पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अतिरिक्त चार्ज सौंपा:दो साल से स्थायी वीडीओ व एलडीसी नहीं, जनप्रतिनिधों ने किया बैठक का बहिष्कार

आहोर14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

आहोर ग्राम पंचायत में पिछले 2 साल से ग्राम विकास अधिकारी व कनिष्ठ लिपिक के पद पर स्थाई रूप से नहीं लगाने का विरोध बढ़ गया है। सोमवार को सरपंच समेत सभी जनप्रतिनिधियों ने विरोध कर बैठक का बहिष्कार कर दिया।

चामुंडा चौक स्थित ग्राम पंचायत के राजीव गांधी सेवा केन्द्र के सभाकक्ष में सोमवार को साधारण बैठक सरपंच सुजाराम प्रजापत की अध्यक्षता में हुई। सदस्यों ने एक मत होकर सर्वसम्मति से निर्णय लेते हुए कहा कि ग्राम पंचायत में पिछले दो वर्षों से ग्राम विकास अधिकारी व कनिष्ट लिपिक का पद स्थायी पद रिक्त हं। वर्तमान में चांदराई ग्राम विकास अधिकारी को अतिरिक्त चार्ज पर कार्यरत है, जिस कारण विकास कार्य व जनहित के कार्य प्रभावित हो रहे हैं।

जब तक ग्राम विकास अधिकारी व कनिष्ठ लिपिक के पद पर स्थायी रूप से नहीं लगाने तक साधारण बैठकों का बहिष्कार करने का निर्णय लिया।स्थाई कार्मिक को लगाने को लेकर सरपंच सुजाराम प्रजापत सहित वार्डपंचों ने विकास अधिकारी विशाल सीपा को ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में बताया कि ग्राम पंचायत आहोर में ग्राम विकास अधिकारी व कनिष्ट लिपिक के पद पर अतिरिक्त चार्ज दे रखा है। पंचायत समिति आहोर की ग्राम पंचायत आहोर सबसे बड़ी है। इसके बावजूद भी पिछले करीबन दो वर्षों से ग्राम विकास अधिकारी के पद रिक्त होने के साथ अतिरिक्त चार्ज दे रखा है।

स्थाई रूप से नहीं लगाने तक सर्व सम्मति से ग्राम पंचायत आहोर में ग्राम विकास अधिकारी व कनिष्ठ लिपिक के पद पर स्थायी रूप से नियुक्ति नहीं करते हैं तब तक ग्राम पंचायत आहोर की होने वाली साधारण बैठकों का बहिष्कार करने का निर्णय लिया। इस दौरान उप सरपंच लालचंद जैन, वार्ड पंच हनुमान शर्मा, प्रकाश जैन, भैरूलाल छीपा, बलवंतसिंह, रेवतसिंह, शांतिसिंह, जोराराम खवास, गणपतसिंह, पिंकी, पोनी देवी सहित कई वार्डपंच मौजूद थे।

खबरें और भी हैं...