• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Train News | Rajasthan Jaipur Coronavirus News Updates; 1.56 lakh People Booked Tickets After Indian Railways Regular Trains Cancelled Till August12

उत्तर पश्चिम रेलवे / लॉकडाउन में राजस्थान के 4.65 पैसेंजर्स की यात्रा अटकी, रेलवे के पास नकदी की कमी; 25.89 करोड़ का रिफंड भी फंसा

जयपुर। उत्तर पश्चिम रेलवे में 4.56 लाख यात्रियों ने बुक किए 25.89 करोड़ के टिकट। ट्रेनें रद्द होने के कारण अब रेलवे करेगा रिफंड। जयपुर। उत्तर पश्चिम रेलवे में 4.56 लाख यात्रियों ने बुक किए 25.89 करोड़ के टिकट। ट्रेनें रद्द होने के कारण अब रेलवे करेगा रिफंड।
X
जयपुर। उत्तर पश्चिम रेलवे में 4.56 लाख यात्रियों ने बुक किए 25.89 करोड़ के टिकट। ट्रेनें रद्द होने के कारण अब रेलवे करेगा रिफंड।जयपुर। उत्तर पश्चिम रेलवे में 4.56 लाख यात्रियों ने बुक किए 25.89 करोड़ के टिकट। ट्रेनें रद्द होने के कारण अब रेलवे करेगा रिफंड।

  • रेलवे ने 24 मार्च से 12 अगस्त तक की सभी रेगुलर ट्रेनों को किया रद्द
  • जयपुर मंडल में 1.56 लाख लोगों ने 8.90 करोड़ के टिकट बुक किए

दैनिक भास्कर

Jul 01, 2020, 11:38 AM IST

जयपुर. (शिवांग चतुर्वेदी)। रेलवे ने 24 मार्च से 12 अगस्त तक की सभी नियमित ट्रेनों के संचालन को रद्द कर दिया है। इस अवधि में बुक हुए टिकटों को भी रेलवे ने कैंसिल कर दिया है। वहीं इन टिकटों का फुल रिफंड दिए जाने की घोषणा भी की है। रिफंड देना शुरू भी किया जा चुका है। यह अमाउंट इतना अधिक है कि रेलवे को इसे यात्रियों को वापस करने में ही छह माह से अधिक का समय लग जाएगा।

रेलवे बोर्ड के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि रेलवे को लगभग देशभर में रेलवे काउंटर्स से बुक हुए टिकटों का करीब 300 करोड़ रुपए का रिफंड वापस करना है। सभी जोनल रेलवेज ने टिकटों का रिफंड देना शुरू भी कर दिया है।

उत्तर पश्चिम रेलवे में 4.56 लाख यात्रियों ने बुक किए 25.89 करोड़ के टिकट
उत्तर पश्चिम रेलवे के जयपुर, जोधपुर, अजमेर और बीकानेर मंडल में अलग अलग स्टेशनों के रिजर्वेशन काउंटर से 24 मार्च से 12 अगस्त के बीच 4.56 लाख यात्रियों ने टिकट बुक करवाए। इन रिजर्वेशन से रेलवे को 25.89 करोड़ रुपए की आय हुई।

अकेले जयपुर मंडल के स्टेशनों पर बने काउंटर्स से 1.56 लाख लोगों ने 8.90 करोड़ के टिकट बुक किए हैं। जिन्हें अब रद्द कर उनका किराया रिफंड करने के निर्देश दिए गए हैं। एक अनुमान के मुताबिक रेलवे के पास नकदी की भारी कमी है, ऐसे में यात्रियों को किराया रिफंड देने में रेलवे को करीब छह महीने का समय लग जाएगा। हालांकि रेलवे रिजर्वेशन काउंटर्स पर बैंक से नकद लेकर रिफंड का कैश उपलब्ध करवा रहा है।

स्पेशल ट्रेनों का संचालन यथावत रहेगा
रेलवे द्वारा 12 अगस्त तक की जो ट्रेनें रद्द की हैं, वो लॉकडाउन से पहले संचालित हो रहीं नियमित ट्रेनें हैं। पहले इन ट्रेनों को रेलवे ने 30 जून तक रद्द किया था जिसे अब बढ़ाकर 12 अगस्त कर दिया है। यानी नियमित ट्रेनें 12 अगस्त तक संचालित नहीं की जाएंगी जबकि मई में शुरू की गई 30 राजधानी और एक जून से शुरू की गईं 200 स्पेशल मेल/ एक्सप्रेस ट्रेनों का संचालन आगामी आदेशों तक यथावत रहेगा। रेलवे के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि रेलवे अभी कुछ रूट पर और ट्रेनें शुरू करेगा, जो कि स्पेशल नंबर से संचालित की जाएंगी। इन ट्रेनों का संचालन रूट की लोकप्रियता और यात्रीभार की संख्या के आधार पर किया जाएगा।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना