किसानों को 5-5 घंटे के 3 ब्लॉक में मिलेगी बिजली:शहरों-कस्बों-गांवों में 1 से 6 घंटे बिजली गुल, मंत्री बोले- एक्सचेंज से खरीदें बिजली

जयपुर7 महीने पहले
किसानों को 5-5 घंटे के 3 ब्लॉक में

प्रदेश में किसानों को अब 5-5 घंटे के तीन ब्लॉक में बिजली मिलेगी। राजस्थान सरकार ने राजस्थान विदयुत उत्पादन निगम को 1000 मेगावाट बिजली प्रोडक्शन बढ़ाने को कहा है। अगले साल प्रदेश में विधानसभा चुनाव है। उससे पहले किसानों को सरकार नाराज नहीं करना चाहती है। दूसरी ओर प्रदेश में बिजली संकट बरकरार है। शहरों,कस्बों,गांवों में घोषित-अघोषित बिजली कटौती भी जारी है। कहीं फीडर्स से लोड शेडिंग, कहीं अनप्लांड शटडाउन, कहीं मेंटीनेस और टेक्नीकल फाल्ट हो रहा है। जिससे घंटों तक इलाकों की बिजली गुल हो रही है। सूत्र बताते हैं कि गांवों में 6 घंटे तक पावर कट हो रही है। कस्बों में 3 से 4 घंटे बिजली जा रही है। शहरी इलाकों में 1 से 3 घंटे तक अलग-अलग क्षेत्र में कटौती हो रही है। बिजली की अधिकतम डिमांड 15500 मेगावाट प्रतिदिन तक पहुंच चुकी है। जबकि उपलब्ध बिजली इससे 2500 से 3000 मेगावाट तक कम है। सप्लाई बढ़ाने पर अब डिमांड और बढ़ेगी। जिससे निपटने के लिए एक्सचेंज मार्केट से बिजली की खरीद करने को कहा गया है।

भंवर सिंह भाटी,मंत्री,एनर्जी डिपार्टमेंट,राजस्थान।
भंवर सिंह भाटी,मंत्री,एनर्जी डिपार्टमेंट,राजस्थान।

एनर्जी डिपार्टमेंट के मंत्री भंवर सिंह भाटी ने बिजली की डिमांड और सप्लाई का रिव्यू करते हुए अधिकारियों को कहा है कि किसानों को फसल सिंचाई के लिए ब्लॉक सप्लाई के समय में 1 घंटे की बढ़ोतरी की जाए। अभी 4 घंटे के तीन ब्लॉक में बिजली सप्लाई हो रही है। ऐसे में कुल 3 घंटे और किसानों को बिजली दी जाएगी। एक्सट्रा डिमांड एक्सचेंज से बिजली खरीदकर पूरी की जाए।

दोपहर 12 से 3 बजे तक बढ़ी डिमांड बिजली खरीदकर पूरी करें

मंत्री ने किसानों को रात में 2 से सुबह 7 बजे, सुबह 10 से दोपहर 3 बजे और दोपहर 12 से शाम 5 बजे तक 3 ब्लॉक में बिजली सप्लाई की जाएगी। किसानों को बिना रुकावट बिजली सप्लाई में किसी तरह की कोताही नहीं बरतने की सख्ती से पालना करने को कहा है। लेकिन इससे दोपहर 12 से 3 बजे तक दो ब्लॉक में 3 घंटे बिजली का टाइम ओवर लैप होकर एकसाथ आएगा। इससे बिजली की डिमांड और बढ़ेगी। इस दौरान बिजली सप्लाई को नॉर्मल बनाए रखने के लिए एनर्जी एक्सचेंज से बिजली खरीद करने को कहा गया है।

