस बैठक में सभी प्रदेशों से राष्ट्रीय पदाधिकारियों को जुड़ने के निर्देश दिए गए हैं। यह सेमी वर्चुअल बैठक होगी। दिल्ली में मौजूद पदाधिकारी पार्टी मुख्यालय में मौजूद रहेंगे। राजस्थान सहित प्रदेशों से आने वाले प्रदेश अध्यक्ष, संगठन महामंत्री और राष्ट्रीय कार्यसमिति सदस्य प्रदेश बीजेपी मुख्यालयों से वर्चुअली जुड़ेंगे।

चर्चाओं का दौर शुरू

राजस्थान बीजेपी में इस बैठक की सूचना मिलते ही चर्चाओं का दौर शुरू हो चुका है। विधानसभा उपचुनाव में हार और विधानसभा सीटों पर तीसरे और चौथे पायदान पर चले जाने को पार्टी नेतृत्व गम्भीरता से ले रहा है। प्रदेश प्रभारी अरुण सिंह और संगठन महामंत्री चन्द्रशेखर से पार्टी ने हार के कारणों की एक रिपोर्ट भी ली है। राजस्थान समेत जिन राज्यों में उपचुनाव हुए हैं, उनके रिजल्ट पर खास तौर पर बैठक में रिव्यू के संकेत मिल रहे हैं।

ऐसी हुई है किरकिरी

राजस्थान में धरियावद और वल्लभनगर विधानसभा उपचुनाव में भाजपा की परफॉर्मेंस को लेकर पार्टी नेतृत्व बेहद खफा है। पार्टी प्रत्याशी तीसरे और चौथे नम्बर पर रह गए। कहने को कांटे की टक्कर या विपक्ष की स्थिति भी नहीं रही। वल्ल्भनगर में तो बीजेपी प्रत्याशी की जमानत जब्त हो गई। अलवर,धौलपुर में पंचायत चुनाव और उससे पहले दूसरे जिलों के पंचायत चुनाव, निकाय,निगमों के चुनाव भी बीजेपी के लिए ठीक नहीं रहे। बीजेपी का राष्ट्रीय नेतृत्व मिशन 2023 को लेकर बहुत सीरियस है। राजस्थान में गम्भीरता की कमी और नेताओं में गुटबाजी चरम पर है। इसकी पूरी रिपोर्ट नेतृत्व को गई है।

पूनिया बोले- जयपुर से वर्चुअली जुड़ेंगे

बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनियां ने जानकारी दी है कि 7 नवम्बर को सुबह 11 से दोपहर 3 बजे तक पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक होगी। इसमें उनके अलावा संगठन महामंत्री और राज्य से आने वाले सभी राष्ट्रीय पदाधिकारी जयपुर में बीजेपी मुख्यालय से ही वर्चुअली जुड़ेंगे। बैठक में पिछले कार्यक्रमों की समीक्षा होगी। आगे के वर्क प्लान दिए जाएंगे। 5 राज्यों के चुनाव और पार्टी के अभियानों को भी रिव्यू किया जाएगा।

ये हो सकते हैं शामिल

बैठक में प्रदेश बीजेपी मुख्यालय, जयपुर से प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया, संगठन महामंत्री चंद्रशेखर, राज्य विधानसभा में विपक्ष के नेता गुलाबचंद कटारिया, विपक्ष के उप नेता राजेंद्र राठौड़, विशेष आमंत्रित सदस्य पूर्व प्रदेशाध्यक्ष अरुण चतुर्वेदी, सांसद जसकौर मीणा, ओम प्रकाश माथुर वर्चुअली जुड़ सकते हैं। बीजेपी की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष वसुंधरा राजे, राष्ट्रीय मंत्री अलका सिंह गुर्जर, प्रवक्ता और सांसद राज्यवर्धन सिंह राठौड़ भी वीसी से बैठक में जुड़ सकते हैं। राजस्थान से तीनों केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत, अर्जुन राम मेघवाल, कैलाश चौधरी दिल्ली में ही बैठक में मौजूद रह सकते हैं।

खबरें और भी हैं...