• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Sachin Pilot And Pramod Krishnam Were Not Allowed To Go To Lakhimpur To Meet Farmers, After Being Detained Overnight, Were Taken To Delhi UP Border

पायलट यूपी पुलिस की हिरासत से रिहा:सचिन पायलट और प्रमोद कृष्णम को लखीमपुर खीरी नहीं जाने दिया, दिल्ली-यूपी बॉर्डर ले जाकर छोड़ा

जयपुर2 महीने पहले
यह फोटो कल मुरादाबाद में पुलिस हिरासत में लेने के बाद गेस्ट हाउस का है।

सचिन पायलट और आचार्य प्रमोद कृष्णम को यूपी पूलिस ने रात भर हिरासत में रखने के बाद छोड़ दिया है। सचिन पायलट को यूपी पुलिस ने अलसुबह दिल्ली-यूपी बॉर्डर पर लाकर छोड़ दिया। पायलट और आचार्य प्रमोद को किसानों से मिलने लखीमपुर खीरी नहीं जाने दिया।

सचिन पायलट और आचार्य प्रमोद कृष्णम को बुधवार शाम मुरादाबाद में यूपी पुलिस ने धारा 144 तोड़ने के आरोप में हिरासत में लिया था। दोनों नेताओं को हिरासत में लेने के बाद गेस्ट हाउस में रखा गया। फिर देर रात मुरादाबाद से लेकर दिल्ली बॉर्डर रवाना हो गए।

सचिन पायलट यूपी पुलिस की हिरासत से रिहा होने के बाद दिल्ली पहुंच गए हैं। पायलट ​कल आचार्य प्रमोद के साथ गाजीपुर बॉर्डर होते हुए लखीमपुर खीरी के लिए रवाना हुए थे। पहले उन्हें गाजीपुर बॉर्डर पर ट्रक लगाकर रोका था, बाद में कार्यकर्ताओं की नारेबाजी के बाद पुलिस ने उन्हें जाने दिया था। मुरादाबाद में सचिन पायलट को आगे जाने से रोक कर हिरासत में ले लिया था।

टोंक दौरा बीच में छोड़कर कल सुबह ही दिल्ली गए, फिर लखीमपुर रवाना हुए
सचिन पायलट दो दिन का टोंक दौरा बीच में छोड़कर कल सुबह दिल्ली पहुंचे थे। वे दिल्ली एयरपोर्ट से सड़क मार्ग से कांग्रेस नेता आचार्य प्रमोद कृष्णम के साथ सीतापुर रवाना हुए थे। पहले सचिन पायलट राहुल गांधी के साथ लखीमपुर जाने वाले 5 नेताओं के प्रतिनिधिमंडल में थे। धारा 144 का हवाला देते हुए राहुल गांधी ने केवल पंजाब सीएम चरणजीत सिंह चन्नी, छत्तीसगढ़ सीएम भूपेश बघेल को साथ ले जाने की रणनीति बनाई। ऐन वक्त पर हुए इस बदलाव के कारण सचिन पायलट ने सड़क मार्ग से लखीमपुर खीरी जाने का फैसला किया।

पायलट का यूपी सरकार पर निशाना
सचिन पायलट ने ट्वीट कर यूपी सरकार और बीजेपी को निशाने पर लिया। पायलट ने लिखा- लोकतंत्र व संवैधानिक मूल्यों को कुचलकर उत्तर प्रदेश की भाजपा सरकार ने देश की लोकतांत्रिक व्यवस्था को आहत किया है। सत्याग्रह की राह पर चलकर हम न्याय की आवाज उठाते रहेंगे।

खबरें और भी हैं...