• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Rajasthan By Election Politics Udpate; Candidates Fielded From Sujangarh Seat To Cut Congress Votes

उपचुनाव के दंगल में बेरोजगार महासंघ भी कूदा:गहलोत पर दबाव बनाने के लिए सुजानगढ़ से प्रत्याशी उतारा, सहाड़ा से भी उतारेंगे; कहा- मकसद सिर्फ कांग्रेस को हराना

जयपुर10 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सुजानगढ़ में नामांकन भरने से पहले रैली निकालकर बेरोजगार युवाओं ने पर्चे बांटे। - Dainik Bhaskar
सुजानगढ़ में नामांकन भरने से पहले रैली निकालकर बेरोजगार युवाओं ने पर्चे बांटे।

राजस्थान में सरकारी विभागों में लंबित चल रही भर्तियों को पूरा नहीं करने और नियुक्तियां देने में देरी करने से खफा बेरोजगार अब गहलोत सरकार के खिलाफ सियासी दंगल में उतर चुके हैं। दबाव की राजनीति अपनाते हुए कांग्रेस के खिलाफ एकीकृत बेरोजगार महासंघ बैनर पर बेरोजगारों ने सुजानगढ़ विधानसभा सीट से अपना उम्मीदवार उतारा है। जबकि एक अन्य उम्मीदवार इसी सीट से अपना कल नामांकन पत्र भर सकता है।

एकीकृत बेरोजगार महासंघ ने करीब एक माह जयपुर में चल रहे आंदोलन के दौरान चारों विधानसभा सीट से उम्मीदवार उतारने का ऐलान किया था। उस समय में चारों उम्मीदवारों के नामों की भी घोषणा कर दी थी, लेकिन सुजानगढ़ से जिस अभ्यर्थी के नाम का ऐलान किया था उसकी जगह दूसरे को मैदान में उतारा है। महासंघ के अध्यक्ष उपेन यादव ने बताया कि महासंघ ने त्रिलोकचंद मेघवाल का नामांकन भरवाया है। कल यानी शुक्रवार को हम रवि भाटी का भी नामाकंन इसी सीट से भरवाएंगे।

इसके अलावा, सहाड़ा सीट से भी अरूण कुमार को प्रत्याशी बनाया गया है। कल वह नामांकन करेंगे। यादव ने बताया कि हमारा मकसद चुनाव जीतना नहीं। बल्कि कांग्रेस को हराना है। इसी को देखते हुए जातिगत समीकरण के आधार पर प्रत्याशी मैदान में उतारे जा रहे हैं। ताकि ज्यादा से ज्यादा कांग्रेस प्रत्याशी के वोट काटे जा सके।

पर्चे बांटकर कांग्रेस को वाेट न देने की अपील
नामांकन से एक दिन पहले महासंघ ने सुजानगढ़ में रैली निकाली। इसमें घर-घर पर्चे बांटकर कांग्रेस प्रत्याशी को हराने की गुहार लगाई गई। यादव ने बताया कि चुनाव होने तक ऐसा अभियान सुजानगढ़, राजसमंद और सहाड़ा तीनों सीटों पर चलाया जाएगा। उन्होंने बताया कि अप्रैल में वे खुद तीनों क्षेत्रों में जाकर चुनाव प्रचार अभियान करेंगे और कांग्रेस को वोट नहीं डालने की अपील करेंगे।

चिकित्सा मंत्री सुभाष गर्ग से आज मुलाकात कर सौंपा 16 सूत्रीय मांगों का ज्ञापन।
चिकित्सा मंत्री सुभाष गर्ग से आज मुलाकात कर सौंपा 16 सूत्रीय मांगों का ज्ञापन।

सरकार ने मांगें मानी तो हो जाएंगे बैक
यादव ने यह भी कहा कि अगर सरकार उनकी 16 सूत्रीय मांगों में से 4-5 मांगों को मानने पर राजी हो जाती है तो वे अपने प्रत्याशियों को वापस बैक कर लेंगे। अपनी मांगों को लेकर गुरुवार सुबह वह चिकित्सा राज्य मंत्री सुभाष गर्ग से भी मिले। जहां गर्ग ने उन्हें उनकी मांगों पर विचार के लिए मुख्यमंत्री से वार्ता करने की बात कही है।

भाजपा राज में भी उपचुनावों में उतारे थे उम्मीदवार, लेकिन मैदान से हट गए थे
बेरोजगार महासंघ ने भाजपा राज के दौरान भी उम्मीदवार उतारे थे, लेकिन बाद में वार्ता के बाद मैदान छोड़ दिया था। भाजपा राज में धौलपुर उपचुनाव के वक्त भी इसी तरह उम्मीदवार उतारने की घोषणा की थी। लेकिन बाद में मैदान से हट गए थे। फरवरी 2018 में दो लोकसभा और एक विधानसभा सीट पर पहले उम्मीदवार घोषित करने की घोषणा की। लेकिन बाद में कांग्रेस को समर्थन दे दिया था। अब सबसे बड़ा सवाल यही है क्या जो उम्मीदवार बेरोजगार संघ ने मैदान में उतारे हैं वह टिक पाएंगे या पुराना इतिहास दोहराएंगे।

खबरें और भी हैं...