• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Rajasthan BJP Core Committee Meeting Jaipur Update: Narendra Modi, JP Nadda, Arun Singh, Satish Poonia

जयपुर में 75 गेटों पर होगा नड्डा का स्वागत:19 से 21 मई तक बीजेपी करेगी चिन्तन, 20 मई को PM का संबोधन

जयपुर5 महीने पहले
जयपुर में 75 गेटों पर होगा नड्डा का स्वागत - Dainik Bhaskar
जयपुर में 75 गेटों पर होगा नड्डा का स्वागत

BJP की राजस्थान कोर कमेटी की बैठक बुधवार शाम प्रदेश बीजेपी मुख्यालय पर हुई। प्रदेश प्रभारी अरुण सिंह और प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया ने 19 से 21 मई तक जयपुर में होने वाली बीजेपी के राष्ट्रीय पदाधिकारियों की बैठक की तैयारियों को अंतिम रूप दिया। साथ ही राजस्थान के बीजेपी नेताओं को विधानसभा चुनाव 2023 और लोकसभा चुनाव-2024 के टास्क पर भी चर्चा हुई। यह बैठक इसलिए महत्वपूर्ण रही, क्योंकि देशभर के 136 बीजेपी नेता राजस्थान में तीन दिन कैंप करेंगे।

इस दौरान संगठन के आगामी कार्यक्रमों, राजस्थान में विधानसभा चुनाव-2023 के मुद्दे और प्रदेश के हालातों पर पूरी रिपोर्ट पार्टी नेतृत्व को दी जानी है।इसके साथ ही अरूण सिंह और पूनिया ने राष्ट्रीय पदाधिकारियों की बैठक के कार्यक्रमों की व्यवस्थाओं की तैयारियों को लेकर नेताओं की अलग से बैठक भी ली। अरुण सिंह ने प्रेसवार्ता कर बताया इस बैठक में सभी राष्ट्रीय उपाध्यक्ष, महामंत्री, मंत्री, कोषाध्यक्ष, सभी मोर्चों के अध्यक्ष और सभी प्रदेशों के प्रदेशाध्यक्ष और संगठन मंत्री हिस्सा लेंगे। कई पूर्व मुख्यमंत्री और कई पूर्व केन्द्रीय मंत्री भी बैठक में शामिल होंगे। कश्मीर से कन्याकुमारी और कच्छ से कामरूप तक से पदाधिकारी इसमें हिस्सा लेने आएंगे। कुल 136 राष्ट्रीय पदाधिकारी इसमें शामिल होंगे।

3 दिन का यह रहेगा चिन्तन कार्यक्रम

19 मई- शाम 4 बजे बीजेपी राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा जयपुर एयरपोर्ट पहुंचेंगे। बीजेपी कार्यकर्ता 75 गेट पर उनका स्वागत करेंगे। केन्द्र की मोदी सरकार की योजनाएं गेट पर डिस्प्ले की जाएंगी।

राजस्थानी संस्कृति से 6 जगह स्वागत का कार्यक्रम। होटल लीला पैलेस,कूकस में सुंदर सिंह भण्डारी और कुशाभाऊ ठाकरे की एग्जिबिशन का उद्घाटन राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा करेंगे। शाम 7 बजे राष्ट्रीय महामंत्रियों की बैठक होटल लीला पैलेस में 'सुंदर सिंह भण्डारी' के नाम से तैयार हॉल में होगी।

20 मई - सुबह 10 बजे ​​​​​​​से सभी राष्ट्रीय पदाधिकारी, प्रदेशाध्यक्ष, संगठन मंत्रियों की बैठक होगी। बैठक का उद्घाटन पीएम नरेन्द्र मोदी करेंगे।​​​​​​​PM मोदी का वर्चुअल संबोधन होगा।​​​​​​​ इस दिन कुल 4 सत्र होंगे। समापन सत्र को राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा संबोधित करेंगे। जिनमें अलग-अलग विषयों पर चर्चा होगी। बैठक की अध्यक्षता और समापन उद्बोधन भी राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ही करेंगे। शाम 6 बजे तक बैठकें चलेंगी। शाम 7 बजे जयपुर के बिड़ला ऑडिटोरियम में सुंदर सिंह भण्डारी पर पुस्तक का विमोचन नड्डा करेंगे। बिड़ला ऑडिटोरिय में जयपुर के प्रबुद्धजन संवाद को संबोधित करेंगे।

21 मई - सभी राज्यों के संगठन मंत्री सुबह 9 बजे से बैठक शुरू करेंगे। शाम 4 बजे तक बैठक रहेगी।

राजस्थान के लिए क्यों महत्वपूर्ण रहेगा चिन्तन

बीजेपी प्रदेश प्रभारी अरुण सिंह ने बताया कि राजस्थान के लिए बैठक इसलिए महत्वपूर्ण है, क्योंकि राजस्थान आज अपराधीकरण , महिला उत्पीड़न, दलितों के उत्पीड़न, भ्रष्टाचार में ट़ॉप पर है। तुष्टिकरण की पराकाष्ठा भी राजस्थान में हो रही है। देशभर के बीजेपी पदाधिकारी राजस्थान के बारे में भी चर्चा करेंगे। उन्होंने कहा गहलोत सरकार पूरी तरह फेल हो गई है। केवल केन्द्र पर दोष लगाने का काम करती है। चाहे पेपर लीक मामला हो या हिंसा और तुष्टिकरण का मामला हो, राजस्थान में बीजेपी के लगातार संघर्ष के कार्यक्रम हो रहे हैं। उन्होंने कहा एक ओर गहलोत जहां तुष्टिकरण और आरोप-प्रत्यारोप करके अपनी नाकामी छिपाने का काम कर रहे हैं। दूसरी ओर राजस्थान लगातार विकास में पिछड़ रहा है। पीएम की सोच, उनकी योजना और भावना को बीजेपी शासित राज्यों की तरह राजस्थान में पहुंचाना है। गहलोत सरकार केन्द्र की योजनाओं को राजस्थान में ठीक से लागू नहीं कर रही है। इसलिए इन मुद्दों पर भी बैठक में चर्चा होगी। अरुण सिंह ने कहा इस बैठक के बाद गहलोत सरकार की उलटी गिनती शुरू हो जाएगी। बीजेपी के सभी कार्यकर्ता तीन-चौथाई बहुमत के साथ यहां सरकार बनाने का संकल्प पूरा करेंगे।

कोर कमेटी में ये सदस्य रहे शामिल

कोर कमेटी की बैठक में प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया, नेता प्रतिपक्ष गुलाबचन्द कटारिया, पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे, राज्यसभा सांसद और पूर्व राष्ट्रीय उपाध्यक्ष ओमप्रकाश माथुर, प्रदेश संगठन महामंत्री चंद्रशेखर मिश्रा, उपनेता प्रतिपक्ष राजेन्द्र राठौड़, केंद्रीय मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत, कैलाश चौधरी, राज्यसभा सांसद राजेन्द्र गहलोत, कनकमल कटारा, सीपी जोशी, विशेष आमंत्रित सदस्यों में राष्ट्रीय महामंत्री और प्रदेश प्रभारी अरुण सिंह,राष्ट्रीय सचिव अलका गुर्जर शामिल रहे। हालांकि ​​​​​​केन्द्रीय मंंत्री ​अर्जुनराम मेघवाल, राष्ट्रीय महामंत्री और राज्यसभा सांसद भूपेन्द्र यादव, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और लोकसभा सांसद भारती बेन शियाल बैठक में शामिल नहीं हुए। वसुंधरा राजे करीब 40 मिनट देरी से बैठक में शामिल हुईं।