विरोध का अनोखा तरीका:रघुपति राघव राजाराम… गा कर जताया केन्द्र सरकार के खिलाफ विरोध

पाली।2 महीने पहले
पाली के रोहट में बुधवार को केन्द्र सरकार के खिलाफ विरोध मार्च निकालते हुए कांग्रेसी। - Dainik Bhaskar
पाली के रोहट में बुधवार को केन्द्र सरकार के खिलाफ विरोध मार्च निकालते हुए कांग्रेसी।

केंद्र सरकार की ओर से संवेधानिक संस्थाओं ED, इन्कम टेक्स, CBI के दुरुपयोग करने, भारतीय सेना के गौरव एवं युवाओं के भविष्य के साथ खिलवाड़ करने का आरोप लगाते हुए रोहट में कांग्रेसजनों ने विरोध प्रदर्शन किया।

कांग्रेस नेता महावीरसिंह राजपुरोहीत सुकरलाई के नेतृत्व में केन्द्र की मोदी सरकार के खिलाफ भजन गा कर विरोध प्रदर्शन करते नजर आए। उन्होंने केन्द्र की मोदी सरकार के खिलाफ सद्बुद्धि यज्ञ किया। रघुपति राघव राजाराम… जैसे भजन गाकर विरोध जताया। इसके साथ ही धरना स्थल पर हाथों में केन्द्र सरकार के खिलाफ लिखी स्लोगन तख्तियां लेकर रोहट में विरोध मार्च निकाला।

इससे पहले धरने पर संबोधित करते हुए कांग्रेस नेता महावीरसिंह सुकरलाई ने कहा कि कांग्रेस पार्टी का इतिहास त्याग तपस्या ओर बलिदान का रहा है। देश को आजादी दिलाने में ओर आधुनिक भारत के निर्माण में कांग्रेस पार्टी का अहम योगदान रहा है। लेकिन जब से केन्द्र में भाजपा सरकार आई हैं तब से देश मे तनाव का माहौल बना हुआ है, बेरोजगारी ओर महंगाई चरम पर है। सरकार बदले की भावना से काम कर रही है, उसी के फलस्वरूप केंद्र सरकार के निर्देश पर ई डी ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी को बिना सबूत बिना तथ्यों के निराधार ओर मनगढंत आरोपों में नेशनल हेराल्ड मामले में राजनीतिक प्रतिशोध से प्रेरित होकर तलब किया है। मोदी सरकार कांग्रेस नेताओं को परेशान करने का काम कर रही है इससे देश की जनता एवं कांग्रेसजनों में भारी रोष है, कांग्रेस पार्टी एकजुट होकर मोदी सरकार के खिलाफ संघर्षरत है।

इस दौरान पूर्व जिला परिषद सदस्य जोगाराम सोलंकी, उप प्रधान कानाराम पटेल, डीएमएफटी सदस्य हेमाराम पटेल, गिरधारीसिंह धोलेरिया शासन, वागाराम विश्नोई, जिला युवा बोर्ड सदस्य आमीन अली रंगरेज़, माणक गर्ग, बाबूसिंह वायद, पंचायत समिति सदस्य लक्ष्मणराम पटेल, सोहनलाल गुणपाल, डूंगाराम सीरवी, पूनाराम देवासी, पूर्व उप प्रधान मुन्नालाल परिहार, सरपंच जगमालराम मेघवाल खांडी, भगाराम पटेल चेन्डा, सायरराम सुथार ढाबर, दिलदार खान झीतड़ा, अशोक मेघवाल कलाली, राजेन्द्रसिंह राजपुरोहित खुंडावास, प्रकाश मेघवाल गढ़वाड़ा, सोनाराम भील वायद, सरपंच प्रतिनिधि प्रवीण पटेल राणा, अमराराम मेघवाल कुलथाना सहित सैंकड़ों कांग्रेस कार्यकर्ता मौजूद रहे।