स्कूलों की तस्वीर बदल गई:भामाशाह ने बागोड़ा स्कूल में लगवाए 32 सीसीटीवी कैमरें

जालोर9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

भामाशाह पदमाराम कलबी द्वारा किए गए सहयोग से क्षेत्र की तीन स्कूलों की तस्वीर बदल गई है। उन्होंने स्कूलों में रंग रोगन से लेकर सुविधाओं के लिए सहयोग किया है। बागोड़ा स्कूल में तो उन्होंने 32 सीसीटीवी कैमरे लगाए हैं। क्षेत्र में विद्यालय विकास के लिए हर समय तत्पर रहने वाले पदमाराम कलबी ने कई विद्यालयों के विकास व सामग्री आदि में सहयोग किया। भामाशाह के रूप में विशेष रूप से विद्यालयों काे सहयोग देने के पीछे उनकी शिक्षा के प्रति जागरूकता मुख्य कारण है।

गौरतलब है कि भामाशाह के पुत्र हीराराम कलबी का वर्ष 2010 में राजस्थान प्रशासनिक सेवा में चयन हुआ। शिक्षा की बदौलत उनके पुत्र की कामयाबी को देखते हुए वे आज विद्यालय के विकास के प्रति जागरुक है और उनका उत्साह शिक्षा के मंदिरों के विकास के प्रति बढ़ा। साथ ही वे इस कार्य के लिए अन्य लोगों को प्रोत्साहित करते हैं। उनके पुत्र भी पिता के कार्य पर गर्व करते हुए उनके इन सामाजिक कार्यों को समर्थन देते हैं।

इन 3 स्कूलों में रंग-रोगन से बदली तस्वीर, विकास कार्यों के लिए भी दिया सहयोग
भामाशाह पदमाराम कलबी ने क्षेत्र के 3 स्कूलों के विकास में सहयोग देकर उनकी तस्वीर बदल दी और आवश्यक कार्यों को गति प्रदान की। राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय तिलोड़ा के भवन का लंबे समय से रंगरोगन नहीं हुआ था। इस कार्य पर भामाशाह ने लगभग एक लाख रुपए की आर्थिक सहायता देकर विद्यालय भवन का रंगरोगन करवाया। इसी तरह राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय बागोड़ा में विद्यालयों की गतिविधियों पर दृष्टिकोण रखने के लिए भामाशाह ने करीब 2 लाख रुपए की लागत से विद्यालय परिसर में 32 सीसीटीवी कैमरे लगवाए।

इसी प्रकार राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय हरमू में भी काफी समय से मरम्मत की आवश्यकता थी और विद्यार्थियों को समस्याओं का सामना करना पड़ता था। इस पर भामाशाह द्वारा 25 हजार की लागत से विद्यालय भवन का मरम्मत कार्य करवाकर सहयोग किया गया।

खबरें और भी हैं...