राजस्थान ने 'गोधरा कांड' होने से बचा लिया:सुप्रिया बोलीं- गहलोत ने लिया एक्शन, मोदी 2002 में नहीं बचा पाए

जयपुर5 महीने पहले
कांग्रेस प्रवक्ता सुप्रीया बोलीं-राजस्थान ने गोधरा होने से बचा लिया

कांग्रेस की राष्ट्रीय प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत ने गहलोत सरकार की तारीफ करते हुए कहा कि उदयपुर हत्याकांड के बाद जिस तरह से एक्शन लिया, उससे राजस्थान ने एक गोधरा होने से बचा लिया। जो मोदी जी 2002 में नहीं बचा पाए थे। उन्होंने बीजेपी पर राहुल गांधी के खिलाफ दुष्प्रचार करने के आरोप लगाए। राहुल गांधी के वायनाड कार्यालय में तोड़फोड़ को लेकर दिए बयान का वीडियो उदयपुर हिंसा से जोड़कर सोशल मीडिया पर पोस्ट करने पर उन्होंने बीजेपी के जयपुर ग्रामीण सांसद राज्यवर्धन सिंह राठौड़ पर हमला बोला।

श्रीनेत ने कहा- बीजेपी के नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया हैं जो अशोक गहलोत की प्रशंसा करते हैं कि उन्होंने कैसे एक्शन लिया। मुझसे पूछिए तो राजस्थान ने एक गोधरा होने से बचा लिया। जो मोदी जी 2002 में नहीं बचा पाए थे। बीजेपी के नेता प्रतिपक्ष तो तारीफ करते हैं लेकिन दूसरी ओर सांसद और पूर्व मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौड़ हिंसा भड़काने की बातें करते हैं। झूठ बोलते हैं। इनका मकसद नफरत भड़काना है। उस नफरत की आग में अपनी रोटियां सेकना है। लेकिन अब यह नहीं सहा जाएगा। खास तौर से अगर बीजेपी ने हमारे नेता राहुल गांधी के खिलाफ इस तरह का दुष्प्रचार किया, तो उसके परिणाम भुगतने पड़ेंगे।

जयपुर ग्रामीण सीट से बीजेपी सांसद और राष्ट्रीय प्रवक्ता राज्यवर्द्धन सिंह राठौड़।
जयपुर ग्रामीण सीट से बीजेपी सांसद और राष्ट्रीय प्रवक्ता राज्यवर्द्धन सिंह राठौड़।

सुप्रिया श्रीनेत ने कहा कि आज देश का माहौल इतना सेंसिटिव है। इतनी धर्मांधता के चलते क्या हो रहा है, हम सब देख रहे हैं। वहीं, बीजेपी नेता राहुल गांधी का नाम ऐसी घटनाओं के साथ झूठा नाम जोड़कर उनके खिलाफ एक फर्जी वीडियो ट्वीट कर रहे हैं। ये काम भी चुने हुए सांसद हैं और एक मंत्री रह चुके नेता कर रहे हैं। यह एक षड़यंत्र है। आप एक बहुत बड़ी साजिश का हिस्सा हैं। क्योंकि आपने ट्वीट तो डिलीट कर दिया लेकिन व्हाट्सएप पर उस फर्जीवाड़े के खिलाफ मैसेज अभी भी चल रहे हैं।

उन्होंने कहा राहुल गांधी होना आसान नहीं है। एक 8 साल का लड़का जब घर वापस आया तो अपनी दादी को आतंकी की गोलियों से छलनी देखा था। एक नौजवान देश में वापस आया तो अपने पिता के शरीर के अंग नहीं मिल रहे थे। उन्होंने आतंकियों का सामना किया है।

राज्यवर्द्धन बोले- माफी तो राहुल गांधी और कांग्रेस नेताओं को मांगनी होगी।
राज्यवर्द्धन बोले- माफी तो राहुल गांधी और कांग्रेस नेताओं को मांगनी होगी।

ये है मामला
दरअसल, राहुल गांधी की ओर से उनके वायनाड कार्यालय में हुई तोड़फोड़ पर दिए बयान को उदयपुर में कन्हैयालाल हत्याकांड के बाद हिंसा से जोड़ते हुए फेक वीडियो शेयर करने पर बीजेपी सांसद और राष्ट्रीय प्रवक्ता राज्यवर्धन सिंह राठौड़ घिर गए हैं। कांग्रेस और एनएसयूआई नेताओं ने जयपुर में राठौड़ के खिलाफ जहां एफआईआर दर्ज कराई है। वहीं कांग्रेस पार्टी राष्ट्रीय स्तर पर इसे मुद्दा बनाकर बीजेपी को घेरने में जुट गई है। कांग्रेस की ओर से राज्यवर्धन सिंह राठौड़ से माफी की मांग की गई है।

यह कहा था राहुल गांधी ने
केरल के वायनाड में राहुल गांधी के सांसद ऑफिस में हमले के आरोपियों को लेकर उन्होने कहा था- बच्चे हैं, गलती हो जाती है। राहुल गांधी के इसी बयान को कुछ मीडिया हाउस पर उदयपुर से जोड़कर दिखाया गया था। इसका एक वीडियो भी वायरल हुआ था जिसे राज्यवर्धन सिंह राठौड़ ने अपने ट्विटर हैंडल से रीट्वीट किया था।