गुजरात में 15 लाख राजस्थानियों को साधने जाएंगे BJP नेता:4 केंद्रीय मंत्री, बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष पूनिया, सांसद-विधायकों समेत 108 नेताओं की टीम

जयपुर4 महीने पहले
गुजरात में 15 लाख राजस्थानियों को साधने जाएंगे BJP नेता

BJP ने गुजरात में बसे 15 लाख राजस्थानियों को गुजरात विधानसभा चुनाव में साधने के लिए राजस्थान से बड़े लेवल पर पार्टी नेताओं की ड्यूटी लगाई है। राजस्थान बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष, 4 केंद्रीय मंत्रियों, 2 सांसद-पूर्व सांसद, 7 विधायक-पूर्व विधायक को चुनाव प्रचार का टास्क दिया गया है। गुजरात के विधानसभा चुनाव प्रचार में राजस्थान समेत देशभर के पार्टी के सीनियर लीडर्स और केंद्रीय मंत्रियों की टीम को उतार दिया है। PM नरेंद्र मोदी 19 अक्टूबर से दो दिन के गुजरात दौरे पर रहेंगे। डिफेंस एक्सपो समेत कई प्रोजेक्ट्स के उद्घाटन और इलेक्शन कैम्पेन को मजबूती देंगे।

पड़ोसी राज्य होने के कारण गुजरात में राजस्थान के 4 केंद्रीय मंत्रियों- गजेंद्र सिंह शेखावत, भूपेंद्र यादव, अर्जुनराम मेघवाल, कैलाश चौधरी के अलावा बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया समेत संगठन के 108 नेताओं की टीम को जिम्मा सौंपा गया है।

गुजरात में 51 विधानसभा क्षेत्रों में 15 लाख से ज्यादा राजस्थानी

नॉर्थ गुजरात में 9 बीजेपी के संगठन जिलों में 43 विधानसभा क्षेत्र हैं। इनमें अहमदाबाद नॉर्थ, अहमदाबाद साउथ, गांधी नगर शहर, गांधी नगर ग्रामीण, कच्छ-भुज, बनासकांठा, साबरकांठा, पाटन, अरावली जिले शामिल हैं। इनके अलावा 8 जिलों- सूरत, वड़ोदरा, राजकोट, भावनगर, भुज, मेहसाणा, जामनगर, पालनपुर में भी बड़ी तादाद में प्रवासी राजस्थानी हैं। कुल 51 शहरों में 15 लाख से ज्यादा प्रवासी राजस्थानी होने का मोटे तौर पर अनुमान है। इनमें 4 लाख आदिवासी हैं, जो दक्षिण राजस्थान से हैं। दो बड़े जिलों में ही 5 लाख राजस्थानी रहते हैं। इनमें अहमदाबाद में 2.25 लाख और सूरत में 2.75 लाख से ज्यादा राजस्थानी बसे हैं। गुजरात की कुल आबादी 7 करोड़ 4 लाख के करीब है। इसमें लगभग 1.50 करोड़ दूसरे राज्यों के आए लोगों की है। पड़ोसी राज्य होने के कारण इनमें राजस्थानियों का बड़ा आंकड़ा है। कोविड लॉक डाउन के वक्त इनमें से करीब 1.75 लाख लोग गुजरात से राजस्थान आए थे।

राजस्थान के केंद्रीय मंत्रियों, सांसद,विधायक,नेताओं को प्रवासी राजस्थानियों को साधने का टास्ट पार्टी ने दिया है। गुजरात में रहने वाले और राजस्थान में रहने वाले गुजराती समाज से ये नेता सम्पर्क साध रहे हैं। 107 नेता गुजरात में डेरा डाले हुए हैं। जबकि बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया बीच-बीच में दौरा करने जाते रहेंगे। हाल ही पूनिया अहमदाबाद, सूरत, गांधीनगर का चुनावी दौरा करके आए हैं। राजस्थान बीजेपी के प्रदेश महामंत्री सुशील कटारा, प्रदेश उपाध्यक्ष नारायण सिंह देवल और जालोर जिलाध्यक्ष श्रवण सिंह राव भी गुजरात में हैं।

पिछले विधानसभा चुनाव से सबक

2017 विधानसभा चुनाव में बीजेपी की पिछले 22 साल में गुजरात में सबसे कमजोर परफॉर्मेंस रही थी। इस दौरान 6 विधानसभा चुनाव हुए। गुजरात विधानसभा की कुल 182 सीटों में से बीजेपी को 99 और कांग्रेस को 77 सीटें मिली थीं। अबकी बार बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने पार्टी के फेस PM मोदी और केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह के गृह क्षेत्र गुजरात के चुनाव पर पूरा फोकस करते हुए सभी केंद्रीय मंत्रियों को गुजरात चुनाव प्रचार में तूफानी दौरे करने को कहा है।

55 विधानसभा क्षेत्रों में राजस्थान का प्रभाव, सभी में 5 से 10 हजार राजस्थानी वोटर

9 जिलों के 43 विधानसभा क्षेत्रों में हर विधानसभा में 5 हजार से 10 हजार प्रवासी राजस्थानी वोटर होने का अनुमान है। अहमदाबाद नॉर्थ, अहमदाबाद साउथ, गांधीनगर शहर और सूरत में इनका आंकड़ा 10 से 12 हजार तक है। पार्टी की तैयारी है कि चुनाव तारीखों की घोषणा होते ही गुजरात में सूरत, वड़ोदरा, राजकोट, भावनगर, भुज, मेहसाणा, जामनगर समेत कई क्षेत्रों में राजस्थान से और बीजेपी नेताओं को भेजा जाएगा। प्रदेश के जालोर, सिरोही, पाली, जोधपुर, बाड़मेर, जैसलमेर, उदयपुर, प्रतापगढ़, डूंगरपुर, बांसवाड़ा, झालावाड़, अजमेर, भीलवाड़ा, नागौर, जयपुर जैसे शहरों से बड़ी संख्या में प्रवासी राजस्थानी गुजरात में रह रहे हैं। बहुत से लोगों के वहां बिजनेस हैं। काम-धन्धे और नौकरियां हैं। बहुत से उद्योगपति और व्यापारी वहां स्थाई रूप से बसे हैं। साथ ही रेग्युलर राजस्थान और गुजरात आना-जाना लगा रहता है।

राजस्थान के 4 केंद्रीय मंत्रियों को गुजरात चुनाव में जिम्मा

  • गजेंद्र सिंह शेखावत- केंद्रीय जलशक्ति मंत्री , लोकसभा क्षेत्र जोधपुर से हैं।
  • भूपेंद्र यादव- केंद्रीय वन,पर्यावरण,श्रम और रोजगार मंत्री, राज्यसभा सांसद,राजस्थान।
  • अर्जुनराम मेघवाल- केंद्रीय संसदीय कार्य राज्यमंत्री, लोकसभा क्षेत्र बीकानेर से हैं।
  • कैलाश चौधरी- केंद्रीय कृषि राज्यमंत्री, लोकसभा क्षेत्र बाड़मेर-जैसलमेर से हैं।

राजस्थान के 2 सांसद-पूर्व सांसद को जिम्मा

  • राजेंद्र गहलोत, राज्यसभा सांसद,राजस्थान
  • नारायण पंचारिया,पूर्व सांसद, राजस्थान
  • 7 विधायक-पूर्व विधायकों को गुजरात में जिम्मा
  • नारायण सिंह देवल,विधायक, रानीवाड़ा, जालोर
  • छगन सिंह राजपुरोहित,विधायक,आहोर, जालोर
  • हम्मीर सिंह भायल, विधायक, सिवाणा, बाड़मेर
  • बाबुलाल खराड़ी,विधायक, झाड़ोल,उदयपुर
  • नानालाल अहारी,पूर्व विधायक, खेरवाड़ा,उदयपुर
  • रामचंद्र सुनारीवाल, पूर्व विधायक, डग, झालावाड़
  • छोटू सिंह भाटी, पूर्व विधायक, जैसलमेर
सतीश पूनिया,प्रदेशाध्यक्ष,बीजेपी राजस्थान।
सतीश पूनिया,प्रदेशाध्यक्ष,बीजेपी राजस्थान।

प्रदेश स्तर पर राजस्थान के 4 नेताओं को जिम्मा

प्रदेश स्तर पर गुजरात में राजस्थान के 4 नेताओं को जिम्मा दिया गया है। जिसमें राजस्थान प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया का नेतृत्व है। जबकि प्रदेश महामंत्री सुशील कटारा, प्रदेश उपाध्यक्ष नारायण सिंह देवल और सहकारिता प्रकोष्ठ के प्रदेश संयोजक प्रमोद सावर गुजरात के अलग अलग जोन में स्ट्रैटेजी सम्भाल रहे हैं।

9 जिलों में 18 जिलाध्यक्ष,जिला महामंत्री कॉर्डिनेटर-को-कॉर्डिनेटर

गुजरात के 9 जिलों में जिलेवार 1-1 कॉर्डिनेटर और को-कॉर्डिनेटर लगाए गए हैं। 18 नेताओं को जिम्मा दिया गया है। जिलों में जिलाध्यक्ष, जिला महामंत्री लेवल के नेताओं को भेजा गया है। इसी तरह 43 विधानसभा क्षेत्र में संयोजक और सह-संयोजक मिलाकर 86 नेताओं की टीम उतारी है । इस तरह कुल पूनिया के साथ 108 नेताओं की टीम गुजरात चुनाव कैम्पेनिंग में रहेगी।

