• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Rahul Gandhi Rally | Rahul Gandhi And Rajasthan CM Ashok Gehlot Political Rally In Beneshwar Dham After Congress Chintan Shivir

चिंतन के बाद बेणेश्वर धाम में राहुल गांधी की सभा:कहा- आदिवासियों का इतिहास दबा रही BJP; बांटने-कुचलने का काम हो रहा

बेणेश्वर/जयपुरएक महीने पहलेलेखक: गोवर्धन चौधरी

राहुल गांधी ने PM मोदी और BJP पर निशाना साधते हुए कहा कि BJP आदिवासियों को दबाने कुचलने का काम करती है। दो विचारधाराओं की लड़ाई है। एक तरफ कांग्रेस पार्टी है जो कहती है सबकी रक्षा करनी है, सबको जोड़कर चलना है। दूसरी तरफ BJP है, बांटने का काम करती है, दबाने कुचलने का काम करती है।

BJP दो हिंदुस्तान बनाना चाहती है।​ एक हिंदुस्तान अमीरों- उद्योगपतियों का और दूसरा गरीब आदिवासियों का। हम एक ही हिंदुस्तान के पक्ष में है। उदयपुर में तीन दिन के चिंतन शिविर में पार्टी में बदलावों का फैसला करने के बाद राहुल गांधी सोमवार को बेणेश्वर धाम में सभा संबोधित कर रहे थे।

राहुल ने कहा- 'आदिवासियों और कांग्रेस पार्टी का गहरा रिश्ता है। आपके इतिहास की हम रक्षा करते हैं। आपके इतिहास को मिटाना दबाना नहीं चाहते हैं, जब हमारी UPA की सरकार थी तो आपके लिए आपकी जमीन, जंगल, जल की रक्षा करने के लिए ऐतिहासिक कानून लाए। बेणेश्वर में जब मेला होगा तो मैं भी आना चाहूंगा। यह आदिवासियों का महाकुंभ होता है। मैं भी आंखों से देखना चाहता हूं, दर्शन करना चाहता हूं।'

राजस्थान हेल्थ में सब प्रदेशों से आगे
राहुल गांधी ने गहलोत सरकार की तारीफ करते हुए कहा- राजस्थान की सरकार आदिवासियों के लिए काम कर रही है। राजस्थान हेल्थ में सब प्रदेशों से आगे है। यहां स्वास्थ्य के लिए 10 लाख का बीमा है। कोई भी राज्य सरकार हेल्थ के क्षेत्र में इतना काम नहीं कर रही है। इंग्लिश मीडियम स्कूल के बारे में गहलोत बता रहे थे। इसका आदिवासियों को बड़ा फायदा होगा है। वे कहीं भी रोजगार पा सकते हैं। मैं राजस्थान सरकार, अशोक गहलोत और मंत्रियों को बधाई देना चाहता हूं। आप गरीब लोगों के लिए काम कर रहे हो। आप शिक्षा, हेल्थ के लिए काम कर रहे हो।

गहलोत सबके लिए काम कर रहे
राहुल गांधी ने कहा- गहलोत सबके लिए काम कर रहे हैं। वे उद्योगपतियों के लिए काम नहीं कर रहे। बाकी BJP शासित राज्यों के मुख्यमंत्री चंद उद्योगपतियों के लिए काम करते हैं। यहां सबके लिए काम कर रहे हैं । BJP शासित राज्यों के मुख्यमंत्री इस तरह काम नहीं कर रहे।

हाई लेवल का ब्रिज का शिलान्यास
यहां उन्होंने हाई लेवल का ब्रिज का शिलान्यास किया। इसके साथ ही उन्होंने बेणेश्वर धाम में दर्शन किया। बुद्ध पूर्णिमा की बधाई देते हुए अपना भाषण शुरू किया। बोले- 'आज सुबह मैंने बेणेश्वर धाम में दर्शन किए। मुझे बहुत खुशी है। यहां हम इस पुल का शिलान्यास कर रहे हैं। हर साल लाखों आदिवासी यहां दर्शन करने आते हैं। बारिश के समय उन्हें बहुत मुश्किल होती है। इसलिए इस पुल का शिलान्यास किया गया।'

