पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

टैक्स क्लियरेंस सर्टिफिकेट लेना होगा आसान:घर बैठे ऑनलाइन भी मिलेगा सर्टिफिकेट, राजस्थान ट्रांसपोर्ट डिपोर्टमेंट जल्द शुरू करेगा नई व्यवस्था

जयपुर15 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

राजस्थान ट्रांसपोर्ट डिपार्टमेंट ने लोगों के लिए नई व्यवस्था शुरू की है। अब अब गाड़ियों के मालिकों को अपनी गाड़ी का ‘कर चुकता प्रमाण पत्र‘ (टीसीसी) लेने के लिए ट्रांसपोर्ट ऑफिस के चक्कर नहीं लगाने पड़ेंगे। विभाग अब टीसीसी घर पर ही ऑनलाइन उपलब्ध करवाने के लिए साइट पर जल्द ही नई व्यवस्था करेगा। इसके तहत परिवहन विभाग की साइट पर पोर्टल पर ‘टैक्स क्लियरनेंस सर्टिफिकेट‘ सर्विस ऑप्शन को सिलेक्ट कर यह सुविधा ली जा सकेगी।

परिवहन कमीश्नर महेंद्र सोनी ने बताया कि ज्यादातर गाड़ियों के मालिकों को सर्टिफिकेट लेने के लिए ऑफिसों के चक्कर काटते पड़ते हैं। इसे देखते हुए मुख्यमंत्री ने बजट भाषण में इस व्यवस्था को ऑनलाइन शुरू करने की घोषणा की थी। इसी घोषणा की पालना में विभाग ने ये नई व्यवस्था शुरू करने जा रहा है। उन्होंने बताया कि जल्द से पोर्टल पर इसकी सुविधा शुरू कर दी जाएगी।

घर बैठे ऐसे मिलेगी टीसीसी
राष्ट्रीय सूचना विज्ञान केंद्र (एनआईसी) के तकनीकी निदेशक श्रीपाल यादव ने बताया कि आवेदक को परिवहन पोर्टल ओपन कर ऑनलाइन सर्विस-व्हीकल रिलेटेड सर्विस, सिलेक्ट स्टेट नेम, सिलेक्ट आरटीओ, डीटीओ सर्विसेज, एप्लाई फॉर सर्टिफिकेट और फिर लास्ट में टैक्स क्लीयरेंस सर्टिफिकेट ऑप्शन पर जाना होगा। यहां पर संबंधित वाहन के रजिस्ट्रेशन, चैसिस और इंजन नंबर लिखने होंगे। सबमिट करने पर वाहन से संबंधित सभी जानकारी दिखाई देगी। टीसीसी की हिस्ट्री भी दिखाई देगी, जिसमें यदि किसी भी तरह का पुराना बकाया होगा तो आपके मोबाइल नंबर पर बकाया जमा कराने का मैसेज आएगा। बकाया नहीं होने पर संबंधित परिवहन अधिकारी द्वारा ई-साइन के जरिए टीसीसी अप्रूवल कर दी जाएगी। इसके बाद आवेदक प्रिंट निकाल सकता है।

इसलिए जरूरी है टीसीसी
ड्राइवर को कई बार परिवहन अधिकारी या निरीक्षक को चैकिंग के दौरान एनओसी दिखानी पड़ती है। एनओसी नहीं दिखाने पर वाहन चालक के खिलाफ 500 रुपए का चालान भी काटा जा सकता है। ऑनलाइन टीसीसी सुविधा होने से वाहन मालिक इसे आसानी से ऑनलाइन भी दिखा सकेगा। इसके अलावा बिना टीसीसी के गाड़ियों का फिटनेस टेस्ट और अन्य के नाम ट्रांसफर नहीं किया जाता।

खबरें और भी हैं...