आयकर छापेमारी में 50 करोड़ की ब्लैक मनी:कांग्रेस नेता-बिल्डर ग्रुप के 33 ठिकानों से 2.31 करोड़ कैश और 2.48 करोड़ की ज्वैलरी जब्त

जयपुर21 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

श्रीगंगानगर के कांग्रेस नेता अशोक चांडक और बिल्डर समूह रिद्धि सिद्धि ग्रुप के 33 ठिकानों पर करीब सप्ताहभर चली आयकर की छापेमारी में 50 करोड़ रुपए की ब्लैक मनी की जानकारी सामने आई है। यह कार्रवाई 28 अक्टूबर को जयपुर और श्रीगंगानगर के विभिन्न ठिकानों पर एक साथ की गई थी। आयकर विभाग ने 2.31 करोड़ की नकदी और 2.48 करोड़ की ज्वैलरी जब्त की है।

कांग्रेस नेता और बिल्डर ग्रुप से जुड़ी कंपनियों का शराब, सैंड माइनिंग और रियल एस्टेट का कारोबार है। संबंधित ग्रुप ने 35 करोड़ की अघोषित आय मानकर उस पर इनकम टैक्स् देने की पेशकश भी कर दी है। आयकर विभाग ने यह राशि 50 करोड़ से ज्यादा बताई है। इस अंतर की वजह से फिलहाल पेशकश मंजूर नहीं की गई है।

दस्तावेजों की पड़ताल जारी
आयकर कार्रवाई में बड़ी संख्या में दस्तावेज जब्त किए गए हैं। तलाशी के दौरान बेहिसाब नकदी लेने और उससे जमीन खरीदने के दस्तावेज भी मिले हैं। बजरी की बिक्री से मिलने वाली नकदी को अकाउंट बुक में नहीं दिखाकर अलग रजिस्टर में हिसाब रखा जा रहा था। उस हिसाब के दस्तावेज भी मिले हैं। नकद बिक्री को अकाउंट बुक में दर्ज नहीं किया जा रहा था। आरोप है कि यह सब टैक्स चोरी के लिए किया गया है। आयकर टीमें इन दस्तावेजों की पड़ताल कर रही है।

250 से ज्यादा कर्मचारी थे कार्रवाई में
आयकर की टीमों में शामिल 250 से ज्यादा कर्मचारियों ने एक साथ छापेमारी की थी। कांग्रेस नेता के शराब, रियल एस्टेट और मेडिकल सहित कई कारोबार से होने वाली वास्तविक आय और इनकम टैक्स रिटर्न में दिखाई गई आय में अंतर पाया गया था। इनकम टैक्स की प्रारंभिक जांच में गड़बड़ी पाए जाने के बाद छापे मारे गए थे। मुंबई आयकर की टीम ने राजस्थान टीम को कुछ इनपुट दिया था, जिसके बाद एक साथ इतने बड़े स्तर पर कार्रवाई की गई।

दिवाली से पहले आयकर छापे:गंगानगर, जयपुर में कांग्रेस नेता और बिल्डर समूह के 33 ठिकानों पर आईटी रेड

खबरें और भी हैं...