पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Pali
  • Abu road
  • The Former Councilor Who Raised The Questions On The Operation Of Indira Rasoi, The EO Wrote A Letter To The Same And Asked To Propose To Provide The Building To Bhamashah.

प्रशासन की जनता से मांग:जिस पूर्व पार्षद ने इंदिरा रसोई के संचालन पर उठाए थे सवाल, ईओ ने उसी को पत्र लिख मांगा भामाशाह बन भवन उपलब्ध कराने का प्रस्ताव

आबूरोडएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

आबूरोड नगरपालिका लगातार चर्चा में रह रही है। इस बार भी ईओ का एक पूर्व पार्षद को लिखा पत्र चर्चा बन गया है। दरअसल, पूर्व पार्षद योगेश सिंघल की ओर से कुछ दिनों पूर्व यह शिकायत की गई थी इंदिरा रसोई का संचालन शहर से दूर किया जा रहा है जबकि नियमानुसार ऐसा स्थान चुनना था, जिससे इस योजना का लाभ ज्यादा से ज्यादा लोगों को मिल सके। इस पर ईओ ने इसके जवाब में पार्षद को ही पत्र लिख भामाशाह बनकर ऐसी सुविधा उपलब्ध कराने की मांग की गई।

जानकारी के के अनुसार ईओ त्रिकमदान चारण ने पूर्व पार्षद योगेश सिंघल को जारी किए गए पत्र में बताया गया है कि उन्हें एवं नगरपालिका प्रशासन को जानकर प्रसन्नता हुई कि पूर्व पार्षद ज्यादा से ज्यादा आमजन को योजना का लाभ मिल सके। इसके लिए इंदिरा रसोई को शहर के रोडवेज बस स्टेंड के पास लाना चाहते हैं। इसके लिए उनका आभार भी जताया गया है। इसमें बताया गया है कि नगरपालिका के पास ऐसी कोई जगह नही होने से उनके स्तर पर यह सुविधा उपलब्ध करवाया जाना संभव नही है।

ईओ द्वारा लिखे पत्र में पूर्व पार्षद को दी भामाशाह बननेे की सुविधाएं, पूछा: कब तक भवन मुहैया कराएंगे

भामाशाह के रुप में उपलब्ध करवाए 100 गुणा 100 का हॉल : पत्र में अधिशासी अधिकारी द्वारा पूर्व पार्षद को यह भी बताया गया है कि इंदिरा रसोई की गाइडलाइन के अनुसार 100 गुणा 100 भवन या हॉल की आवश्यकता है। वे भामाशाह बनकर यह सुविधा उपलब्ध करवा सकते हैं। ताकि, राज्य सरकार की गाइडलाइन के अनुसार आमजन को पूर्ण सुविधा के साथ भरपेट भोजन करवाया जा सके। इतना ही नहीं पूर्व पार्षद से यह भी पूछा गया है कि वे यह सुविधा नगरपालिका को कितने दिन में उपलब्ध करवाएंगे बताएं ताकि वहां पर नगरपालिका द्वारा इंदिरा रसोई योजना स्थापित करने की प्रक्रिया शुरु की जा सके।

जिम्मेदारी से बचने का प्रयास कर रहे हैं ईओ
शहर में शांतिकुंज पार्क के बाहर पुराना नगरपालिका भवन व दरबार स्कूल के समीप सहित कई ऐसे स्थान हैं जहां पर यह सुविधा उपलब्ध करवाई जा सकती है। इसके अलावा रोडवेज बस स्टेंड के पास खाली पड़ी भूमि पर रोडवेज आगार प्रबंधन से संपर्क कर वहां भी यह कार्य करवाया जा सकता है। इन स्थानों पर आमजन को योजना का लाभ मिल सकेगा। इन सबको दरकिनार करते हुए शहर के एकांत में बने अंबेडकर भवन में अपने चहेतों को फायदा पहुंचाने के लिए इंदिरा रसो ई स्थापित की गई है।
योगेश सिंघल, पूर्व पार्षद, नगरपालिका, आबूरोड

3 दिन पहले पूर्व पार्षद ने सीएम को भेजा था ज्ञापन
गौरतलब हैै कि इस संबंध में पूर्व पार्षद योगेश सिंघल द्वारा गत 14 सितंबर को मुख्यमंत्री को ज्ञापन भेजकर आबूरोड में इंदिरा रसोई स्थापित करने के मामले में पालिका अधिशासी अधिकारी पर मनमानी करने का आरोप लगाते हुए इसका संचालन रोडवेज बस स्टेंड या रेलवे स्टेशन सहित उपयुक्त स्थान पर करवाने की मांग की गई थी। इससे गांधीनगर के अंबेडकर भवन में इसका संचालन किया जा रहा है। पूर्व पार्षद से भी यही कहा गया है कि यदि उनके पास कोई ऐसी सुविधा है तो उपलब्ध करवा दें।
त्रिकमदान चारण, ईओ, नगरपालिका, आबूरोड

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज ग्रह स्थितियां बेहतरीन बनी हुई है। मानसिक शांति रहेगी। आप अपने आत्मविश्वास और मनोबल के सहारे किसी विशेष लक्ष्य को प्राप्त करने में समर्थ रहेंगे। किसी प्रभावशाली व्यक्ति से मुलाकात भी आपकी ...

और पढ़ें