• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • RPVT Result Today, Counseling Will Be Done After NEET Result, Petroleum Companies Increase Domestic Gas Prices By Rs 15 Per Cylinder

LIVE अपडेट्स राजस्थान:किसानों से मिलने लखीमपुर जा रहे पायलट और आचार्य प्रमोद मुरादाबाद में हिरासत में लिए गए, पुलिस ने कहा- धारा 144 तोड़ी

जयपुर7 महीने पहले
मुरादाबाद में सचिन पायलट को आगे जाने से रोक दिया।

किसानों की मौत के विरोध में उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी जा रहे सचिन पायलट और कांग्रेसी नेता आचार्य प्रमोद कृष्णन को मुरादाबाद में पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। पुलिस का कहना है कि उन्होंने धारा-144 तोड़ी है। पायलट गाजीपुर बॉर्डर होते हुए लखीमपुर खीरी के लिए रवाना हुए थे। पहले पायलट को गाजीपुर बॉर्डर पर ट्रक लगाकर रोका था, लेकिन कार्यकर्ताओं की नारेबाजी के बाद पुलिस ने उन्हें जाने दिया था।

इसके बाद रास्ते में भी कई जगह पायलट के काफिले को रोका जाता रहा। आखिर में मुरादाबाद में सचिन पायलट को आगे जाने से रोक दिया और धारा 144 के उल्लंघन में उन्हें हिरासत में लिया गया है। उनके साथ पार्टी के नेता आचार्य प्रमोद भी हैं। सचिन पायलट और आचार्य प्रमोद कृष्णम को मुरादाबाद गेस्ट हाउस में रखा गया है।

नवरात्र में नहीं होंगे शीला माता के दर्शन
इस बार नवरात्र पर जयपुर के प्रसिद्ध मंदिर आमेर स्थित शिला माता मंदिर में श्रद्धालु दर्शन नहीं कर सकेंगे। मंदिर कमेटी ने राज्य सरकार की कोविड गाइड लाइन के चलते यह फैसला लिया है। 2020 के बाद यह लगातार चौथा मौका है, जब नवरात्रा में श्रद्धालु मंदिर जाकर माता के दर्शन नहीं कर सकेंगे।

पैदल मार्च कर लखीमपुर खीरी जाएंगे कांग्रेस नेता
उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी की घटना के खिलाफ राजस्थान कांग्रेस के नेता कल से फिर सड़कों पर उतरेंगे। कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा ने कल 11 बजे भरतपुर जिले के ऊंचा नगला बॉर्डर से लखीमपुर खीरी तक पैदल मार्च निकालने की घोषणा की है। कांग्रेस नेताओं और कार्यकर्ताओं को कल 11 बजे से पहले भरतपुर के ऊंचा नगला बॉर्डर पर पहुंचने को कहा है। कांग्रेस ने इस पैदल मार्च की तैयारियां शुरू कर दी हैं। भरतपुर के आसपास के नेताओं को इस पैदल मार्च की जिम्मेदारी दी गई है।

रीट मामले में हाईकोर्ट ने सरकार से जवाब मांगा
रीट परीक्षा 2021 की जांच सीबीआई से करवाने पर राजस्थान हाईकोर्ट ने राजस्थान सरकार को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है। रीट पेपर आउट और नकल के मामले में राजस्थान सरकार की ओर से निष्पक्ष जांच नहीं करने को लेकर लगी याचिका पर कोर्ट ने नोटिस जारी किए हैं। साथ ही याचिका की कॉपी एएजी और बोर्ड के वकील को भी दिलवाई गई है। जस्टिस इंद्रजीत सिंह की कोर्ट ने मधु कुमार नागर और अन्य की ओर से दायर याचिका पर सुनवाई करते हुए ये नोटिस जारी किए हैं। याचिकाकर्ता की ओर से एडवोकेट रामप्रताप सैनी ने पैरवी की है। याचिका में हाईकोर्ट से केस की जांच सीबीआई से करवाने के साथ ही जांच में पेपर लीक पाए जाने या गड़बड़ी होना पाए जाने पर रीट परीक्षा दोबारा करवाने की मांग की गई है।

पायलट का ट्वीट- किसान-किसानी देश की रीढ़, इस पर प्रहार स्वीकार नहीं
सचिन पायलट ने दिल्ली से लखीमपुर रवाना होने के बाद ट्वीट कर बीजेपी पर निशाना साधा। पायलट ने ट्वीट कर लिखा, आज सीतापुर, लखीमपुर जा रहे हैं। हम किसानों के पीड़ित परिवारों से मिलकर उनका दर्द बांटना चाहते हैं। भाजपा ने हिंसक रवैया अपनाकर इस देश की लोकतांत्रिक परंपरा को तोड़ने का प्रयास किया है। किसान-किसानी देश की रीढ़ की हड्डी है। इस पर होने वाला प्रहार स्वीकार नहीं है।

रीट के खिलाफ जयपुर में छात्रों का अनोखा प्रदर्शन
रीट मामले में बेरोजगार छात्रों के खिलाफ हुई कार्रवाई को लेकर टाई पहनकर पढ़े लिखे छात्र विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। छात्र हथकड़ी बांध कर विरोध जता रहे हैं। फावड़ा-गैती और कुदाली के साथ भी प्रदर्शन किया जा रहा है। प्रदर्शन के दौरान शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा का पुतला दहन किया जाएगा।

