पशु कल्याण पखवाड़ा 14 से 31 जनवरी तक:कलेक्टर बोले- आवारा पशुओं को गोशालाओं में संधारित कि‍ए जाने की व्यवस्था सुनिश्चित करें

जालोर13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

जिला पशु क्रूरता नि‍वारण समिति की बैठक कलेक्टर नम्रता वृष्णि की अध्यक्षता में हुई। उन्हाेंने कहा कि जिले में आवारा पशुओं को स्थानीय गोशालाओं में संधारित किए जाने की व्यवस्था सुनिश्चित की जानी चाहिए। जिससे आवारा पशुओं से होने वाली दुर्घटना से बचा जा सकें। उन्होंने कहा कि पशुओं के लिए हरे चारे की व्यवस्था शहर के व्यवस्तम क्षेत्र में नहीं करके दूर उचित स्थान का चयन करने के निर्देश दिए।

पशुपालन विभाग के संयुक्त निदेशक डॉ. पूनाराम मेंशन ने बताया कि जिले में पशु क्रूरता निवारण के रोकथाम के लिए जन-मानस में जागृति एवं पशु क्रूरता रोकथाम के उपाय को लेकर 14 से 31 जनवरी तक पशु कल्याण पखवाड़ा मनाया जाएगा। जिसमें जन-मानस को पशु क्रूरता निवारण के लिए प्रेरित किया जाएगा।

बैठक में मृत पशुओं के निस्तारण के लिए वैज्ञानिक विधि का उपयोग करने, नागरिकों से पशुओं को आवारा छाेड़ने पर पाबंदी लगाने सहित विभिन्न विषयों पर चर्चा हुई। बैठक में महावीर जीव दया गौशाला के अध्यक्ष मूलराज भण्डारी ने जीवों के प्रति दया भाव रखते हुए जीव हत्या नहीं करने के लिए जन-मानस को प्रेरित करने की बात कही। बैठक में प्रशान्त बोहरा, नगर परिषद आयुक्त महिपाल सिंह, जिला शिक्षा अधिकारी कमल सिंह, कृषि विभाग के उप निदेशक डॉ. आर.बी. सिंह सहित विभिन्न गाेशालाओं के संचालक उपस्थित थे।

खबरें और भी हैं...