राजस्थान में भयंकर गर्मी-लू का कहर:चूरू में 48 डिग्री सेल्सियस में झुलसे लोग, सबसे गर्म रही जयपुर में रात

जयपुरएक महीने पहले
भीषण गर्मी के चलते बीकानेर में इंदिरा गांधी नहर के किनारे पेड़ों में आग लग गई। - Dainik Bhaskar
भीषण गर्मी के चलते बीकानेर में इंदिरा गांधी नहर के किनारे पेड़ों में आग लग गई।

राजस्थान में भीषण लू का कहर जारी है। लोग 48 डिग्री सेल्सियस में झुलस रहे हैं। भयंकर गर्मी का नतीजा है कि जोधपुर में सड़कों पर पानी छिड़काव करना पड़ा। बीकानेर में तो पेड़ों में आग लग गई। चूरू में दिन में सबसे अधिकतम और जयपुर में रात में सबसे ज्यादा न्यूनतम तापमान रहा।

वहीं, दक्षिण राजस्थान (डूंगरपुर और बांसवाड़ा) में तापमान में 2 डिग्री तक की गिरावट दर्ज हुई है। 7 जिलों में रविवार को तापमान 47 डिग्री से ज्यादा रहा। इनमें चूरू में अधिकतम तापमान 47.9 डिग्री सेल्सियस, पिलानी-झुंझुनूं में 47.7, श्रीगंगानगर में 47.6, धौलपुर में 47.7, संगरिया-हनुमानगढ़ में 47.9, अलवर में 47.3, करौली में 47.3 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया है। इन 7 जिलों में भीषण लू चली है।

10 जिलों टोंक, अलवर, कोटा, फलौदी, बीकानेर, नागौर, बूंदी, बारां, जालोर, सवाई माधोपुर में लू और हीट वेव चली। राजधानी जयपुर में अधिकतम तापमान 44.4 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम 33.1 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया है। जयपुर का न्यूनतम तापमान प्रदेश में सबसे ज्यादा रहा है।

गर्मी के कारण बीकानेर में 1000 से ज्यादा पेड़ों में आग लग गई।
गर्मी के कारण बीकानेर में 1000 से ज्यादा पेड़ों में आग लग गई।

बीकानेर में पेड़ों में लगी आग, जोधपुर में सड़कों पर छिड़का गया पानी

वहीं, गर्मी के कारण बीकानेर के बज्जू में इंदिरा गांधी नहर के किनारे खड़े सैकड़ों पेड़ों में रविवार को भीषण आग लग गई है। आग इतनी जबरदस्त है कि कुछ ही देर में तीन किलोमीटर तक पहुंच गई, जिसे दमकल की मदद से काबू करने की कोशिश की जा रही है। साथ ही जोधपुर में सड़कों को ठंडा रखने के लिए एंटी स्मॉग गन मशीनें काम में ली गईं। इसके जरिए सड़कों पर पानी का छिड़काव किया गया।

आंधी-बारिश का भी अलर्ट

मौसम विभाग के अनुसार रविवार देर शाम 5 जिलों करौली, दौसा, सवाई माधोपुर, जयपुर, टोंक और आसपास के क्षेत्रों में अचानक 30 से 40 किलोमीटर प्रतिघंटा रफ्तार से धूलभरी हवाएं चल सकती हैं। साथ ही कहीं-कहीं पर हल्की बारिश और बूंदाबांदी होगी।

प्रदेश के अन्य जिलों का तापमान

अजमेर में अधिकतम तापमान 43.9, भीलवाड़ा में 44, वनस्थली-टोंक में 46.2, अलवर में 46, सीकर में 44, कोटा में 45.3, चित्तौड़गढ़ में 43.2, डबोक-उदयपुर में 41.4, बाड़मेर में 44.4, जैसलमेर में 44.2, जोधपुर में 42.8, फलौदी-जोधपुर में 46.2, बीकानेर में 46.4, नागौर में 45, बूंदी में 45.3, अंता-बारां में 45.1, चित्तौड़गढ़ में 42, डूंगरपुर में 41.4, जालोर में 44.2, सिरोही में 41.3, सवाईमाधोपुर में 45.7 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया है।

15 मई को प्रमुख जिलों का तापमान।
15 मई को प्रमुख जिलों का तापमान।

आगे का मौसम, अभी लू से राहत नहीं

प्रदेश में लू लगातार बनी रहेगी। 16 मई को पश्चिमी विक्षोभ बनने से 2 से 3 डिग्री सेल्सियस तक तापमान में गिरावट जयपुर और बीकानेर संभागों में दर्ज हो सकती है। ज्यादातर स्थानों पर तापमान 45 डिग्री सेल्सियस से नीचे दर्ज होने की उम्मीद है। 16 और 17 मई को उत्तरी राजस्थान में हल्के बादल छाए रहेंगे। कहीं-कहीं आंधी और तूफान आएगा। हवाओं में ज्यादा नमी नहीं होने के कारण बड़े लेवल पर बारिश की सम्भावना कम है। छिटपुट जगहों पर बूंदाबांदी हो सकती है।

16 मई को जयपुर और बीकानेर संभाग के जिलों में 30 से 40 किलोमीटर रफ्तार से आंधी चलेगी। जयपुर संभाग के जिलों में कही-कहीं बारिश होगी। 17 मई को जयपुर और बीकानेर दोनों संभागों में 30 से 40 किलोमीटर रफ्तार से धूलभरी हवाएं चलेंगी। कहीं कहीं पर बारिश होगी। 18 मई को जोधपुर संभोग में कहीं-कहीं बारिश होगी। बाकी जगह मौसम ड्राई रहेगा। 19 मई को सभी जगह मौसम ड्राई रहने और हीट वेव की सम्भावना है।

खबरें और भी हैं...