पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

40 दिन बाद पांथेड़ी में भी थांवला जैसी लूट:दुकान से लौटते ज्वैलर्स पर हमला, साढ़े 12 किलो चांदी व 200 ग्राम सोना लूटा

जालोर11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • रात 8 बजे, 3 बदमाश और पीछा भी वैसे ही

सायला के पाथेड़ी सरहद में शनिवार रात को 40 दिन पहले आहोर के थांवला में हुई लूट जैसी वारदात हो गई। उनड़ी में ज्वैलर्स अपनी दुकान बंदकर पाथेड़ी गांव जा रहा था। इस दौरान उनड़ी-पाथेड़ी मार्ग पर दो बाइकों पर सवार होकर आए तीन लूटेरों ने ज्वैलर्स की पहले बाइक रूकवाई। उसके बाद डंडे व हॉकी स्टीक से हमला कर गहनों से भरा बैग लूट लिया।

लूट पाथेड़ी निवासी ज्वैलर्स प्रदीप कुमार सोनी (25) के साथ हुई। पीडि़त व्यापारी के अनुसार बैग में 200 ग्राम सोना व साढ़े 12 किलो चांदी के गहने थे। सायला ने पुलिस घटनास्थल पर पहुंचकर नाकाबंदी करवाई, लेकिन 24 घंटे बाद भी पुलिस के हाथ घटना को लेकर कोई सुराग नहीं लगा।

पुलिस की 6 टीमें लुटेरों की खोजबीन करने में लगी हुई हैं। बता दें कि 3 अगस्त को आहोर के थांवला में भी हरजी निवासी ज्वैलर्स दिलीप सोनी के साथ रात 8 बजे ही दुकान से निकलते ही दो बाइकों पर तीन जनों ने रैकी कर पीछा करते हुए हमला किया और बैग छीनकर फरार हो गए थे। व्यापारी के साथ 12 किलो चांदी व 20 ग्राम सोना लूटा था।

ऐसे हुई वारदात : बाइक पर सवार 2 बदमाशों ने रोका, पीछे से एक और बाइक आ गई

लूट की वारदात शनिवार रात करीब 8 बजे हुई। व्यापारी प्रदीप कुमार सोनी उनड़ी में स्थित दुकान को बंद कर घर जा रहा था। तभी मार्ग पर सूनसान जगह पर एक बाइक सडक़ के किनारे रोके हुए दो लोग खड़े थे। इन्होंने हाथ देकर ज्वैलर्स को रूकवाया। तभी पीछे से एक ओर बाइक सवार आ गया। तीनों ने मिलकर ज्वैलर्स पर हमला कर दिया। डंडे व हॉकी से चोटिल करते हुए व्यापारी के पास रखा सोना व चांदी के जेवरात से भरा बैग लूट लिया। पीडि़त का कहना है कि कोरा गांव तक पीछा किया, लेकिन चोटें ज्यादा होने के कारण आगे तक नहीं जा पाया और गिर गया। जिसके बाद पीडि़त ने परिजनों को सूचना दी। परिजन मौके पर पहुंचकर युवक को अस्पताल पहुंचाया।

पुलिस की छह टीमें तलाश रहीं, 24 घंटे बाद भी सुराग नहीं लगा

उनड़ी-पांथेड़ी मार्ग पर शनिवार देर शाम को बदमाशों ने ज्वैलर्स से लाखों का सोना-चांदी लूट लिया। जिसको लेकर रविवार को सायला व बागोड़ा थानाधिकारी समेत 6 टीम उनड़ी, पाथेड़ी, कोमता, विशाला, पोषाणा समेत कई जगह जांच की मगर कोई सुराग हाथ नहीं लगा। वहीं पुलिस ने सीसीटीवी कैमरे भी खंगाले मगर कोई ठोस सबूत पुलिस के अब तक हाथ नहीं हैं। सायला थानाधिकारी ध्रुव प्रसाद का कहना है कि लूट की वारदात के बाद लुटेरों को पता लगाने का प्रयास किया जा रहा है। अभी तक आरोपियों को पता नहीं चल पाया है।

खबरें और भी हैं...