पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

अब हरी झंडी का इंतजार:जेथी से करजोड़ा व अजमेर से गुड़िया तक विद्युतीकरण मार्च तक पूरा होने की उम्मीद, पहले चरण में चलेंगी गुड्स ट्रेन

आबूराेड6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • सरूपगंज-मावल सेक्शन के इलेक्ट्रिफिकेशन ट्रैक का सीआरएस आरके शर्मा ने किया निरीक्षण

इस साल की इलेक्ट्रिक ट्रेनों व मालगाड़ी के इलेक्ट्रिक ट्रैक पर दाैड़ने की सबसे बड़ी उम्मीद जल्द ही पूरा हाेने जा रही है। अजमेर-पालनपुर खंड के 395 किलोमीटर इलेक्ट्रिक ट्रैक का काम लगभग पूरा हाे चुका है और अब यह उम्मीद जताई जा रही है कि मार्च अंतिम सप्ताह तक इसमें बचा शेष काम भी पूरा हाे जाएगा और अब इलेक्ट्रिक इंजन दाैड़ने शुरू हाे जाएंगे।

इसी काे लेकर मंगलवार काे वेस्टर्न सर्किल मुंबई के सीआरएस आरके शर्मा ने सरूपगंज-मावल सेक्शन के करीब 36 किलोमीटर इलेक्ट्रिक ट्रैक का निरीक्षण किया। हालांकि अजमेर मंडल में अभी भी दो सेक्शनों में इलेक्ट्रिफिकेशन का काम होना शेष है। इसमें अजमेर मंडल में जेथी से करजोड़ा तक करीब 9.50 किलोमीटर और अजमेर से मारवाड़ के गुड़िया तक 95 किलोमीटर सेक्शन पर इलेक्ट्रिफिकेशन का काम पूरा हाेना बाकी है।

हालांकि इसमें जेथी-करजाेड़ा के बीच डाउनलाइन का ताे गुड़िया स्टेशन तक अंतिम चरण में यह काम चल रहा है। अब इन दाे स्टेशनों के बीच यह काम मार्च तक हाेने की पूरी संभावना है। यह काम पूरा हाेते ही सीआरएस की हरी झंडी मिलने का इंतजार रहेगा और इसके बाद से ट्रैक पर इलेक्ट्रिक ट्रेनें दाैड़ सकेंगी।

सीआरएस ने आबूरोड स्टेशन का किया निरीक्षण, खुले नाले देख जताई आपत्ति, अफसरों को सुधार के निर्देश दिए

दाे ट्रैक पर यह काम बाकी
जैथी-करजाेड़ा : इस 9 किलोमीटर ट्रैक पर डाउनलाइन का काम बाकी है। यहां पहले ट्रायल हाे चुका है, जाे सफल रहा।
अजमेर-गुडिया : 95 किलोमीटर इस ट्रैक पर इलेक्ट्रिफिकेशन का काम अंतिम चरण में है। यहां पर पहले ट्रायल व सीआरएस का निरीक्षण हाेने के बाद इस ट्रैक काे स्वीकृति मिल जाएगी।

ये ट्रायल हाे चुके, जाे सफल रहे

  • साढ़े चार महीने पहले 8 अक्टूबर को इलेक्ट्रिक इंजन द्वारा आबूरोड से मावल, मावल से सरूपगंज होते हुए बनास तथा वहां से आबूरोड तक 59.54 किलोमीटर ट्रैक पर 110 किलोमीटर की रफ्तार से ट्रायल किया गया था। लगातार साढ़े पांच घंटे तक ट्रायल के बाद ओके हुआ था।
  • इससे पूर्व 30 व 31 जुलाई को करजोड़ा से मारवाड़ जंक्शन तथा मारवाड़ जंक्शन से दौराई तक लोको ट्रायल किया गया था। यह ट्रायल भी सफल रहा।

यात्रियाें काे फायदा : अहमदाबाद-दिल्ली सफर में बचेंगे तीन घंटे
दिल्ली-अहमदाबाद के बीच 866 किलोमीटर है। वर्तमान में गुड्स ट्रेनों की स्पीड करीब 50 किलोमीटर प्रति घंटा है। इस समय अहमदाबाद से दिल्ली तथा दिल्ली से अहमदाबाद का सफर तय करने में करीब 18 घंटे लग रहे हैं। जबकि, इलेक्ट्रिक इंजन ट्रायल 110 किलोमीटर की रफ्तार से किया गया है। जो कि डबल से भी ज्यादा है। मोटे तौर पर तीन घंटे तक कम लगेंगे।

लुनियापुरा अंडरब्रिज और गांधीनगर समपार फाटक का किया निरीक्षण
सीआरएस ने आबूरोड रेलवे स्टेशन, लुनियापुरा अंडरब्रिज व गांधीनगर समपार रेलवे फाटक का भी निरीक्षण किया। रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म संख्या 2 व 3 पर खुले नाले को देखकर नाराजगी जताते हुए इसे तत्काल बंद करवाने के आदेश दिए। इसके बाद यहां बनाए गए फुटओवरब्रिज का उद्घाटन किया। इस अवसर पर डीआरएम नवीन परशुरामका, स्टेशन अधीक्षक आरएन जाटव, रेलवे सुरक्षा बल थानाधिकारी प्रदीप कुमार व जीआरपी थानाधिकारी दिलीप सिंह सहित रेलवे के अधिकारी-कर्मचारी मौजूद रहे।

वहीं सीआरएस आरके शर्मा के आबूरोड स्टेशन पहुंचने पर रेलवे पैसेंजर एसोसिएसन अध्यक्ष बसंत प्रजापत व महामंत्री सागरमल अग्रवाल की अगुवाई में एक प्रतिनिधिमंडल ने डीआरएम नवीन परशुरामका को ज्ञापन देकर स्टेशन पर व्याप्त विभिन्न समस्याओं का समाधान करवाने की मांग की।

ज्ञापन में आबूरोड से अहमदाबाद डीएमयू ट्रेन शुरू करवाने, गांधीधाम से पालनपुर तक संचालित ट्रेन को आबूरोड तक करवाने, स्टेशन पर मालगोदाम के आगे की ओर टीनशेड लगवाने, बुजुर्ग व बीमार यात्रियों की सुविधा के लिए एक्सीलेटर तथा रेलवे की अनुपयोगी जमीनों को लीज पर आवंटित करवाने की मांग की।

इसी प्रकार एक अन्य ज्ञापन में बीते लोडरों को पूर्ववत स्टेशन पर कार्य करने की अनुमति प्रदान करवाने का आग्रह किया गया है। इस अवसर पर एसोसिएसन के संरक्षक आरके गुप्ता सहित पदाधिकारी एवं सदस्य मौजूद रहे। वहीं पूर्व पार्षद जितेन्द्र परिहार ने डीआरएम को ज्ञापन देकर गांधीनगर समपार रेलवे फाटक पर करवाए जा रहे ओवरब्रिज निर्माण कार्य मं आ रही परेशानियों के बारे में बताया।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- इस समय ग्रह स्थितियां पूर्णतः अनुकूल है। सम्मानजनक स्थितियां बनेंगी। विद्यार्थियों को कैरियर संबंधी किसी समस्या का समाधान मिलने से उत्साह में वृद्धि होगी। आप अपनी किसी कमजोरी पर भी विजय हासिल...

    और पढ़ें