पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

टेबल टेनिस:17 वर्ष आयु वर्ग एकल में प्रवीण जीते, डबल पुरुष वर्ग में सोलंकी ने सोनी को हराया

जालोर10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • शाह पूंजाजी गेनाजी स्टेडियम में आयोजित दो दिवसीय जालोर फर्स्ट एलिट टेबल टेनिस स्पर्धा रविवार को संपन्न

शहर के शाह पूंजाजी गेनाजी स्टेडियम स्थित खेलकूद प्रशिक्षण हॉल में आयोजित दो दिवसीय जालोर फर्स्ट एलिट टेबल टेनिस स्पर्धा रविवार को संपन्न हुई। प्रशासन एवं जिला क्रीड़ा परिषद के संयुक्त तत्वाधान में आयोजित प्रतियोगिता में रौचक मुकाबले हुये। स्पर्धा में बड़ी संख्या में खिलाड़ी शामिल हुये। इस मौके पर कलेक्टर नम्रता वृष्णि ने खिलाड़ियों को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि खेल जीवन का अभिन्न अंग है। इससे शारीरिक ही नही बल्कि मानसिक विकास भी होता हैं।

उन्होंने जिला प्रशासन द्वारा खेलों को बढ़ावा देने एवं खिलाड़ियों के हित में भौतिक संसाधन उपलब्ध करवाने के लिए हर सम्भव सहयोग करने का भरोसा दिलाया। एएसपी अनुकृति उज्जैनिया ने कहा कि ऐसे आयोजनों से जिले में खेल का अनुकूल वातावरण तैयार होगा। जिला खेल अधिकारी प्रेम सिंह भाटी ने अतिथियों का स्वागत एवं आभार प्रकट किया। भामाशाह लालसिंह गोविंदला श्री रेजीडेंसी द्वारा खिलाड़ियों को प्रमाणपत्र, पुरस्कार व अतिथियों को स्मृति चिन्ह भेंट किये गए।

बालिका वर्ग में खुशबू व महिला वर्ग में शिल्पा शर्मा जीती

जिला खेलकूद प्रशिक्षण केंद्र के प्रभारी रतन सिंह मंडलावत ने बताया कि पुरुष वर्ग के 17 वर्ष आयु वर्ग एकल में प्रवीण कुमार विजेता रहे। वहीं उपविजेता का खिताब हेमंत कुमार ने जीता। इसी तरह 35 वर्ष में रवि सोनी व विकास सोलंकी, डबल पुरुष वर्ग में विकास सोलंकी व रवि सोनी, मिश्रित युगल में रवि सोनी-मोनिका भंडारी व विकास सोलंकी-शिल्पा शर्मा क्रमशः विजेता व उपविजेता रहे।

बालिका वर्ग एकल में खुशबू कुमारी व कुसुम सुथार, महिला एकल में शिल्पा शर्मा व मोनिका भंडारी, महिला डबल में खुशबू कुमारी व लता, जिनल कुमारी व काजल विजेता व उपविजेता रहे। निर्णायक के रूप में अशोक दिवाकर, रमेश दान राव, पूनमाराम गर्ग, दीपक त्रिवेदी व मुनिराज सिंह ने निर्णायक की भूमिका निभाई।

यह रहे मौजूद : कार्यक्रम में भामाशाह लालसिंह गोविंदला, हनुवंत सिंह चारण, शांति लाल सांखला, उम्मेद सिंह, रामदास कुट्टी, गलबाराम गर्ग, राजू राम, दीपाराम व ओमप्रकाश गर्ग मौजूद रहे। संचालन नूर मोहम्मद ने किया।

खबरें और भी हैं...