भास्कर एक्सक्लूसिवराजस्थान रॉयल्स ने जयपुर में 68% मैच जीते:14 में से 5 मुकाबले सवाई मान सिंह स्टेडियम में होंगे, बटलर-सैमसन को रास आएगी होम पिच

जयपुर2 महीने पहलेलेखक: निखिल शर्मा
  • कॉपी लिंक

31 मार्च से IPL 2023 का रोमांच शुरू हो जाएगा। IPL का यह 16वां सीजन होगा। इस सीजन में भी पिछली बार की फाइनलिस्ट टीम राजस्थान रॉयल्स पर सभी की निगाहें होंगी। पिछले साल ऑरेंज और पर्पल कैप हासिल करने वाले राजस्थान के दोनों खिलाड़ी जॉस बटलर और युजवेंद्र चहल भी इस साल टीम का हिस्सा होंगे।

वहीं इस बार ये भी खास होगा कि राजस्थान रॉयल्स अपने पांच मुकाबले होमग्राउंड जयपुर में खेलेगी। राजस्थान रॉयल्स की टीम के कई खिलाड़ी जयपुर पहुंच चुके हैं। 30 मार्च तक रॉयल्स के तमाम खिलाड़ी जयपुर में ही प्रैक्टिस करेंगे। 2 अप्रैल को सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ राजस्थान का पहला मुकाबला होगा, जबकि 19 अप्रैल को लखनऊ सुपरजायंट्स के खिलाफ जयपुर में पहला मैच होगा।

इस स्टोरी में हम जानते हैं राजस्थान रॉयल्स का अबतक का सफर, उनके रिकॉड्‌र्स, इस सीजन की चुनौतियां और पाॅसिबल प्लेइंग इलेवन कॉम्बिनेशन...

आईपीएल 2023 खास क्यों है?
2019 के बाद इस साल पहली बार होगा जब देशभर में अलग-अलग राज्यों के मैदानों में आईपीएल के मुकाबले खेले जाएंगे। 2020 और 2021 में कोरोना के चलते UAE में और फिर 2022 में देश के सिर्फ 5 शहरों में ही IPL के मुकाबले खेले गए थे।

लेकिन, इस बार देश के 12 अलग-अलग शहरों में IPL के मुकाबले होंगे। इनमें टीमों के अपने होम ग्राउंड भी होंगे। राजस्थान रॉयल्स भी अपने 14 में से 5 मुकाबले जयपुर के SMS यानी सवाई मान सिंह स्टेडियम में खेलेगी और दो मुकाबले राजस्थान रॉयल्स गुवाहाटी में खेलेगी, बाकी के 7 मुकाबले अवे यानी सामने वाली टीम के होम ग्राउंड पर होंगे।

SMS स्टेडियम की पिच होगी बल्लेबाजों के लिए स्वर्ग
IPL के रोमांच को बनाए रखने के लिए SMS स्टेडियम की पिच को बल्लेबाजों के अनुकूल तैयार किया जा रहा है। स्टेडियम में कुल 9 पिच हैं, जिनमें से 6 पिच टीमों की प्रैक्टिस के लिए हैं। 3 पिचों पर राजस्थान रॉयल्स के मैच होंगे।

माना जा रहा है कि पिच को कुछ इस तरह तैयार किया जाएगा कि यहां बल्लेबाजों को मदद मिलेगी। पिच पर गेंद बल्ले तक आसानी से आएगी। हालांकि गेंदबाजों को भी यहां अच्छा बाउंस मिलेगा। पिच पर घास भी छोड़ी जाएगी ताकि थोड़ी मदद तेज गेंदबाजों को भी मिले।

राजस्थान रॉयल्स की टीम के कई खिलाड़ी जयपुर पहुंच गए। 30 मार्च तक राजस्थान रॉयल्स के तमाम खिलाड़ी जयपुर में प्रैक्टिस करेंगे।
राजस्थान रॉयल्स की टीम के कई खिलाड़ी जयपुर पहुंच गए। 30 मार्च तक राजस्थान रॉयल्स के तमाम खिलाड़ी जयपुर में प्रैक्टिस करेंगे।

75 यार्ड की बाउंड्रीज कराएंगी मेहनत
जयपुर के मुकाबलों में बड़े स्कोर देखने को तो मिलेंगे, मगर यहां की लंबी बाउंड्री काफी मेहनत कराएगी। जयपुर का एसएमएस स्टेडियम देश के उन मैदानों में गिना जाता है, जहां लंबी बाउंड्री है। यहां मैदान के चारों ओर लगभग 75 यार्ड की बाउंड्री है।

फरवरी के बाद से यहां कोई मुकाबले नहीं हुए हैं। ऐसे में ग्राउंड और पिच पूरी तरह फ्रेश हैं। एसएमएस स्टेडियम में 22500 लोगों के बैठने की क्षमता है। इसके अलावा राजस्थान रॉयल्स अपनी ओर से सीटों में कुछ और अस्थाई बढ़ोतरी करा रही है।

जयपुर में राजस्थान ने 47 में से 32 मुकाबले जीते
रॉयल्स के लिए जयपुर में खेलना इसलिए खास है क्योंकि राजस्थान रॉयल्य का जयपुर में परफॉरमेंस अच्छा रहा है। यहां रॉयल्स ने 68 प्रतिशत से ज्यादा मुकाबले जीते हैं। ऐसे में पिछली बार की फाइनलिस्ट रॉयल्स के लिए माना जा रहा है कि वह जयपुर में 5 में से कम से कम 4 मुकाबले जीत सकती है।

पहले आईपीएल 2008 की चैंपियन रॉयल्स ने SMS स्टेडियम में अब तक कुल 47 मुकाबले खेले हैं, इनमें से 32 में उन्हें जीत मिली है। 2008 और 2013 में यहां हुए सभी मुकाबलों में रॉयल्स ने जीत दर्ज की थी।

जयपुर में RCB, हैदराबाद और चेन्नई के खिलाफ रॉयल्स आगे
जयपुर में राजस्थान के पांच मैच होने हैं। ये मुकाबले लखनऊ सुपरजायंटस, चेन्नई सुपरकिंग्स, गुजरात टाइटंस, सनराइजर्स हैदराबाद और रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के साथ होंगे। लखनऊ और गुजरात के नई टीमें होने के चलते जयपुर में पहली बार रॉयल्स इनसे भिड़ेगी। मगर इनके अलावा बाकी टीमों के खिलाफ रॉयल्स का परफॉरमेंस जयपुर में बेहतर है।

  • रॉयल्स ने आरसीबी के खिलाफ यहां 7 मुकाबले खेले हैं, जिनमें से 4 में जीत, 3 में हार मिली है।
  • चेन्नई के खिलाफ यहां 6 मुकाबले खेले गए हैं, जिनमें से 3 में जीत, 3 में हार मिली है।
  • हैदराबाद के खिलाफ यहां 3 मुकाबले खेले गए हैं, जिनमें से 2 में जीत और 1 में हार मिली है।

SMS में 68 प्रतिशत मैच टारगेट चेज वाली टीम जीतती है
एसएमएस स्टेडियम में रनों का पीछा करना टीमों को रास आता है। यही वजह है कि यहां टीमें ज्यादातर टॉस के बाद बॉलिंग चुनती हैं। जयपुर में अब तक हुए मैचों में 47 में से 32 मैच टीमों ने चेज करते हुए जीते हैं। वहीं फर्स्ट बैटिंग करते हुए सिर्फ 15 मुकाबले जीते गए हैं। इसके अलावा 47 में से 25 मुकाबले टॉस जीतने वाली टीम जीती है, वहीं 22 मुकाबले टॉस हारने वाली टीम ने जीते हैं।

रहाणे जयपुर में शतक लगाने वाले एकमात्र बल्लेबाज
जयपुर में बल्लेबाज के तौर पर अंजिक्य रहाणे सर्वश्रेष्ठ रहे हैं। उन्होंने जयपुर में राजस्थान रॉयल्स की ओर से खेलते हुए 36 मैच में 1100 रन बनाए हैं। रहाणे एकमात्र बल्लेबाज हैं, जिन्होंने जयपुर में शतक(105 रन) लगाया है। उनके अलावा यहां शेन वाटसन 98 और जॉस बटलर 95 रन की पारी खेल चुके हैं। वहीं गेंदबाजों में यहां सोहेल तनवीर, जेम्स फॉकनर, एस गोपाल, के कूपर सफल रहे हैं।

रॉयल्स 50 प्रतिशत मैच जीतने वाली चुनिंदा टीमों में
राजस्थान रॉयल्स भले ही अब तक सिर्फ 1 बार आईपीएल जीत सकी हो, लेकिन रॉयल्स उन चुनिंदा टीमों में है, जिसने 3 या उससे ज्यादा सीजन खेलते हुए आईपीएल में 50 प्रतिशत या उससे ज्यादा मैच जीते हैं। रॉयल्स ने आईपीएल के 13 सीजन में 192 मुकाबले खेले हैं।

इनमें से 96 में जीत दर्ज की है। जबकि 94 में हार और 2 मुकाबले बेनतीजा रहे हैं। राजस्थान रॉयल्स का जीत प्रतिशत 50.52 प्रतिशत है। रॉयल्स के अलावा केकेआर 51.56 प्रतिशत, मुंबई इंडियंस 56.71 प्रतिशत और चेन्नई सुपरकिंग्स 58.41 प्रतिशत मुकाबले जीती है।

1 बार चैंपियन, 3 बार की सेमीफाइनलिस्ट है रॉयल्स
राजस्थान रॉयल्स 2008 में आईपीएल की पहली चैंपियन बनी थी। वहीं राजस्थान टीम पिछले आईपीएल में फाइनल में पहुंची थी। जहां गुजरात टाइटंस ने उसे मात दी थी। इसके अलावा 2013, 2015 और 2018 में रॉयल्स प्लेऑफ में पहुंची है। 2013 में तीसरे और 2015-2018 में चौथे स्थान पर रॉयल्स रही थी। मुंबई, चेन्नई और केकेआर के बाद रॉयल्स सबसे सफल टीम रही है।

रॉयल्स ने 6 कप्तान आजमाए, वार्न सबसे सफल
राजस्थान रॉयल्स के लिए 2008 से अब तक हुए तमाम सीजन में 6 खिलाड़ियों ने कप्तानी की है। इनमें शेन वार्न, राहुल द्रविड़, शेन वाटसन, स्टीव स्मिथ, अजिंक्य रहाणे और संजू सैमसन शामिल हैं। संजू पिछले दो सीजन से कप्तानी कर रहे हैं।

राजस्थान के सबसे सफल कप्तान शेन वार्न रहे हैं, जिन्होंने 2008 में रॉयल्स को आईपीएल का खिताब जिताया था। हालांकि सिर्फ मैच के रिजल्ट देखे जाएं तो स्मिथ का प्रदर्शन भी अच्छा रहा है।

धोनी के करियर की सर्वश्रेष्ठ पारी जयपुर में ही आई थी
जयपुर का एसएमएस स्टेडियम महेंद्र सिंह धोनी की यादगार पारी के लिए जाना जाता है। 31 अक्टूबर 2005 को श्रीलंका के खिलाफ 7 मैचों की वनडे सीरीज के तीसरे मैच में धोनी ने तीसरे नंबर पर उतरते हुए 145 गेंदों में 183 रन की शानदार पारी खेलकर भारत को जीत दिलाई थी। धोनी उस मैच में नॉटआउट रहे थे और उन्होंने छक्कों की बरसात की थी। यह धोनी का ऑल टाइम बेस्ट वनडे स्कोर रहा।

हमारी ओर से शानदार ग्राउंड मुहैया करवाया गया है : आरसीए सेक्रेटरी
राजस्थान क्रिकेट एसोसिएशन के सचिव बीएस सामोता ने बताया कि ये हमारे लिए अच्छी बात है कि 4 साल के बाद राजस्थान में आईपीएल मुकाबले हो रहे हैं। हमारी ओर से रॉयल्स को अच्छी से अच्छी कंडीशन के साथ ग्राउंड मुहैया करवाया गया है। हमारी पिच अच्छी है। हमने रॉयल्स को भी कहा है कि वो भी जितना अच्छे से हो सके इसे प्रजेंट करें ताकि हमारे एसमएस स्टेडियम में मैच देखने आने वाले दर्शकों को शानदार एक्सपीरियंस हो।

बटलर, संजू और हेटमायर को रास आएगी पिच
जयपुर की पिच राजस्थान के बल्लेबाजों को खास रास आने वाली है। राजस्थान में जॉस बटलर, कप्तान संजू सैमसन और शिमरन हैटमायर जैसे पावर हिटर हैं। तीनों बल्लेबाज लंबे छक्के लगाने की क्षमता रखते हैं। ऐसे में इन्हें लंबी बाउंड्रीज भी ज्यादा परेशान नहीं कर पाएगी। वहीं जयपुर के शानदार बाउंस और तेज आउटफील्ड पर राजस्थान के ये तीनों बल्लेबाज खूब रन बना सकते हैं।

रॉयल्स की टीम में नहीं दिखेंगे बदलाव
राजस्थान पिछले आईपीएल की टॉप-2 टीमों में थी। राजस्थान के ही दोनों खिलाड़ियों को ऑरेंज और पर्पल कैप मिली थी। ऐसे में इस सीजन में रॉयल्स की प्लेइंग इलेवन में कोई खास बदलाव देखने को मिले इसकी संभावनाएं काफी कम है। रॉयल्स में ज्यादातर खिलाड़ी वही देखने को मिलेंगे जो पिछले साल दिखे थे। वहीं उसी टीम कॉम्बिनेशन के साथ रॉयल्स की टीम उतरती हुई दिखेगी।

बटलर, संजू और पड्‌डीकल से बल्लेबाजी मजबूत
टीम इस साल भी जॉस बटलर और यशस्वी जायसवाल के साथ ओपनिंग करा सकती है। इसके बाद देवदत्त पड्‌डीकल, संजू सैमसन, शिमरन हैटमायर और रियान पराग के रूप में बैटिंग ऑर्डर रहेगा। वहीं ट्रेंट बोल्ट, प्रसिद्ध कृष्णा और युजवेंद्र चहल टीम के प्रमुख गेंदबाज रहेंगे। जबकि एक बार फिर आर अश्विन टीम में ऑलराउंडर की भूमिका में नजर आएंगे।

होल्डर के आने से मिलेगी मजबूत
राजस्थान रॉयल्स ने इस बार बॉलिंग ऑलराउंडर जैसन होल्डर को टीम में शामिल किया है। ऐसे में इस साल वे राजस्थान के लिए चौथे ओवरसीज प्लेयर हो सकते हैं। होल्डर अच्छी गेंदबाजी करने के साथ-साथ बल्लेबाज भी कर लेते हैं। वे स्लॉग हिटिंग के लिए जाने जाते हैं। पिछले आईपीएल में हैदराबाद के लिए खेलते हुए होल्डर ने 14 विकेट लिए थे। ऐसे में होल्डर के आने से रॉयल्स को एक अतिरिक्त ऑलराउंडर भी मिलेगा।

