बैठक का आयोजन:रोहट में पेयजल संकट समाधान की कवायद शुरू; अधिकारी बाेले- जरूरत पड़ी ताे ट्रेन और टैंकराें से करवाएंगे जलापूर्ति

रोहट13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
रोहट पंचायत समिति परिसर में जलदाय विभाग के मुख्य अभियंता व अतिरिक्त मुख्य अभियंता की मौजूदगी में आयोजित बैठक के दौरान चर्चा करते हुए। - Dainik Bhaskar
रोहट पंचायत समिति परिसर में जलदाय विभाग के मुख्य अभियंता व अतिरिक्त मुख्य अभियंता की मौजूदगी में आयोजित बैठक के दौरान चर्चा करते हुए।

पंचायत समिति परिसर में रोहट क्षेत्र में पेयजल संकट की स्थिति को लेकर जलदाय विभाग के मुख्य अभियंता नीरज माथुर,अतिरिक्त मुख्य अभियंता विनोद भारती के साथ जनप्रतिनिधियों की बैठक हुई। बैठक काे संबाेधित करते हुए उप प्रधान कानाराम पटेल ने कहा पुरानी पाइप लाइन से पानी पहुंचना किसी भी हाल में संभव नहीं है। पहले भी यही हालात हुए थे।

कांग्रेस नेता महावीरसिंह सुकरलाई ने अधिकारियों से पाली व रोहट की पेयजल समस्या के समाधान को लेकर हरसंभव प्रयास करने का आग्रह किया। इसके साथ ही स्थाई समाधान के लिए जोधपुर से नई पाइप लाइन योजना की स्वीकृति को लेकर भी चर्चा की। सुकरलाई ने बताया कि सर्दियों के दिनों में भी रोहट में पेयजल सप्लाई नियमित नहीं हो रही है। खारड़ा बांध से जो पानी दिया जा रहा है, वो काफी भारी है। ऐसे में प्रयास हो कि रोहट को जवाई बांध का पानी मिले।

इसके साथ ही खारड़ा बांध, बाणियावास बांध सहित जहां से भी कंटिंजेंसी के तहत पेयजल सप्लाई की जा रही है। वहां पानी की क्वालिटी की नियमित माॅनिटरिंग जरूरी है। जोधपुर जिले की सीमा से लगते गांवों में आने वाले समय मे उसी क्षेत्र से टैंकरो द्वारा पेयजल सप्लाई भी की जा सकती है। जिन गांवोंं में बेरी व ओपनवेल में पानी हो वहां शीघ्र ही पम्प सेट लगाना चाहिए।

पेयजल संकट के हल के लिए कर रहे प्रयास : भारती
मुख्य अभियंता नीरज माथुर व अतिरिक्त मुख्य अभियंता विनोद भारती ने कहा कि क्षेत्र में पेयजल संकट नहीं हो इसके लिए गम्भीरता से प्रयास किए जा रहे हैं। जवाई बांध, बाणियावास बांध,खारड़ा बांध से पेयजल सप्लाई के साथ ही जरूरत पड़ने पर पाली शहर के लिए ट्रेन द्वारा व रोहट के लिए जोधपुर से टैंकर परिवहन द्वारा भी पेयजल सप्लाई की जाएगी ताकि आमजन को परेशानी नहीं हो।

नई पाइप लाइन योजना को लेकर भी प्रयास जारी है। राज्य सरकार पेयजल समस्या के समाधान को लेकर गम्भीर है। जल जीवन मिशन के तहत भी रोहट की स्कीम को भी स्वीकृति मिल गई है। इस दाैरान उप प्रधान कानाराम पटेल, पूर्व जिला परिषद सदस्य जोगाराम सोलंकी, कांग्रेस नेता महावीरसिंह राजपुरोहित सुकरलाई, जिला आयोजना समिति सदस्य प्रकाश सांखला, डीएमएफटी में मनोनीत ट्रस्टी हेमाराम पटेल, पार्षद अमीन अली रंगरेज, सरपंच दिलदार खान चौहान, प्रकाश मेघवाल, बालाराम हरावास, किशनदान गढ़वाड़ा, प्रकाश सोनी, तरुण रावल, हीरालाल मेघवाल आदि माैजूद थे।

खबरें और भी हैं...