RJS प्री-एग्जाम में सक्सेस के 10 टिप्स:4 दिन में कैसे करें तैयारी एक्सपर्ट से जानें, भास्कर ऐप पर मेगा टेस्ट सीरीज आज से

जयपुर9 महीने पहले

RJS-प्री 2021 एग्जाम 28 नवम्बर 2021 को है। परीक्षा में अब केवल 4 दिन बचे हैं। दैनिक भास्कर एप पर आरजेएस प्री-परीक्षा की तैयारी के लिए सब्जेक्ट एक्सपर्ट के टिप्स भी पब्लिश किए जा रहे हैं। साथ ही मेगा टेस्ट सीरीज भी आज से शुरू की जा रही है। इससे परीक्षा की तैयारी कर रहे कैंडिडेट्स को विशेष मदद मिलेगी। इससे वे कम समय में परीक्षा की बेहतर तैयारी कर सकते हैं।

सिविल जज कैडर के 120 पदों के लिए परीक्षा
राजस्थान हाईकोर्ट जोधपुर की ओर से सिविल जज कैडर के 120 पदों पर भर्ती के लिए यह परीक्षा करवाई जा रही है। जिसमें साल 2020 के 89 और 2021 के 31 खाली पद शामिल हैं। दोनों सालों के कुल 120 पदों में से 49 पद सामान्य वर्ग के, एससी वर्ग के 18, एसटी के 13, ओबीसी के 24, ईडब्ल्यूएस के 11 और एमबीसी वर्ग के 5 पद आरक्षित रखे गए हैं। इसके अलावा दिव्यांग वर्ग के अभ्यर्थियों के 5 पद रखे गए हैं।

परीक्षा का पैटर्न
यह परीक्षा हिन्दी और अंग्रेजी दोनों भाषाओं में कुल 3 चरणों में करवाई जा रही है- प्रीलिम्स, मेन्स और इंटरव्यू। प्री- परीक्षा मल्टीपल चॉइस क्वेश्चन्स के पैटर्न पर होगी। जिसमें 70 फीसदी वेटेज लॉ पेपर I और II को दिया जाएगा। जबकि 30 फीसदी हिन्दी और अंग्रेजी भाषा का रहेगा। हालांकि कैंडिडेट्स का फाइनल सलेक्शन मेन्स परीक्षा और इंटरव्यू के मार्क्स के आधार पर ही होगा।लेकिन प्री परीक्षा क्लीयर करने वालों को ही मेन्स में एंट्री मिलेगी।

पेपर का पैटर्न
प्रीलिम्स एग्जाम में ऑब्जेक्टिव टाइप पेपर है। जिसमें 100 मल्टीपल चाइस क्वेश्चंस आएंगे। 70 प्रश्न लॉ सब्जेक्ट से होंगे। जबकि 30 क्वेश्चन हिन्दी और अंग्रेजी भाषा और ग्रामर से होंगे। वेटेज के आधार पर दोनों सब्जेक्ट से 15-15 क्वेश्चन्स पूछे जाते हैं। यह परीक्षा कुल 2 घंटे की होगी। जिसमें नेगेटिव मार्किंग नहीं होगी।

- उर्मिला राठी, सब्जेक्ट एक्सपर्ट, सूर्यनगरी यूनिक लॉ क्लासेज, जोधपुर।
- उर्मिला राठी, सब्जेक्ट एक्सपर्ट, सूर्यनगरी यूनिक लॉ क्लासेज, जोधपुर।

सब्जेक्ट एक्सपर्ट टिप्स
अब RJS प्री-परीक्षा में बहुत की कम समय बचा है। अंतिम समय में परीक्षा की तैयारी कैसे करनी है। दैनिक भास्कर एप पर सब्जेक्ट एक्सपर्ट उर्मिला राठी दे रही हैं 10 खास टिप्स।

1. अगले 4 दिन का समय बचा है। लास्ट मूवमेंट पर पढ़ाई पर टाइम कम दें। हेल्थ पर फोकस रखें। टाइम मैनेजमेंट करें। रेस्ट अधिक करें। वॉकिंग और एक्साइज करें। रिलेक्स होकर पूरी नींद लेनी है।

2. दिन में 12 घंटे पढ़ाई के लिए निकालें, बाकी 12 घंटे दूसरे कामों में बिताएं।

3. पढ़ाई और रिविजन की बात करें, तो अब तक जो पढ़ चुके हैं और जो बहुत इम्पॉर्टेंट टॉपिक्स हैं, उन्हें ही पढ़ना है।

4. CRPC में रिविजन, रेफरेंसेज, चार्जेस पर फोकस रखें।

5. CPC में ऑर्डर 9, ऑर्डर 5, रिविजन, रिव्यू, अपील, रेफरेंसेज पर जोर दें।

6. जो टॉपिक अब तक नहीं देखा या पढ़ा है, उसे अब नहीं पढ़ना है। क्योंकि अब समय नहीं है। मॉक टेस्ट जरूर दें।

7. हिन्दी ग्रामर और इंग्लिश स्कोरिंग हैं। अगले 4 दिन सुबह जल्दी उठकर हिन्दी और अंग्रेजी को अपना समय दें।

8. लैंग्वेज के बाद लॉ को पढ़ें। लॉ को आप रेग्युलर पढ़ रहे हैं। इसलिए उसे कर लेंगे। लेकिन हिन्दी-अंग्रेजी की पढ़ाई काफी पहले छोड़ चुके हैं। इसलिए उस पर फोकस रखें।

9. अब कोई गाइड या नई बुक सॉल्व नहीं करनी चाहिए। केवल वही सॉल्व करना है और वही पढ़ना है जो अब तक पढ़ा हुआ है।

10. इंटरप्रिटेशन अभी तक नहीं पढ़ा तो अब उसे रहने दें। जिन एक्ट में हाल ही के कुछ दिनों में अमेंडमेंट (संशोधन) हुआ है। उनके पीछे नहीं भागना है। पेपर परीक्षा से काफी पहले तैयार हो जाते हैं।

यह भी पढ़ें -

राजस्थान में होमगार्ड कॉन्स्टेबल के 135 पदों पर निकली भर्ती : 8वीं पास अभ्यर्थी 15 दिसंबर तक कर सकेंगे आवेदन, फरवरी में होगी परीक्षा