पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

अब कुछ ही दिन और बजेगी शहनाई:13 दिसंबर के बाद अप्रैल 2021 तक मुहूर्त नहीं

जालोर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • गुरु और शुक्र के अस्त होने से अगले साल शादियों के मुहूर्त हैं कम

बुधवार काे देव उठनी एकादशी है, जिसे साल की सबसे महत्वपूर्ण एकादशी माना जाता है। ज्योतिषविद पंडित दिनेश दिनकर ने बताया कि कार्तिक माह के शुक्ल पक्ष में इस एकादशी को विशेष रूप से मनाने जाने की परंपरा है। साथ ही इस शुभ दिन से विवाह और धार्मिक महोत्सव मनाए जाने का क्रम प्रारंभ हो जाता है।

इस दिन को हर दृष्टि से शुभ माना जाता है। ऐसी मान्यता है कि देवउठनी एकादशी पर श्री हरि भगवान विष्णु चार माह की निद्रा से उठते हैं और वापस से सृष्टि का कार्य-भार संभालते हैं। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार कार्तिक मास के शुक्ल पक्ष की इसी एकादशी पर भगवान विष्णु ने माता तुलसी संग विवाह किया था। इसी कारण है कि इस दिन तुलसी विवाह करने की भी परंपरा है ज्योतिषविद पंडित दिनकर के अनुसार देवउठनी एकादशी पर तुलसी विवाह करना बेहद शुभ होता है, पारिवारिक या वैवाहिक जीवन काफी सुखद व्यतीत होता है।

नवंबर और दिसंबर माह में शादियों के शुभ मुहूर्त
वैसे इस नवंबर दिसंबर में शादियों के शुभ मुहूर्त काफी कम है, अगले साल भी अर्थात वर्ष 2021 में भी गुरु और शुक्र के अस्त होने के कारण शादियों के मुहूर्त काफी कम हैं, आपको बता दें कि 17 जनवरी से 15 फरवरी के बीच देव गुरु अस्त हो जाएंगे, ऐसे में इस दौरान शहनाईयां नहीं बजेंगी, वर्ष 2020 का अंतिम विवाह मुहूर्त 13 दिसंबर को है, जिसके बाद सीधे अप्रैल 2021 में ही शहनाई की गुंज सुनाई देगी। गाैरतलब है कि नवंबर में छूट मिलने के बाद अब शादियों का ट्रेंड ही बदल गया है। कोरोना काे देखते हुए शादियाें में इस बार गिफ्ट अाैर लिफाफे एकत्रथत करने के लिए अलग से डब्बा रख दिया। काेई भी दुल्हा अाैर दुल्हन काे सीधे लिफाफे नहीं दे रहा था। इसके जगह अलग से एकत्रित करने की व्यवस्था रखी थी। जिससे दुल्हा-दूल्हन काे काेराेना संक्रमण से बचाया जा सके। वहीं स्वागत द्वार पर हाथ धोने, नो मास्क-नो एंट्री जैसे बोर्ड दिख रहे हैं।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- व्यस्तता के बावजूद आप अपने घर परिवार की खुशियों के लिए भी समय निकालेंगे। घर की देखरेख से संबंधित कुछ गतिविधियां होंगी। इस समय अपनी कार्य क्षमता पर पूर्ण विश्वास रखकर अपनी योजनाओं को कार्य रूप...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser