पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • The In laws Were Unhappy About Not Having A Son, Throwing 3 Daughters In A Well, Jumped Themselves, All Four Died

आत्महत्या:बेटा नहीं होने से नाखुश थे ससुराल वाले, 3 बेटियों को कुएं में फेंक खुद भी कूद गई, चारों की मौत

रूपवास/रुदावल4 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
मृतका के घर पर एकत्रित भीड़।
  • रूपवास के खानसूरजापुर की घटना, करीब 8 साल पहले हुई थी शादी, पति चेन्नई में करता है नौकरी
  • तीन बेटियां होने के कारण रहता था क्लेश, दहेज की मांग का भी लगाया आरोप

रूपवास के खानसूरजापुर गांव में मंगलवार सुबह करीब 10 बजे बेटा नहीं होने से नाखुश ससुराल वालों के तानों से तंग एक विवाहिता ने घर से करीब डेढ़ किलोमीटर कुएं में पहले अपनी तीन बेटियों को फेंका। फिर खुद ने भी छलांग लगा दी। इससे चारों की मौत हो गई। मरने वालों में शारदा (28), उसकी बेटी त्रिशा (6), अपूर्वा (3) और अविनाश (1) हैं।

घटना का पता तब चला कि वहां से गुजर रहे एक ग्रामीण ने कुएं के बाहर महिला और बच्चों की चप्पलें उतरी देखीं। इसकी सूचना पर पुलिस ने ग्रामीणों की मदद से चारों के शवों को कुएं से बाहर निकलवाया। इस घटना से पूरे गांव में शोक छा गया। शाम को कई घरों में तो चूल्हे तक नहीं जले।

रूपवास एसएचओ हुकम सिंह शेखावत ने बताया कि मृतक के पीहर पक्ष ने ससुराल वालों के खिलाफ दहेज के लिए प्रताड़ित करने एवं बेटा नहीं होने पर ताने देकर विवाहिता को मानसिक और शारीरिक रूप से परेशान करने का मुकदमा दर्ज कराया है। प्रारंभिक जांच में अब तक मिली जानकारी के मुताबिक मृतका शारदा मंगलवार सुबह घर पर खेत से चारा काटकर लाने के लिए कहकर निकली थी। वह अपनी तीनों बेटियों को भी साथ ले गई। लेकिन, खेत पर पहुंचने से पहले ही उसने तीनों बेटियों के साथ कुएं में छलांग लगा दी।

इस घटना का पता चलते ही वहां ग्रामीणों की भीड़ एकत्रित हो गई। इधर, घटना का पता चलते ही एडिशनल एसपी राजेन्द्र वर्मा, सीओ खींव सिंह राठौर भी मौके पर पहुंच गए। ग्रामीणों से घटना की जानकारी लेने के साथ ही उसके पीहर वालों को बुलाया गया। पीहर वालों की रिपोर्ट के आधार पर पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर लिया है।
तीन बेटियां होने के कारण रहता था क्लेश, दहेज की मांग का भी लगाया आरोप

नदबई के रायसीस गांव निवासी हुकम सिंह जाट ने बताया कि उसकी बेटी शारदा को ससुराल वाले दहेज में बाइक की मांग को लेकर प्रताड़ित करते आ रहे थे। इतना ही शारदा के तीन बेटियां होने के बाद उनके अत्याचार और बढ़ गए। वे उसे बेटा न होने का ताना देकर मानसिक रूप से प्रताड़ित करने लगे थे। इस कारण वह काफी परेशान रहती थी। इतना ही नहीं इसी बात को लेकर शारदा से उसका पति रवि भी जब कभी चेन्नई से आता तो वह उससे मारपीट करता था।

देवर शशीन्द्र, ससुर रामगोपाल और सास जसोदा दहेज में दिए सामान से संतुष्ट नहीं थे। आरोप है कि शारदा का पति रवि जब आखरी बार चेन्नई गया तो वह अपने छोटे भाई शशीन्द्र से कह रहा था कि शारदा और तीनों बेटियों को जहर देकर मार देना। इसी कारण उसे प्रताड़ित कर ससुराल वालों ने उसे मरने पर मजबूर कर दिया।

एक ही गांव में हुई है 3 बहनों की शादी
पुलिस के मुताबिक शारदा, उसकी बहन राधा और नीतू की शादी खान सूरजापुर में ही अलग-अलग परिवारों में हुई है। इनमें शारदा का विवाह वर्ष 2011 में रवि जाट के साथ हुआ था। जबकि राधा की शादी सत्यपाल और नीतू की शादी धर्मेंद्र के साथ हुई है। शारदा का पति चेन्नई में रहकर मजदूरी करता है। घर पर उसके सास-ससुर और देवर-देवरानी रहते है।

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- लाभदायक समय है। किसी भी कार्य तथा मेहनत का पूरा-पूरा फल मिलेगा। फोन कॉल के माध्यम से कोई महत्वपूर्ण सूचना मिलने की संभावना है। मार्केटिंग व मीडिया से संबंधित कार्यों पर ही अपना पूरा ध्यान कें...

और पढ़ें