बिजली प्रोडक्शन 1000 मेगावाट बढ़ाएं

मंत्री भंवर सिंह भाटी ने राजस्थान विद्युत उत्पादन निगम के CMD राजेश कुमार शर्मा को साफ निर्देश दिए हैं कि प्रदेश की बिजली प्रोडक्शन यूनिट्स से रोजाना 1000 मेगावाट बिजली प्रोडक्शन बढ़ाया जाए। अभी करीब 4000 मेगावाट बिजली प्रोडक्शन हो रहा है। जिसे बढ़ाकर 5000 मेगावाट करने को कहा है। उन्होंने तीनों डिस्कॉम्स- JVVNL, AVVNL, JDVVNL के MD को कंज्युमर कॉल सेंटर पर दर्ज शिकायतों की रेग्युलर मॉनिटरिंग करने को कहा। किसानों की बिजली समस्या को कॉल सेन्टर पर दर्ज कराने के लिए टोल फ्री नम्बर का बड़े स्तर पर प्रचार-प्रसार करने के भी निर्देश दिए। साथ ही टोल फ्री नम्बर को GSS, सब-डिविजन ऑफिस और फाल्ट रिमूवल टीम व्हीकल पर भी डिस्प्ले करने को कहा है। जिससे उपभोक्ताओं को बिजली शिकायतें दर्ज कराने में किसी तरह की समस्या नहीं हो।

भाटी ने किसानों को एग्रीकल्चर कनेक्शन टॉप प्रायोरिटी पर जारी करने के लिए कहा है। साथ ही गर्मी के मद्देनज़र PHED के पेंडिंग बिजली कनेक्शन भी तुरंत जारी करने को कहा।नए एग्रीकल्चर कनेक्शन और दिन में दो ब्लॉक में बिजली सप्लाई के लिए सिस्टम पर बढने़ वाले लोड को देखते हुए 400 केवी, 220 केवी और 132 केवी जीएसएस के निर्माण कार्य में तेजी लाने के लिए प्रसारण निगम को भी निर्देश दिए।

छबड़ा थर्मल पावर प्लांट।
छबड़ा थर्मल पावर प्लांट।

ठप 5 पावर प्लांट यूनिट्स को चालू करना जरूरी

प्रदेश में कई थर्मल पावर प्लांट यूनिट बंद पड़ी हैं। जिनमें कालीसिंध की 2 नम्बर की 600 मेगावाट यूनिट, छबड़ा की 4 नम्बर 210 मेगावाट यूनिट, सूरतगढ़ की 1 नम्बर की 250 मेगावाट और 3 नम्बर की 250 मेगावाट यूनिट, सूरतगढ़ सुपर क्रिटिकल 7 नम्बर की 660 मेगावाट यूनिट शामिल हैं। सूत्रों के मुताबिक इन्हें फिर से चालू करने के लिए अब कवायद तेज की जा रही है। साथ ही सोलर, विंड और डायड्रल पावर प्रोडक्शन बढ़ाने के साथ नए अल्ट्रा सुपर क्रिटिकल पावर प्लांट लगाने पर भी विचार किया जा रहा है।

ये हैं तीनों डिस्कॉम कम्पनियों के कंज्युमर हेल्पलाइन नम्बर

जयपुर विद्युत वितरण निगम लिमिटेड का कंज्युमर हेल्पलाइन टोल फ्री नम्बर- 18001806127 और सेंट्रलाइज्ड कॉल सेंटर नम्बर- 18001806507 है। व्हाट्स एप और एसएमएस के लिए नम्बर 9414037085 है। जबकि सेफ्टी रिलेटेड शिकायतों के लिए 0141-4730700 नम्बर है। जोधपुर विद्युत वितरण निगम लिमिटेड का नम्बर- 1800-180-6045, अजमेर विद्युत वितरण निगम लिमिटेड का नम्बर 1800-180-6565 टोल फ्री नम्बर है। इनके अलावा 1912 नम्बर पर भी शिकायत दर्ज करवाई जा सकती है।

राजस्थान में भयंकर गर्मी-लू का कहर:चूरू में 48 डिग्री सेल्सियस में झुलसे लोग, सबसे गर्म रही जयपुर में रात

राजस्थान में जमकर बिजली कटौती, 5 पावर प्लांट यूनिट ठप:महंगा विदेशी कोयला खरीदने से हिचक रही सरकार, बढ़ेगा संकट

राजस्थान में अब तक का सबसे बड़ा बिजली संकट:​​4 दिन का कोयला बचा, 1.52 करोड़ उपभोक्ताओं झेल रहे पावर कट