पंचायत समिति आबूरोड की बैठक आयोजित:चुनाव के बाद हुई पहली बैठक में सदस्यों का स्वागत किया, क्षेत्र के मुद्दे उठाए

आबूरोड2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

पंचायत समिति सभागार में प्रधान लीलाराम गरासिया के निर्वाचन के बाद पहली बैठक आयोजित हुई। बैठक में विभिन्न विभागों के कार्यों पर चर्चा की गई, इससे पूर्व सभी नवनिर्वाचित सदस्यों का स्वागत किया गया। बैठक में सार्वजनिक निर्माण विभाग से संबंधित सड़कों के निर्माण पर चर्चा की गई। बैठक में सार्वजनिक निर्माण विभाग के अभियंता नहीं आ पाए विभाग के प्रतिनिधि ने बताया कि माउंट आबू में सड़क पर पड़े गड्ढे के कारण व्यस्त हैं।

बैठक में पंचायत सदस्य कन्हैया खरे व अन्य ने खारे पानी व पेयजल की समस्या से अवगत कराया, जिस पर जलदाय विभाग के सहायक अभियंता हेमंत गोयल ने देलदार, चनार, गिरवर, ओर, डेरना, चंद्रावती, आवल, वासड़ा, किवरली, मोरथला समेत क्षेत्र में शुरू की जा रही विभिन्न योजनाओं की जानकारी दी।

रामलाल रणाैरा ने जल जीवन मिशन के तहत कार्यों की जानकारी मांगी तथा हैंडपंप खराब हाेने से पेयजल समस्या का जनप्रतिनिधियों ने मुद्दा उठाया। इस पर सहायक अभियंता गोयल ने बताया कि हैंडपंप विभाग व पंचायत की ओर से सही किए जाते हैं। इस पर उप प्रधान ललित सांखला ने क्षेत्र के तकनीकी लोगों की सूची बनाने तथा उनसे ठीक कराने का सुझाव दिया। कन्हैयालाल खरे ने पट्टे के 395 के आवेदन होने की बात कही व बताया कि वहां का पटवारी म्यूटेशन नहीं भरते तथा पटवारी समेत अन्य फोन नहीं उठाते। रामलाल ने बताया कि भाकर क्षेत्र में लाइट नहीं आती है।

ब्लॉक चिकित्सा अधिकारी डाॅ. गाैतम माेरारका ने कहा कि प्रशासन गांवों के संग शिविर में टीकाकरण के लिए भी लोगों को प्रेरित किया जाए। उन्होंने ऑक्सीजन प्लांट के लिए 7 लाख की राशि भरे जाने की भी जानकारी दी। मौसमी बीमारियों से बचाव के लिए उन्होंने एमएलओ डालने व फॉगिंग मशीन की सहायता से मच्छर मारने की योजना बताई।

भाखर क्षेत्र में स्वास्थ्य केंद्र के निर्माण में ठेकेदार की ओर से काम नहीं करने का मुद्दे पर विकास अधिकारी प्रदीप मायला ने सार्वजनिक निर्माण विभाग से उपयोगिता प्रमाण-पत्र लेकर इसका पुनर्निर्माण कराने को कहा। पशुपालन विभाग के अधिकतर चिकित्सालय बंद होने पर विभाग के प्रतिनिधि ने बताया कि क्षेत्र में 25 चिकित्सा केंद्र है, जिनमें 9 से 10 बंद है। बैठक में प्रधान लीलाराम गरासिया, उपप्रधान ललित सांखला, जिला परिषद सदस्य हरीश चौधरी, कन्यालाल खरे,विकास अधिकारी प्रदीप मायला, बीसीएमओ डॉ. गौतम मुरारका, डिस्कॉम के सहायक अभियंता अशोक मीणा समेत अन्य अधिकारी मौजूद थे।

खबरें और भी हैं...