राठौड़ बोले- पायलट पर ACB कार्रवाई क्यों नहीं कराते गहलोत:नीलकंठ बने पायलट जहर उगलेंगे, सरकार तबाह होने की सम्भावना प्रबल हो जाएगी

जयपुरएक महीने पहले
राजेंद्र राठौड़ बोले-पायलट पर ACB कार्रवाई क्यों नहीं कराते गहलोत

BJP के उपनेता प्रतिपक्ष राजेन्द्र राठौड़ ने कहा -कांग्रेस के युवराज राहुल गांधी ने सचिन पायलट के धैर्य की तारीफ क्या कर दी, गुस्साए CM गहलोत ने पायलट पर सरकार गिराने की साजिश में शामिल होने का आरोप लगाकर सीधे-सीधे कांग्रेस नेतृत्व को चुनौती दे डाली। नीलकंठ बने पायलट जब जहर उगलेंगे, तो सरकार के तबाह होने की संभावना प्रबल हो जाएगी।

पायलट के खिलाफ ACB में दायर 3 मुकदमों में कार्रवाई क्यों नहीं करवाते ?

राठौड़ ने कहा कांग्रेस में आपसी लड़ाई और अपमान की राजनीति चरम पर है। मुख्यमंत्री ने 5 साल से ज्यादा समय तक कांग्रेस का नेतृत्व करने वाले PCC के पूर्व अध्यक्ष और पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट को कभी नकारा, निकम्मा और गद्दार कहा, तो कभी बिना रगड़ाई के पद पाने पर तंज कसा। अब हदें पार हो गईं जब मुख्यमंत्री ने केन्द्रीय मंत्री के सहारे धुर विरोधी सचिन पायलट को निशाने पर लेकर सरकार गिराने के षड्यंत्र का मुख्य सूत्रधार ही बता दिया। अगर मुख्यमंत्री के पास सबूत हों, तो सचिन पायलट के खिलाफ ACB में दायर 3 मुकदमों पर कार्रवाई क्यों नहीं करवाते ?

क्यों गरमाई मामले पर सियासत ?

केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने पिछले दिनों चौमूं में जनसभा में कहा था कि सचिन पायलट से चूक हो गई, उनमें कुछ खामी रह गई। जिसके बाद CM अशोक गहलोत ने केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत के साथ सचिन पायलट को भी निशाने पर लेकर फिर चर्चा छेड़ दी है। केंद्रीय मंत्री को विधायक खरीद फरोख्त से जुड़े केस में नोटिस देने के मुद्दे पर ​CM ने इशारों में कहा कि, गजेन्द्र सिंह और सचिन पायलट सरकार गिराने के षडयंत्र में मिले हुए थे। गहलोत ने दो दिन पहले सीकर के कोठ्यारी में कहा- सबको मालूम है आपने खुद ने सरकार गिराने का षडयंत्र किया। अब आप सचिन पायलट का नाम ले रहे हो कि उन्होंने चूक कर दी। प्रूफ हो गया, ठप्पा लगा दिया। आप खुद उनके साथ मिले हुए थे।

गहलोत ने कहा- कानून अपना काम कर रहा है। गजेंद्र सिंह को नोटिस लेट सर्व हुआ है। बचते रहे, आखिर में कोर्ट से नोटिस सर्व हो ही गया है। उन्हें वॉइस सैंपल देने में तकलीफ क्या है? वह दिल्ली कोर्ट में स्वीकार भी कर चुके हैं कि वो उनकी वॉइस है। पुलिस भी एफिडेविट के अंदर स्वीकार कर चुकी है । सीएम OSD लोकेश शर्मा के खिलाफ उन्होंने जो केस दर्ज करवाया है, वह तो उलटा चोर कोतवाल को डांटे वाली बात है।