पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

वैक्सीन से डर:वैक्सीन से दूर फ्रंटलाइन; तीन दिन में 1200 स्वास्थ्य कर्मियों काे लगनी थी वैक्सीन, 688 ने ही लगवाई

जालोरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • सॉफ्टवेयर की समस्या के चलते एक ही लाभार्थी का नाम कई बार आ रहा, इसलिए कम लग पा रहे वैक्सीन

जिले में तीन सत्र के दौरान 688 लोगों को कोरोना वैक्सीन के टीके लग चुके हैं, जो लक्ष्य के अनुसार 57.30 प्रतिशत हैं। प्रतिदिन चार सेंटरों पर 100-100 लोगों को कोरोना वैक्सीन लगानी होती है, लेकिन अब तक 1200 में से 688 लोगों को ही लग पाई है। प्रथम चरण में तीन दिन हुए टीकाकरण में लाभार्थियों की संख्या बढ़नी थी, लेकिन जिले में घट रही है।

16 जनवरी को 73.25, 18 जनवरी 53 व 20 जनवरी को 45.75 प्रतिशत लोगों को ही टीका लगा है। हालांकि चिकित्सा विभाग का कहना है ऑनलाइन चलने वाले सॉफ्टवेयर में समस्या के चलते लक्ष्य के अनुरूप टीकाकरण नहीं हो रहा है।

गौरतलब है कि 16 जनवरी से शुरू हुए टीकाकरण जालोर के चार सेंटरों पर हो रहे हैं। इसमें जिला अस्पताल, मातृ शिशु एवं स्वास्थ्य केंद्र, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र आहोर व सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सायला में लगाए जा रहे हैं।

प्रथम सत्र के बाद पिछले दोनों सत्रों में संख्या घटी
16 जनवरी से जिले में कोरोना वैक्सीन की शुरुआत 4 सेंटरों पर हुई। प्रथम सत्र के पहले दिन चारों सेंटरों पर 400 में से 293 लोगों ने कोरोना का टीका लगाया। किसी को कोई भी साइड इफैक्ट का मामला नहीं आया।

दूसरे दिन 18 जनवरी को कोरोना वैक्सीन की संख्या बढ़नी थी, लेकिन 400 में से 212 लाभार्थी ने ही लगवाया। जिसके बाद तीसरे दिन 400 में से मात्र 183 लाभार्थी ही टीका लगवाने पहुंचे।

राहत : एक भी साइड इफैक्ट का अब तक मामला नहीं
जिले में कोरोना वैक्सीन प्रथम चरण में तीन दिन लग चुकी है, जिसमें से 688 स्वास्थ्यकर्मियों ने लगवाई। अब तक इसमें एक भी साइड इफैक्ट का मामला नहीं बना है। फिर भी जिले में कोरोना वैक्सीन लगाने वालों का आंकड़ा बढऩे के बजाय घटता जा रहा हैं।

सबसे अधिक जिला अस्पताल में, आहोर में लगे कम टीके
जिले में प्रथम चरण के दौरान हैल्थ वर्कर को वैक्सीन लगाई जा रही है। यह 4 सेंटरों पर लग रही है। अब तक सबसे अधिक जिला अस्पताल में 64.33 प्रतिशत यानी 193 लोगों को लगाई जा चुकी है। सबसे कम आहोर सीएचसी पर लगी है यहां पर मात्र 43.33 प्रतिशत यानी 130 लोगों ने लगवाई है। एमसीएच व सायला सीएचसी पर 181-181 जनों को लगी।

चिकित्सा विभाग : सॉफ्टवेयर में समस्या के चलते कम लाभार्थी ही पहुंचे

वैक्सीनेशन के प्रभारी आरसीएचओ डॉ. रमाशंकर भारती का कहना है कि सॉफ्टवेयर की समस्या चलते कोरोना वैक्सीन लगाने में समस्या आ रही है। उनका कहना है कि पहले दिन टीका नहीं लगवाने वालाें के नाम दूसरे दिन वाली लिस्ट में प्राथमिकता के आधार पर जाेड़े जा रहे हैं।

ये लाेग दूसरे दिन भी नहीं आ रहे हैं। इसके बाद भी तीसरे दिन वाली सूची में भी इनके नाम सबसे ऊपर आ रहे हैं, जिससे नए लाभार्थियाें के नाम कम हाे रहे हैं। ऐसे में वैक्सीनेशन लगवाने वाले लाभार्थियाें की संख्या कम हाेती जा रही है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आपकी सकारात्मक और संतुलित सोच द्वारा कुछ समय से चल रही परेशानियों का हल निकलेगा। आप एक नई ऊर्जा के साथ अपने कार्यों के प्रति ध्यान केंद्रित कर पाएंगे। अगर किसी कोर्ट केस संबंधी कार्यवाही चल र...

    और पढ़ें