• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Said 100 Kilometers Away From The House, Not Even Water, Living Like A King With Nothing, A Song Written For Mama Khan's Daughter Too

दलेर मेहंदी का पहला राजस्थानी सॉन्ग जैसलमेर में लांच:बोले- मामे खान की बेटी की शादी के लिए मैंने खुद यह गाना लिखा; यहां पानी और बिजली नहीं, फिर भी लोगों के चेहरे पर मुस्कान रहती है

जैैसलमेरएक वर्ष पहले
मामे खान और दलेर मेहंदी।

पंजाबी संगीत के सम्राट दलेर मेहंदी अपने परिवार के साथ इन दिनों जैसलमेर में हैं। वे यहां राजस्थान के लोक कलाकार मामे खान की बेटी की शादी में शामिल होने के लिए परिवार के साथ आए हैं। सोमवार को वे यहां के ऐतिहासिक स्थलों को भी देखा। उन्होंने दैनिक भास्कर से कहा- मैं पहली बार जैसलमेर आया हूं। जैसलमेर एक शांत व सुकून देने वाली जगह है। आज के भाग-दौड़ भरे जीवन में प्रत्येक व्यक्ति को तनाव मुक्त होने के लिए एक बार जैसलमेर जरूर आना चाहिए।

जैसलमेर पहुंचने के दौरान अपने फैंस के साथ दलेर मेहंदी ने फोटो शूट करवाया।
जैसलमेर पहुंचने के दौरान अपने फैंस के साथ दलेर मेहंदी ने फोटो शूट करवाया।

दलेर मेहंदी ने यहां के लोगों का जिक्र करते हुए कहा- यहां लोग 100-100 किलोमीटर दूर रहते हैं। सुविधा के नाम भी कुछ नहीं है और न ही यहां लाइट व पानी की व्यवस्था है। इसके बाद भी उनके चेहरे पर हमेशा मुस्कान रहती है। कुछ न होते हुए भी राजा की तरह जिंदगी जीने की सीख देते हैं जैसलमेर के लोग। जैसलमेर के लोक कलाकारों के सवाल पर उन्होंने कहा- यहां के लोक कलाकार बहुत उम्दा गायकी के हैं। उन्होंने पद्मश्री अनवर खान की तारीफ की और बताया कि मैंने भी उनके साथ रागों पर आधारित गीतों की प्रस्तुतियां दीं।

जैसलमेर आने पर दलेर मेहंदी के परिवार का मामे खान ने स्वागत किया।
जैसलमेर आने पर दलेर मेहंदी के परिवार का मामे खान ने स्वागत किया।

राजस्थानी लोक कलाकारों की तारीफ की

जाने-माने पंजाबी गायक दलेर मेहंदी ने अपना राजस्थानी सॉन्ग 'आओ जी' रिलीज किया है। उन्होंने बताया कि यह सॉन्ग रईशा खान (लोक कलाकार मामे खान की बेटी) को डेडिकेट किया है। उन्होंने बताया कि आओ जी गाना उन्होंने खुद लिखा है और उन्होंने ही कंपोज किया है। जैसलमेर के लोक कलाकार पद्मश्री अनवर खान व अंतरराष्ट्रीय कलाकार गाजी की गायकी की तारीफ की।

खबरें और भी हैं...