• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Rajasthan Coronavirus Updates | Rajasthan Migrant Workers Corona Cases And 17 Districts Quarantine Centers

राजस्थान में प्रवासी / 10 लाख दूसरे राज्यों से आए, 7.25 लाख होम क्वारैंटाइन; 17 जिलों में अब तक 1300 प्रवासी पॉजिटिव

तस्वीर जोधपुर की है। जहां ट्रेनों की मदद से प्रवासी श्रमिकों का राजस्थान में आना-जाना लगातार जारी है। तस्वीर जोधपुर की है। जहां ट्रेनों की मदद से प्रवासी श्रमिकों का राजस्थान में आना-जाना लगातार जारी है।
X
तस्वीर जोधपुर की है। जहां ट्रेनों की मदद से प्रवासी श्रमिकों का राजस्थान में आना-जाना लगातार जारी है।तस्वीर जोधपुर की है। जहां ट्रेनों की मदद से प्रवासी श्रमिकों का राजस्थान में आना-जाना लगातार जारी है।

  • शनिवार को चिकित्सा और स्वास्थ मंत्री रघु शर्मा ने प्रदेश मे कोरोना संबधित जानकारी दी
  • कहा- 10 हजार संस्थागत क्वारैंटाइन सेंटर्स में करीब 34 हजार प्रवासी लोगों को रखा गया

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 07:29 PM IST

जयपुर. शनिवार को चिकित्सा और स्वास्थ मंत्री रघु शर्मा ने बताया कि प्रदेश के अलग-अलग जिलों में करीब 10 लाख प्रवासी राजस्थानी और श्रमिक राज्य में आए हैं। इनमें से करीब 7.25 लाख लोगों को होम क्वारैंटाइन में रखा गया है। वहीं, 10 हजार संस्थागत क्वारैंटाइन सेंटर्स में करीब 34 हजार लोगों को रखा गया है। उन्होंने कहा कि इन सभी सेंटर्स में खाने-पीने से लेकर सभी आवश्यक सुविधाएं उपलब्ध कराई गई हैं।

बेहतर सुविधाओं के लिए बनाई 3 स्तर पर कमेटी

डॉ. शर्मा ने बताया कि बाहर से आने वाला प्रत्येक प्रवासी राजस्थानी या श्रमिक क्वारैंटाइन सेंटर्स के प्रोटोकॉल की पालना और सुविधाओं के लिए 3 तरह की कमेटियों का गठन किया गया है। उन्होंने बताया कि ग्राम पंचायत, उपखंड मुख्यालय और जिला स्तर पर कमेटी बनाकर काम किया जा रहा है।

प्रतिदिन ली जा रही है रिपोर्ट, दिए जा रहे हैं निर्देश

डॉ. शर्मा ने बताया कि 3 स्तर पर बनी कमेटियों में पंचायत के सरपंच, पूर्व सरपंच, प्रधानाध्यापक, ग्राम सेवक, पटवारी, एनजीओ, समाजसेवियों के अलावा पुलिस और स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों को शामिल किया गया है। प्रतिदिन इन कामों की मॉनिटरिंग की जा रही है। प्रतिदिन वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए निर्देश दिए जाते हैं। ताकि कोई भी व्यक्ति क्वारैंटाइन पीरियड का उल्लंघन ना करे।

17 जिलों से मिले 1300 प्रवासी पॉजीटिव

चिकित्सा मंत्री ने कहा कि प्रदेश में 1300 से ज्यादा संक्रमित बाहर से आने वाले प्रवासी हैं। उन्होंने बताया कि डूंगरपुर, सिरोही, पाली, जालौर, बीकानेर सहित 17 जिलों में 1300 से ज्यादा पॉजिटिव केसेज आए हैं। आने वाले दिनों में पॉजीटिव केसेज की तादात में और भी इजाफा हो सकता है। सभी लोग यदि क्वारैंटाइन पीरियड को अनुशासन से बिताया तो कोई भी परेशानी नहीं होगी।

होम क्वारेंटाइन में भी रखी जा रही है नजर

मंत्री ने बताया कि होम क्वारैंटाइन के लिए 14 दिनों तक घर में रहने और प्रोटोकॉल ना तोड़ने के लिए बॉन्ड भरवाया जा रहा है। उसके दो पड़ोसियों को गवाह बनाया जाता है ताकि वे होम क्वारैंटाइन को तोड़ ना सकें। किसी को भी क्वारैंटाइन प्रोटोकॉल तोड़ने पर संस्थागत क्वारैंटाइन में भी भेज दिया जाता है। उन्होंने बताया कि डीओआईटी के सॉफ्टवेयर के द्वारा भी होम क्वारैंटाइन पर नजर रखते हैं। इससे हमें पता चल जाता है कि कौन व्यक्ति ने कितनी बार प्रोटोकॉल को तोड़ा है।

जांच क्षमता में हुआ लगातार इजाफा

डॉ. शर्मा ने बताया कि प्रदेश में हर दिन टेस्टिंग क्षमता में इजाफा किया जा रहा है। जब प्रदेश में पहला पॉजीटिव केस आया था तब प्रदेश में जांच सुविधा तक नहीं थी। आज प्रदेश भर में 16000 से ज्यादा जांचें प्रतिदिन की जा रही हैं। आने वाले दिनों में इसे 25000 तक पहुंचा दिया जाएगा।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना