• Hindi News
  • Politics
  • Modi@20 Dreams Book; Amit Shah JP Nadda BJP Rajasthan Election Strategy | Rajasthan News

2024 में मोदी की 'बापू' जैसी ब्रॉन्डिंग की तैयारी:'20 सपने जो मोदी ने सच कर दिखाए' से माहौल बनाएगी BJP, शाह-डोभाल के हवाले से घर-घर पहुंचाएगी

जयपुर5 महीने पहलेलेखक: बाबूलाल शर्मा

बाजार में एक किताब आई है ‘मोदी@20: सपने हुए साकार’

किताब में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल समेत देश की 22 हस्तियों ने मोदी के 20 साल के कामों का जिक्र किया है।

किताब में बताया है किस तरह मोदी ने 1500 भारतीय सैनिकों को चीनी सेना से छुड़वाया। कैसे नरेंद्र मोदी की एक चिट्‌ठी के बाद लोग तबाह हुए एक शहर को फिर बसाने के लिए तैयार हो गए।

भाजपा इस किताब काे चुनाव में जीत के लिए हथियार बनाने की रणनीति पर काम कर रही है। मोदी@20 कार्यक्रम के प्रदेश समन्वयक और अजमेर उत्तर विधायक वासुदेव देवनानी का कहना है कि जिस तरह महात्मा गांधी ने देश के लोगों को आजादी के आंदोलन से जाेड़ा, उसी तरह प्रधानमंत्री मोदी देश के विकास में आम लोगों को जोड़ रहे हैं। यही बात लेकर हम लोगों के बीच जा रहे हैं।

किताब में लिखी वो बातें, जो अब तक आप नहीं जानते थे....

इन सभी लोगों ने मोदी से जुड़े कई ऐसे रोचक किस्से भी लिखे हैं, जिसके बारे में किसी को जानकारी नहीं है। अब भाजपा इसी किताब को लेकर बुद्धिजीवियों के बीच जा रही है और मोदी के कामों का बढ़-चढ़कर प्रचार कर रही है। समाज के महत्वपूर्ण लोगों के बीच राजस्थान में अब तक 35 इवेंट हो चुके हैं। अब कॉलेज-यूनिवर्सिटी के युवाओं के बीच नवंबर तक कम से कम 20 इवेंट और किए जाएंगे।

केंद्रीय मंत्रियों और सांसदों को जिम्मेदारी
अब तक जयपुर, अजमेर, भीलवाड़ा, जोधपुर, भरतपुर, उदयपुर, अलवर, चुरू, झुंझनूं, चित्तौड़गढ़, नागौर, सीकर, सवाई माधोपुर, हनुमानगढ़, कोटा में बुद्धिजीवी वर्ग के बीच कार्यक्रम हो चुके हैं। बाकी जिलों में तैयारियां चल रही हैं। इन कार्यक्रमों में केंद्रीय मंत्रियों-सांसदों और बड़े नेताओं को प्रमुख वक्ता के रूप में राजस्थान भेजा जा रहा है।

अब तक राजस्थान में केंद्रीय मंत्री जनरल वीके सिंह, अजय भट्‌ट, भूपेंद्र यादव, गजेंद्रसिंह शेखावत, कैलाश चौधरी, अर्जुन राम मेघवाल, नरेंद्र तोमर, मोदी@20 कार्यक्रम के राष्ट्रीय समन्वयक प्रकाश जावड़ेकर, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया, प्रदेश संगठन महामंत्री चंद्रशेखर सभाएं कर चुके हैं।

विधानसभा और लोकसभा चुनाव पर फोकस
जिस तरह महात्मा गांधी को आजादी के आंदोलन की वजह से जाना जाता है, उसी तरह भाजपा इस किताब के जरिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की छवि बनाने में जुट गई है। राजस्थान सहित अगले दो सालों में होने वाले चुनावों (लोकसभा-विधानसभा) के मद्देनजर ये अभियान शुरू किया गया है। फिलहाल चुनावी रैलियों के रफ्तार पकड़ने से पहले भाजपा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के चेहरे और काम को जोर-शोर से प्रचारित कर रही है।

पार्टी इस कोशिश में है कि गुजरात के मुख्यमंत्री और फिर देश के प्रधानमंत्री के रूप में नरेंद्र मोदी ने 20 साल में जो बड़े काम किए हैं, उनको समाज के बुद्धिजीवियों और युवाओं के बीच नवंबर तक पहुंचाकर माहौल तैयार किया जाए, ताकि इसका फायदा आने वाले चुनावों में भी मिले।

राजस्थान में इस किताब पर फोकस क्यों?
नवंबर तक मोदी के नाम और काम का माहौल बनाने की यह कोशिश इसलिए भी हो रही है ताकि दिसंबर में जब गहलोत सरकार के चार साल के कार्यकाल पर कांग्रेस की ओर से जश्न मनाने की तैयारी हो तो लोगों के बीच मोदी के कामों की चर्चा ज्यादा हो और भाजपा गहलोत के दावों का काउंटर कर सके।

राजस्थान में भाजपा कहती आ रही है कि चुनाव में मोदी के चेहरे के अलावा कोई चेहरा नहीं होगा। इसलिए एक सोची समझी रणनीति के तहत पार्टी ने ‘‘मोदी@20’ कार्यक्रमों का सिलसिला शुरू किया है, ताकि प्रधानमंत्री मोदी की ही बात हो और CM चेहरे पर गाहे-बगाहे होने वाली बहस को भी खत्म किया जा सके।

हर कार्यक्रम का तैयार हो रहा डेटा
भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्‌डा और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह सभी कार्यक्रमों की खुद मॉनिटरिंग कर रहे हैं। प्रत्येक कार्यक्रम का डेटा तैयार हो रहा है। मसलन कितने लोग शामिल हुए, कौन-कौन शामिल हुए, कार्यक्रम कहां हुआ, कौन वक्ता रहा और क्या माहौल रहा? बारीकी से नजर रखने के लिए हर कार्यक्रम का एक डेटा बैंक तैयार किया जा रहा है।

खबरें और भी हैं...