चुनाव से ठीक पहले और नेता जाएंगे गुजरात

गुजरात चुनाव होने से ठीक पहले नेता प्रतिपक्ष गुलाबचन्द कटारिया, उपनेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़, राज्यसभा सांसद किरोड़ीलाल मीणा, घनश्याम तिवाड़ी, लोकसभा सांसद कनकमल कटारा, सुभाष चंद्र बहेड़िया,सीपी जोशी, राहुल कस्वां, निहालचंद मेघवाल, देवजी पटेल, पीपी चौधरी, दीया कुमारी, सुमेधानन्द सरस्वती, अर्जुनलाल मीणा समेत कई सांसदो को गुजरात के चुनाव प्रचार पर भेजने की स्ट्रैटेजी भी तैयार की जा रही है।

गुजरात को 4 जोन में बांटकर चुनावी तैयारी

गुजरात को 4 जोन- नॉर्थ गुजरात, सेंटर गुजरात, साउथ गुजरात और सौराष्ट्र में बांटकर बीजेपी ने जीत की स्ट्रेटेजी बनाई है। फिलहाल गुजरात के 43 विधानसभा क्षेत्रों में राजस्थान के मूल निवासी वोटर्स को चुनाव में बीजेपी के पक्ष में साधने और वोट डलवाने के लिए नेताओं ने स्ट्रेटेजिकली एक्सरसाइज शुरू कर दी है।

गुजरात विधानसभा चुनाव-कुल सीटें- 182

विधानसभा चुनाव साल

बीजेपी की सीटें
201799
2012115
2007116
2002127
1998117
1995121
कैलाश चौधरी, केंद्रीय कृषि राज्यमंत्री।
कैलाश चौधरी, केंद्रीय कृषि राज्यमंत्री।

20-21 अक्टूबर को मैं फिर गुजरात चुनाव प्रचार में जाऊंगा

केंद्रीय कृषि राज्यमंत्री कैलाश चौधरी बोले- सभी केंद्रीय मंत्रियों को गुजरात के विधानसभा चुनाव में कैम्पेन का जिम्मा सौंपा गया है। मैं खुद हाल ही में गुजरात दौरा करके वापस दिल्ली लौटा हूँ। अब 20 और 21 अक्टूबर को फिर से गुजरात जाऊंगा। लगातार दौरे करते रहेंगे।

PM मोदी के साथ 28 केंद्रीय मंत्री करेंगे चुनाव प्रचार

PM नरेंद्र मोदी के अलावा 28 केंद्रीय मंत्री गुजरात चुनाव प्रचार में हिस्सा लेंगे। इनमें राजनाथ सिंह, अमित शाह, नितिन गड़करी, निर्मला सीतारमण, नरेंद्र सिंह तोमर, डॉ सुब्रमण्यम जयशंकर, अर्जुन मुंडा, स्मृति ईरानी, पीयूष गोयल, धर्मेंद्र प्रधान, प्रहलाद जोशी, नारायण राणे, सर्बानन्दा सोनोवाल, डॉ वीरेंद्र कुमार, गिरिराज सिंह, ज्योतिरादित्य सिंधिया, अश्विनी वैष्णव, पशुपति कुमार पारस, गजेंद्र सिंह शेखावत, किरण रिजिजू, राज कुमार सिंह, हरदीप सिंह पुरी, मनसुख मंडाविया, भूपेंद्र यादव, महेंद्र नाथ पाण्डेय, पुरुषोत्तम रूपाला, जी किशन रेड्डी, अनुराग ठाकुर शामिल हैं।

47 राज्य मंत्री भी गुजरात में चुनाव कैम्पेन में जाएंगे

47 केंद्रीय राज्यमंत्रियों को भी गुजरात चुनाव प्रचार में भेजा जा रहा है। इनमें राव इंद्रजीत सिंह, डॉ जितेंद्र सिंह, श्रीपद नाइक, फग्गन सिंह कुलस्ते, प्रहलाद सिंह पटेल, अश्विनी चौबे, अश्विनी कुमार, जनरल वीके सिंह, कृष्ण पाल, दानवे रावसाहेब दादाराव, रामदास अठावले, निरंजन ज्योति, संजीव कुमार बाल्यान, नित्यानंद राय, पंकज चौधरी, अनुप्रिया सिंह पटेल, एसपी सिंह बघेल, राजीव चंद्रशेखर, शोभा करंडलाजे, भानू प्रताप सिंह वर्मा, दर्शना विक्रम जरदोश, वी मुरलीधरन, मीनाक्षी लेखी, सोम प्रकाश, रेणुका सिंह सरूता, रामेश्वर तेली, कैलाश चौधरी, अन्नपूर्णा देवी, ए नारायणस्वामी, कौशल किशोर, अजय भट्ट, बीएल वर्मा, अजय कुमार, देवूसिंह चौहान,भगवंत खूबा, कपिल मोरेश्वर पाटिल, प्रतिमा भौमिक, डॉ सुभाष सरकार, भगवत किशनराव कराड़, राजकुमार रंजन सिंह, भारती प्रवीण पंवार, बिश्वेश्वर टुडू, मुंजापर्णा महेंद्रभाई, जॉन बारला, एल मुरुगन, निशीथ प्रमाणिक शामिल हैं।

खबरें और भी हैं...