पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

खुलासा:काणूजा गांव में माजीवाला माता मंदिर दर्शन करने पहाड़ी पर पहुंचे बच्चे, मृत पैंथर देखा तो ली सेल्फी

बर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • मृत पैंथर की सूचना ग्रामीणों ने वन विभाग के कर्मचारियों को दी, शव को सेंदड़ा नर्सरी में लाकर कराया पोस्टमार्टम
  • पोस्टमार्टम रिपोर्ट में खुलासा, पैंथर के शावक की भूख-प्यास से ही हुई थी मौत

सेंदड़ा रेंज के कानूजा वनखंड स्थित मांजीवाला माता मंदिर के पास रविवार को मृत मिले पैंथर के शावक के साथ बच्चे आठ घंटे तक खेलते रहे। इन बच्चों ने शावक के  शव को उठाकर चटा्टन पर रखा और उसके साथ सेल्फी भी ली। इधर, सोमवार को पोस्टमार्टम रिपोर्ट में खुलासा हुआ कि भूख और प्यास के कारण ही शावक की मौत हुई।

कानूजा निवासी सुरेंद्रसिंह ने बताया मांजीवाला माता मंदिर पर गांव के बच्चे रोज दर्शन करने जाते हैं। रविवार सुबह 7 बजे वहां से गुजरते समय पैंथर के शावक को लेटे हुए देखा तो सभी डर गए। करीब आधे घंटे तक बच्चे वहां छिपकर देखते रहे, मगर शावक में हलचल नहीं दिखी। बाद में उस पर पत्थर फेंके। फिर भी हलचल नहीं हुई तो पास पहुंचे। शावक मृत था। बच्चों ने उसका शव चट्टान पर ऐसी मुद्रा में रखा कि वह जिंदा लगे।

बाद में उसके साथ सेल्फी लेते रहे और खेलते रहे। फोटो सोमवार को सामने आए। ये बच्चे दोपहर करीब 3 बजे तक पैंथर के शव के साथ खेलते रहे। बाद में ग्रामीणों की सूचना पर वन विभाग की टीम पहुंची और शव को सेंदड़ा स्थित नर्सरी लेकर आए।

7-8 घंटे तक मृत शावक के साथ खेलते रहे बच्चे
रविवार को मृत मिले पैंथर के शावक के शव को सोमवार को सेंदड़ा स्थित नर्सरी में डॉ. मुकेश कुमार एवं डॉ. इंद्रमणि त्रिपाठी ने पोस्टमार्टम किया। रिपोर्ट में बताया है कि शावक की मौत भूख और प्यास के कारण ही हुई है। 

  • हमें रविवार सुबह 10 बजे सूचना मिल गई थी। मृत शावक का पोस्टमार्टम करवा कर शव दफना दिया गया है। मांजीवाला माता मंदिर दर्शन के लिए जाते समय बच्चों ने फोटो ले ली होगी। -राजेंद्रसिंह, वन अधिकारी, सेंदड़ा

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज कड़ी मेहनत और परीक्षा का समय है। परंतु आप अपने लक्ष्य को प्राप्त करने में सफल रहेंगे। बुजुर्गों का स्नेह व आशीर्वाद आपके जीवन की सबसे बड़ी पूंजी रहेगी। परिवार की सुख-सुविधाओं के प्रति भी आपक...

और पढ़ें