पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Today, Get Your Vehicles Filled With Petrol And Diesel, Tomorrow All The Petrol Pumps Of The State Will Be Closed, The Operators Are Most Upset With VAT.

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

राजस्थान सभी पेट्रोलपंप बंद:आज रात 12 तक बंद रहेंगे पेट्रोल पंप , ज्यादा वैट वसूलने के विरोध मेंं डीलर्स की हड़ताल

जयपुरएक दिन पहले
  • कॉपी लिंक
राजस्थान में प्रदेश के करीब 7000 पेट्रोलपंप बंद रहेंगे। - Dainik Bhaskar
राजस्थान में प्रदेश के करीब 7000 पेट्रोलपंप बंद रहेंगे।
  • पड़ोसी राज्यों की तुलना में 10% तक ज्यादा वैट वसूलने से खफा हैं डीलर्स
  • चेतावनी...वैट न घटाया तो 25 से अनिश्चितकालीन हड़ताल

पेट्रोल-डीजल पर राज्य सरकार द्वारा ज्यादा वैट वृद्धि वसूलने के विरोध में शनिवार को प्रदेश के 7 हजार पेट्रोल-डीजल पंप सुबह 6 बजे से रात 12 बजे तक बंद रहेंगे। राजस्थान पेट्रोलियम डीलर्स एसोसिएशन अध्यक्ष सुनीत बगई ने चेतावनी दी कि अगर राज्य सरकार ने हड़ताल के बाद भी वैट में कमी नहीं की तो 25 अप्रैल से अनिश्चितकालीन हड़ताल की जाएगी। पेट्रोलियम कंपनियों की ओर से संचालित कोको पंप खुले रहेंगे, लेकिन इनकी संख्या बेहद सीमित है।

एसोसिएशन की मांग है कि प्रदेश में वैट की दर पड़ोसी राज्यों के बराबर की जाए। साथ ही राज्य के सभी जिलों में समान वैट लगाया जाए। एसोसिएशन का कहना है कि पहले एक दिन 10 अप्रैल को हड़ताल की जाएगी। यदि सरकार नहीं मानी तो 25 अप्रैल से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर सभी डीलर्स चले जाएंगे। इस हड़ताल से पेट्रोल पंपों के ड्राई होने का खतरा बन सकता है। इसकी वजह यह भी है कि पंप संचालक शनिवार सुबह 6 बजे से रात 12 बजे तक पेट्रोल या डीजल की कंपनियों से खरीद भी नहीं करेंगे। ऐसे में रविवार को कुछ पंप ड्राई होने की सूरत में भी आ सकते हैं।

सरकार को एक दिन की हड़ताल से 34 करोड़ रुपए के राजस्व का नुकसान
एसोसिएशन के अध्यक्ष सुनीत बगई ने बताया कि इस हड़ताल के कारण राज्य के करीब 7000 पेट्रोलपंप बंद रहेंगे। उन्होंने कहा कि पिछले दिनों से राज्य सरकार को ज्ञापन दिए जाने और मिलने के लिए समय मांगे जाने के बावजूद सरकार की ओर से कोई सकारात्मक रुख नहीं अपनाया गया। ऐसे में हमें अपने इस फैसले पर कायम रहना होगा। सरकार को केवल एक दिन की हड़ताल से 34 करोड़ रुपए के राजस्व की हानि होगी। यह प्रदेश में एक दिन नहीं बिक पाने वाले 3 करोड़ लीटर पेट्रोल व डीजल पर लगने वाले वैट और सेस से सरकार को मिलता है।

राजस्थान में पेट्रोल पर 36 और डीजल पर 26 प्रतिशत वैट
राजस्थान में पेट्रोल पर 36 प्रतिशत और डीजल पर 26 प्रतिशत वैट है। जबकि पड़ोसी हरियाणा व पंजाब में पेट्रोल पर 25 प्रतिशत, डीजल पर करीब 16 प्रतिशत है। इसके अलावा दिल्ली में पेट्रोल पर 30 और डीजल पर 16.75 प्रतिशत, गुजरात में पेट्रोल व डीजल पर करीब 20-20 प्रतिशत, उत्तर प्रदेश में पेट्रोल पर 26.80 व डीजल पर 17.48 प्रतिशत वैट है। मध्यप्रदेश में पेट्रोल पर 33 व डीजल पर 23 प्रतिशत वैट है। एमपी में पेट्रोल पर 4.5 प्रतिशत अतिरिक्त टैक्स भी है।

गहलोत ने पेट्रोल पर 12 और डीजल पर 10 प्रतिशत वैट बढ़ाया
बगई ने बताया कि जब से प्रदेश में गहलोत सरकार आई है, पेट्रोल पर 12 प्रतिशत और डीजल पर 10 प्रतिशत वैट बढ़ाया गया। यानी 5 जुलाई को पेट्रोल पर वैट 26 से बढ़ाकर 38 और डीजल पर 18 से बढ़ाकर 28 प्रतिशत कर दिया गया। हालांकि, पिछले माह ही सरकार ने सिर्फ 2 फीसदी वैट पेट्रोल और डीजल से घटाया भी। इससे प्रदेश की जनता को बड़ी राहत नहीं मिल पाई। जबकि कोरोना के लॉकडाउन में, जब वाहन सड़कों पर नहीं थे, सरकार ने गुपचुप तीन बार वैट बढ़ाकर पेट्राेल पर 8 और डीजल पर 6 प्रतिशत वैट की बढ़ोतरी कर दी थी। जैसे ही अनलॉक हुआ, लोग सड़कों पर आए तो उन्हें बढ़े भाव का पता चला।

खबरें और भी हैं...

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आप अपने काम को नया रूप देने के लिए ज्यादा रचनात्मक तरीके अपनाएंगे। इस समय शारीरिक रूप से भी स्वयं को बिल्कुल तंदुरुस्त महसूस करेंगे। अपने प्रियजनों की मुश्किल समय में उनकी मदद करना आपको सुखकर...

और पढ़ें