संजू सैमसन राजस्थान की ओर से सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज हैं। उन्होंने 3526 रन आईपीएल में बनाए हैं।
संजू सैमसन राजस्थान की ओर से सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज हैं। उन्होंने 3526 रन आईपीएल में बनाए हैं।

संजू सबसे ज्यादा रन और छक्के मारने वाले बैटर
राजस्थान रॉयल्स की ओर से खेलने वाले खिलाड़ियों की बात की जाए तो कप्तान संजू सैमसन और ओपनर जॉस बटलर सबसे सफल खिलाड़ियों में रहे हैं। संजू सैमसन राजस्थान की ओर से सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज हैं। उन्होंने 3526 रन आईपीएल में बनाए हैं। राजस्थान की ओर से सबसे ज्यादा 17 हाफ सेंचुरी भी सैमसन ने ही मारी है। रॉयल्स की ओर से सबसे ज्यादा 158 छक्के भी सैमसन ने ही लगाए हैं।

बटलर के पांच शतक, कोहली के बराबर
वहीं पिछले साल के ऑरेंज कैप विनर जॉस बटलर शतकों के मामले में सबसे आगे हैं। वे आईपीएल में 5 शतक लगा चुके हैं। उनसे आगे सिर्फ क्रिस गेल हैं। जबकि विराट कोहली उनके बराबर है। क्रिस गेल के आईपीएल में 6 शतक हैं जबकि विराट के 5 शतक। राजस्थान की ओर से सबसे तेज शतक बनाने का रिकॉर्ड युसूफ पठान के नाम है। जिन्होंने 37 गेंदों में शतक बनाया हुआ है।

जॉस बटलर आईपीएल में 5 शतक लगा चुके हैं। उनसे आगे सिर्फ क्रिस गेल हैं।
जॉस बटलर आईपीएल में 5 शतक लगा चुके हैं। उनसे आगे सिर्फ क्रिस गेल हैं।

इस बार भी खिताब की दावेदार है रॉयल्स
पिछले साल की फाइनलिस्ट राजस्थान रॉयल्स इस बार भी खिताब की प्रबल दावेदार है। टीम का कॉम्बिनेशन और फॉर्म इसका सबसे बड़ा कारण है। टीम में ऑलराउंडर्स जुड़ने से टीम कॉम्बिनेशन और भी अच्छा हो गया है। इस साल भी रॉयल्स खिताब की प्रबल दावेदारों में है। रॉयल्स प्लेऑफ के लिए तो काफी मजबूत दावेदारी पेश कर रही है।

रॉयल्स की पॉसिबल प्लेइंग इलेवन : संजू सैमसन, जॉस बटलर, यशस्वी जायसवाल, देवदत्त पड्‌डीकल, शिमरन हैटमायर, रियान पराग, जैसन होल्डर, रविचंद्रन अश्चिन, ट्रेंट बोल्ट, प्रसिद्ध कृष्णा, युजवेंद्र चहल।

संजू सैमसन ने ग्राउंड स्टाफ के लिए भिजवाई टी-शर्ट
आईपीएल शुरू होने से पहले संजू सैमसन ने एसएमएस स्टेडियम के ग्राउंड स्टाफ के लिए टी-शर्ट भिजवाई हैं। सैमसन ने पिच और ग्रांउड को मैंटेन करने वाले 10 स्टाफ के लिए रॉयल्स की टी-शर्ट भिजवाई हैं। माना जा रहा है कि आईपीएल मुकाबलों के दौरान ये स्टाफ इन्हीं टी-शर्टस के साथ मैदान पर रहेगा।

शिमरन हेटमायर सहित राजस्थान रॉयल्स के कई खिलाड़ी जयपुर पहुंच चके हैं।
शिमरन हेटमायर सहित राजस्थान रॉयल्स के कई खिलाड़ी जयपुर पहुंच चके हैं।
खबरें और भी हैं...