राहुल गांधी के साथ मंच पर अशोक गहलोत, अजय माकन और सचिन पायलट मौजूद।
राहुल गांधी के साथ मंच पर अशोक गहलोत, अजय माकन और सचिन पायलट मौजूद।

BJP दो हिंदुस्तान बनाना चाहती है: राहुल
राहुल ने कहा कि ‌BJP की सरकार ने हमारी अर्थव्यवस्था पर आक्रमण किया है। प्रधानमंत्री ने नोटबंदी की। गलत GST लागू की। हमारी अर्थव्यवस्था खराब हो गई। BJP ने अर्थव्यवस्था को नुकसान पहुंचाया। काले कानून लाए। किसानों के खिलाफ कानून लाए। सभी किसान एक साथ खड़े हुए। इसलिए कानून वापस लेने पड़े।

असल में दक्षिणी राजस्थान में इस स्थान पर सभा का सियासी मैसेज है। चिंतन शिविर खत्म होने के ठीक अगले दिन सोमवार को हुई इस सभा को आदिवासी इलाके की राजनीति के हिसाब से अहम माना जा रहा है। आदिवासी कांग्रेस का परंपरागत वोट बैंक रहा है, लेकिन BJP के बाद स्थानीय पार्टियों ने इसमें सेंध लगा दी है। पिछले विधानसभा और लोकसभा चुनावों में कांग्रेस को भारी नुकसान उठाना पड़ा था।

भारतीय ट्राइबल पार्टी (BTP) के उभार के बाद कांग्रेस को बांसवाड़ा-डूंगरपुर, प्रतापगढ़ और उदयपुर के आदिवासी बहुल सीटों पर भारी नुकसान उठाना पड़ा था। BTP ने पिछल बार दो सीटें जीतीं थीं। इस बार गुजरात में BTP और आम आदमी पार्टी का गठबंधन है। इस गठबंधन का कांग्रेस को बड़ा नुकसान हो सकता है। इस गठबंधन से कांग्रेस की चिंताएं और बढ़ गई हैं।

विधानसभा-लोकसभा चुनावों से पहले भी राहुल गांधी की सभाएं हुईं

सचिन पायलट के प्रदेशाध्यक्ष रहते हुए बांसवाड़ा डूंगरपुर के अलावा बेणेश्वर में राहुल गांधी की सभाएं हो चुकी हैं। बेणेश्वर धाम की सभा आदिवासी इलाके में सियासी मैसेज देने के हिसाब से अहम मानी जाती है। लोकसभा चुनाव के वक्त भी अप्रैल 2019 में बेणेश्वर में सभा हुई थी, लेकिन कांग्रेस को एक भी सीट नहीं मिली थी। इससे पहले सोनिया गांधी की भी CM अशोक गहलोत के पिछले कार्यकाल से पहले और बाद में सभाएं हुई थीं।

राहुल गांधी ने बेणेश्वर धाम हाई लेवल ब्रिज का शिलान्यास किया।
राहुल गांधी ने बेणेश्वर धाम हाई लेवल ब्रिज का शिलान्यास किया।

राजस्थान के अलावा गुजरात-MP के आदिवासियों को भी सियासी मैसेज
बेणेश्वर धाम आदिवासी आस्था का बड़ा केंद्र है। दक्षिणी राजस्थान के अलावा गुजरात और मध्यप्रदेश के आदिवासियों में भी बेणेश्वर धाम की श्रद्धा है। यहां सभा करने से तीन राज्यों के आदिवासियों में मैसेज जाता है। गुजरात में इसी साल चुनाव हैं। पिछले दिनों ही गुजरात के दाहोद में राहुल गांधी की सभा हो चुकी है।

चिंतन शिविर में जनता के बीच जाने का फैसला, इसकी शुरुआत बेणेश्वर से
कांग्रेस चिंतन शिविर में जनता के बीच जाने और आउटरीच कार्यक्रम करने का फैसला हुआ है। इसके तहत सभाओं के अलावा यात्राएं करने का भी कार्यक्रम है। बेणेश्वर धाम से सभा के जरिए कांग्रेस के जनता से कनेक्ट होने की शुरुआत मानी जा रही है।

तीन दिन चले कांग्रेस के चिंतन शिविर से जुड़ी प्रमुख खबरें-