पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

आबादी:सबसे पहले कोरोना फ्री हुआ जालोर वैक्सीनेशन में पिछड़ा, 3 माह पहले 21वां जिला था, अब 24वां

जालोर4 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • 18 वर्ष से अधिक की आबादी में अब तक कुल 57.24% को लगा टीका, दोनों डोज 14.69% को ही

कोरोना की दूसरी लहर को सबसे पहले हराने वाला जालोर जिला वैक्सीनेशन में पिछड़ता जा रहा है। तीन माह पहले जून में 21वें पायदान पर था, जो अब पिछड़कर 24 वें स्थान पर पहुंच गया है। 18 वर्ष से अधिक 14 लाख 25 हजार 616 लोगों को वैक्सीनेशन करने का लक्ष्य था। इनमें से अब तक 57.24 प्रतिशत को प्रथम व 14.69 प्रतिशत लोगों को ही दूसरी डोज लगी है।

16 जनवरी को जिले में वैक्सीनेशन लगनी शुरू हुई थी, जिसको 8 माह का समय बीत चुका हैं। हालांकि शुरुआती दिनों में जालोर वैक्सीनेशन लगाने में अच्छी स्थिति में था, लेकिन उसके बाद पिछड़ता ही जा रहा है। वैक्सीनेशन की कम डोज मिलने के कारण यह स्थिति बन रही है। जालोर से अब करौली, सवाईमाधोपुर, बारां, राजसमंद, डूंगरपुर, बूंदी, धोलपुर, सिरोही, प्रतापगढ़ व जैसलमेर जिला ही पिछड़ा हुआ है। पड़ोसी सिरोही जिले से तुलना करें तो वहां 67.84 प्रतिशत आबादी वैक्सीनेट हो चुकी है। यानी 7.31 लाख को टीके लग चुके हैं। इनमें से 1.98 लाख को तो दूसरी डोज भी लग चुकी है।

खबरें और भी हैं...