• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • The Daughter Of Former MP Jakhar, Close To The CM, Did Not Get A Ticket, Then Revolted, Filled The Independent Form, Rama Devi Won From The Congress In Jaipur, BJP Made The Candidate

जयपुर में गेम पलटा, जोधपुर में बची सीट:पूर्व सांसद जाखड़ की बेटी को टिकट नहीं मिलने पर पहले बगावत, बाद में लीला मदेरणा को दिया समर्थन, जयपुर में कांग्रेस से जीती प्रत्याशी को बीजेपी ने बनाया उम्मीदवार

जयपुर/जोधपुर3 महीने पहले
पूर्व सांसद बद्रीराम जाखड़ की बेटी मुन्नी देवी गोदारा और पूर्व मंत्री परसराम मदेरणा की बहू लीला मदेरणा।

राजस्थान में पंचायती राज संस्थाओं के चुनाव में आज जिला प्रमुख और प्रधान चुने जा चुके हैं। इससे पहले नामांकन के साथ ही कांग्रेस के लिए बड़ा संकट खड़ा हो गया था। इस बार 6 जिलों में चुनाव हुए हैं, जिसमें जयपुर और जोधपुर शामिल हैं।

जोधपुर से मुख्यमंत्री अशोक गहलोत आते हैं तो जयपुर भाजपा का गढ़ रहा है। दोनों दल प्रतिष्ठा की लड़ाई लड़ रहे थे। कांग्रेस ने जयपुर और जोधपुर दोनों जगह जिला परिषद में बहुमत हासिल कर लिया था, लेकिन आंतरिक गुटबाजी के कारण उसे जयपुर में हार का सामना करना पड़ा। हालांकि जोधपुर में कांग्रेस की प्रतिष्ठा बच गई और पार्टी प्रत्याशी लीला मदेरणा ने जीत हासिल की। यहां मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के खास समर्थक और पूर्व सांसद बद्री जाखड़ की बेटी मुन्नी देवी ने बगावत का झंडा उठा लिया था। उन्होंने पूर्व मंत्री और राजस्थान में चर्चित नेता परसराम मदेरणा की बहू लीला के जिला प्रमुख प्रत्याशी बनाने के विरोध में निर्दलीय फॉर्म भर दिया था। यहां पर मुन्नी के अलावा तीन प्रत्याशियों ने भी कांग्रेस से निर्दलीय फॉर्म भर दिए थे। हालांकि बाद में समझाइश पर उन्होंने पार्टी प्रत्याशी के पक्ष में वोट दिया।

जोधपुर जिला परिषद जोधपुर में कुल 37 सीटों पर चुनाव हुए थे। इसमें कांग्रेस ने 21 और भाजपा ने 16 सीट जीती थी। जिला प्रमुख चुनाव के लिए कांग्रेस से लीला मदेरणा और भाजपा से चंपादेवी डाउकिया प्रत्याशी थे। मैदान में यहां पर 5 प्रत्याशी थे।

भाजपा में शामिल हुईं कांग्रेस से जीती रमा देवी।
भाजपा में शामिल हुईं कांग्रेस से जीती रमा देवी।

जयपुर में भाजपा का गेम
राजधानी जयपुर में बीजेपी ने कांग्रेस खेमे में सेंध लगा दी। बीजेपी ने कांग्रेस की जिला परिषद सदस्य रमा देवी चोपड़ा को अपना उम्मीदवार बनाया। कांग्रेस का एक सदस्य भी रमा देवी के साथ चला गया। इसके बाद कांग्रेस के पास बहुमत नहीं रह गया। कांग्रेस ने सरोज देवी बागड़ा को उम्मीदवार बनाया है। जयपुर जिला परिषद में कुल 51 प्रत्याशी हैं। इसमें बीजेपी प्रत्याशी को 26 और कांग्रेस प्रत्याशी को 25 वोट मिले।

रिपीट नहीं हुआ 2004 का चुनाव
आपको बता दें 2004 के चुनाव में भी लीला मदेरणा को पार्टी ने सिंबल नहीं देकर मुन्नी गोदारा को उम्मीदवार बनाया था। इससे बिफरे मदेरणा परिवार और उनके 3 समर्थकों ने क्रॉस वोटिंग कर दी थी। जिसके चलते भाजपा उम्मीदवार अमिता चौधरी ने जीत हासिल की थी। लेकिन इस बार कांग्रेस में टूट नहीं हुई और समझाइश के बाद पार्टी प्रत्याशी लीला मदेरणा ने जीत हासिल कर ली।

जिला परिषद और पंचायत समिति से जुड़े चुनावों की खबरें इन लिंक पर भी जाकर पढ़ सकते हैं

जिला प्रमुख-प्रधान चुनाव LIVE:6 में से 4 में कांग्रेस का जिला प्रमुख बनना लगभग तय; 78 पंचायत समितियों में वोटिंग, जयपुर, जोधपुर की कुर्सी पर बैठेगी महिला

कांग्रेस में बगावत:जयपुर जिला प्रमुख चुनाव में झटका, कांग्रेस की दावेदार रमा देवी को बीजेपी ने बनाया उम्मीदवार, महेश जोशी बोले- बीजेपी हॉर्स ट्रेडिंग कर रही

25% नेता अनपढ़:जयपुर के पंचायत चुनाव, 445 सदस्यों में से 113 बस साइन करना जानते हैं, BA-MA के साथ इंजीनियर और MBA भी बने सदस्य

खबरें और भी हैं...