राजस्थान अनिवार्य विवाह पंजीकरण अधिनियम (संशोधित) 2021 के मामला
राजस्थान अनिवार्य विवाह पंजीकरण अधिनियम (संशोधित) 2021 के मामले में राजस्थान उच्च न्यायालय ने केंद्र सरकार और राज्य सरकार को कारण बताओ नोटिस जारी किया है। एडवोकेट प्रकाश ठाकुरिया ने जनहित याचिका दायर की है। एडवोकेट प्रकाश ठाकुरिया की ओर से वकील अमितोष पारीक ने पैरवी की। जस्टिस सबीना और जस्टिस मनोज कुमार व्यास की खंडपीठ ने आदेश दिए। केस की अगली सुनवाई 22 नवंबर को तय की गई है।

सचिन पायलट सीतापुर के लिए रवाना हुए
पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट दो दिन का टोंक दौरा बीच में छोड़कर आज सुबह दिल्ली पहुंच गए। सचिन पायलट दिल्ली से सड़क मार्ग से सीतापुर जा रहे हैं। पायलट दिल्ली एयरपोर्ट से कांग्रेस नेता आचार्य प्रमोद कृष्णम के साथ सीतापुर रवाना हो गए। दोनों नेता गाजीपुर बॉर्डर होते हुए सीतापुर जा रहे हैं। आचार्य प्रमोद कृष्णम प्रियंका गांधी के नजदीकी होने के साथ सचिन पायलट के मुखर समर्थक हैं।

हाईटेंशन लाइन की चपेट में आए दो बाइक सवार, मौत
सिरोही जिले के माउंट आबू में सुबह 4.15 बजे 11 केवी लाइन की चपेट में आने से दो लोग जिंदा जल गए। दोनों की मौत हो गई। शहर में सीआरपीएफ तिराहे की ओर जाने वाले मार्ग पर चर्च के पास में 11 केवी की लाइन अचानक से टूट कर गिर गई। इससे दो युवक बाइक सहित जलकर खाक हो गए। सूचना मिलने पर लाइन को बंद करवाया गया और आग पर काबू पाया।

RPVT का रिजल्ट आज, NEET के रिजल्ट के बाद होगी काउंसलिंग
राजस्थान के वेटरनरी कॉलेज में एडमिशन के लिए 19 सितंबर को आयोजित राजस्थान प्री वेटरनरी टेस्ट RPVT का रिजल्ट बुधवार को घोषित होगा। दोपहर तक वेटरनरी यूनिवर्सिटी की वेबसाइट www.rajuvas.org पर लॉगिन आईडी और पासवर्ड से डाउनलोड कर सकते हैं। RPVT का रिजल्ट भले ही बुधवार को जारी हो रहा है, लेकिन काउंसलिंग अभी नहीं होगी। दरअसल, पहले NEET का रिजल्ट आएगा और उसके बाद काउंसलिंग होगी। स्टूडेंट्स की पहली पसंद मेडिकल कॉलेज होती है, ऐसे में मेडिकल कॉलेज में एडमिशन पूरे होने के बाद वेटरनरी कॉलेज की काउंसिलिंग शुरू होगी।

9 महीने में 205 रुपए महंगी हुई रसाई गैस
देश में लगातार बढ़ते पेट्रोल-डीजल की कीमतों और अन्य खाद्य पदार्थों की कीमतों के बीच जनता को एक और महंगाई की मार पड़ी है। पेट्रोलियम कंपनियों (IOCL, HPCL, BPCL) ने आज घरेलू रसोई गैस की कीमतों में 15 रुपए का इजाफा किया है। इससे पहले एक सितंबर को कंपनियों ने रसोई गैस की कीमतों में 25 रुपए की बढ़ोतरी की थी। साल 2021 में रसोई गैस की कीमतों में यह 8वीं बार गैस सिलेंडर के दाम बढ़े हैं। इस साल के शुरू से अंत तक अब तक कुल 205.50 रुपए बढ़ गए। साल की जब शुरूआत हुई थी, तब रसोई गैस की कीमत 698 रुपए थी। जिसमें अब 29 फीसदी से ज्यादा की बढ़ोतरी हो गई।

दुष्कर्म केस में 4 दिन ट्रायल, पांचवें दिन कठोर सजा
जयपुर के कोटखावदा इलाके में 26 सितंबर को 9 साल की बच्ची का अपहरण कर दुष्कर्म करने मामले में पुलिस, न्यायपालिका ने पूरे देश में न्याय की बेमिसाल नजीर पेश की। वारदात के बाद पुलिस ने महज 13 घंटे में आरोपी को गिरफ्तार कर अगले दिन 6 घंटे के भीतर दुष्कर्म के आरोपी के खिलाफ कोर्ट में चालान भी पेश कर दिया। इसके बाद ऑफिसर केस स्कीम में लेकर 29 सितंबर को गवाहों को समन जारी कर पोक्सो कोर्ट में ट्रायल शुरु किया गया। इसमें चार दिन ट्रायल चला। 19 गवाहों के बयान करवाए गए। दुष्कर्म की पीड़िता बच्ची जयपुरिया अस्पताल में भर्ती होने से कोर्ट पहुंचने की स्थिति में नहीं थी। ऐसे में न्यायालय ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए ही बयान दर्ज किए। पांचवें दिन सजा पर बहस हुई। शाम 5 अक्टूबर को शाम 4 बजे कोर्ट ने आरोपी को 20 साल के कठोर कारावास और 2 लाख रुपए के जुर्माना की सजा सुना दी।

खबरें और भी हैं...