झालावाड़ के कई गांवों में आफत:खानपुर, मनोहर थाना में बाढ़ के हालात, कालीसिंध, आहू, परवन, कालीखाड़ और छापी नदियां उफान पर, MP, बारां से संपर्क टूटा

जयपुर10 महीने पहले
झालावाड़ा के भीमसागर बांध से 5 गेट खोलकर छोड़ा जा रहा पानी।

कोटा, बारां, बूंदी और सवाई माधोपुर के बाद अब मौसम का कहर झालावाड़ जिले पर टूटा है। झालावाड़ की करीब पांच जगहों पर बीते दो दिनों से हो रही भारी बारिश के कारण बाढ़ के हालात बन गए हैं। कालीसिंध, आहू, परवन, कालीखाड़ और छापी नदियां उफान पर हैं। कई गांवों का संपर्क जिला व तहसील मुख्यालय से कट गया है। बारां-झालावाड़ मेगा हाईवे ठप हो गया। उफनते नदी नालों के कारण झालावाड़ को मध्य प्रदेश से जोड़ने वाले कई मार्ग बंद हो गए। बीते 24 घंटे के अंदर झालावाड़ के भीमसागर क्षेत्र में 230 mm (9 इंच) पानी बरसा है। वहीं खानपुर में 172 mm (7 इंच) बारिश ने हालात विकट कर दिए हैं।

स्थानीय रिपोटर्स के मुताबिक खानपुर और मनोहर थाना में भी बाढ़ जैसे हालात बन गए हैं। यहां बड़ी नदियों में मिलने वाली छोटी-छोटी सहायक नदियों का पानी शहर और कस्बे में घुस आया। इस कारण कई बाजार और कस्बे जलमग्न हो गए हैं। खानपुर में रूपाली नदी में तेज पानी आने के कारण कई खेत जलमग्न हो गए। गुरुवार रात असनावर कस्बे के ऊपरी इलाकों में भी घरों व दुकानों में पानी घुस गया। बारिश से लगातार बिगड़ते हालात को लेकर जिला प्रशासन अलर्ट मोड पर है। आपदा प्रबंधन टीमों को रेस्क्यू ऑपरेशन में लगा दिया है। वहीं बाढ़ में फंसे लोगों और बाढ़ संभावित क्षेत्रों के लोगों को सुरक्षित स्थानों पर लाया जा रहा है। परवन नदी में उफान के कारण पुलिया पर पानी आ गया। जिसके कारण बारां झालावाड़ मेगा हाईवे ठप हो गया। उफनते नदी नालों के कारण झालावाड़ को मध्य प्रदेश से जोड़ने वाले कई मार्ग बंद हो गए।

झालावाड़ के खानपुर क्षेत्र के सारोला कस्बे में भरा पानी।
झालावाड़ के खानपुर क्षेत्र के सारोला कस्बे में भरा पानी।

बांधों से पानी छोड़ना शुरू
झालावाड़ में भारी बारिश के बाद कालीसिंध, छापी, पिपलाज और राजगढ़ बांध से गेट खोलकर पानी छोड़ना शुरू कर दिया है। कालीसिंध बांध के 5 गेटों को 3 मीटर तक खोलकर 76 हजार क्यूसेक पानी निकाला जा रहा है। छापी बांध के भी 6 गेट खोलकर 15,600 क्यूसेक पानी छोड़ा जा रहा है। छापी बांध से पानी छोड़े जाने के बाद छापीहेड़ा गांव बना टापू में तब्दील हो गया। कल देर शाम तक आपदा प्रबंधन टीमों (SDRF) ने 110 लोगों को रेस्क्यू कर निकाला। इधर भीम सागर बांध के भी 5 गेट खोल कर 36 हजार क्यूसेक पानी की निकासी की जा रही है। चंवली और गागरिन बांध से भी पानी छोड़ा जा रहा है।

छापी डैम से पानी छोड़ते हुए।
छापी डैम से पानी छोड़ते हुए।

यहां हुई तेज बारिश
जयपुर मौसम विभाग और जलसंसाधन विभाग के मुताबिक पिछले 24 घंटे के दौरान झालावाड़ जिले के मनोहर थाना में 166 MM, असनावर में 160, अकलेरा 115, कालीसिंध बांध 80, छापी बांध 64, झालावाड़ शहर 64, बाकनी 60, बारां जिले के छबड़ा में 112, अटरू 90, किशनगंज 87, छीपाबड़ौद 81, बूंदी में 54, कोटा के रामगंजमंडी में 74, सांगोद 53 और नागौर के डीडवाना 72 MM बारिश दर्ज की गई। इसके अलावा सवाई माधोपुर, टोंक, जयपुर, चित्तौड़गढ़ के कुछ क्षेत्रों में भी बारिश हुई है।

फोटो : विनय जैन

खबरें और भी हैं...