पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

लापरवाही:बिजली लाइन ऊपर करने के लिए लगा रहे थे पोल, करंट से 5 युवक झुलसे, 3 की मौत

चितलवाना/जालोर12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • सरवाना पुलिस थाना क्षेत्र के सुराचंद ग्राम में मंगलवार देर शाम की घटना, झुलसे दो युवकों की हालत गंभीर

सरवाना पुलिस थाना क्षेत्र के सुराचंद ग्राम में मंगलवार देर शाम बिजली लाइन की चपेट में आने से 3 युवकाें की मौके पर मौत हो गई, जबकि 2 युवक गंभीर रूप से झुलस गए। इन्हें उपचार के लिए सांचौर के निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जानकारी के अनुसार सुराचंद व नारायणपुरा की सीमा पर ग्रामीण खुद बिजली की लाइन ऊपर करने पोल खड़ा कर रहे थे।

इस दौरान करंट की चपेट में आने से तीन युवकाें की मौके पर मौत हो गई। घटना की सूचना पर सरवाना पुलिस, डिस्कॉम के अधिकारी व तहसीलदार मौके पर पहुंचे। इसके बाद मृतक सुराचंद निवासी चीमाराम (40) पुत्र खीमाराम मेघवाल, धन्नाराम (35) पुत्र गुलाराम मेघवाल व फुईयाराम (25) पुत्र गेनाराम मेघवाल के शव मोर्चरी में रखवाए गए। घटना के दौरान नारायणपुरा निवासी गोरखाराम (30) पुत्र राणाराम माली व सुराचंद निवासी खेताराम (25) पुत्र खुमाराम मेघवाल गंभीर रूप से घायल हो गए। दोनों घायलों का सांचौर के निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

ग्रामीणों ने डिस्कॉम को नहीं दी सूचना, अपने स्तर पर ही खड़ा कर रहे थे पोल

जमीन समतल की तो लाइन हो गई नीचे
जिस खेत में हादसा हुआ था, वह जमीन काफी नीचे थी। ऐसे में खेत के मालिक द्वारा रेत भरकर जमीन का समतलीकरण किया गया था, जिससे जमीन ऊंची हो गई और बिजली की लाइन काफी नीचे आ गई। ऐसे में ग्रामीणों द्वारा अपने स्तर पर ही पोल को खड़ा कर रहे थे। इस काम को लेकर शट डाउन भी नहीं लिया। ऐसे में जैसे ही पोल लाइन के टच हुआ तो उसमें करंट फैल गया और इस हादसे में तीन जनों की मौत हो गई।

पोल था क्षतिग्रस्त, जिसकी वजह से फैला करंट
हालांकि ग्रामीणों द्वारा जो पोल खड़ा किया जा रहा था, वह सीमेंट का था, लेकिन इसको खड़ा करने से पहले डिस्कॉम को जानकारी नहीं दी गई। ग्रामीणों ने गड्ढा खोदकर जैसे ही पोल लाइन के टच किया तो करंट पूरे पोल में फैल गया। पोल जगह-जगह से क्षतिग्रस्त होने की वजह से बीच के सरियों से करंट फैल गया जिसकी चपेट में आकर तीनाें युवकाें की मौके पर मौत हो गई।
शव मोर्चरी में रखवाए, वन मंत्री भी आज जाएंगे सुराचंद
घटना की सूचना मिलते ही पुलिस समेत प्रशासनिक अधिकारी मौके पर पहुंचे। देर शाम हुई घटना की सूचना पर चितलवाना तहसीलदार हेमसिंह सोलंकी, सरवाना थानाधिकारी अमरसिंह, डिस्कॉम के सहायक अभियंता हेमाराम सोलंकी व कनिष्ठ अभियंता सांगर पांचल समेत अधिकारियों ने मौके पर पहुंचकर घटना की जानकारी ली।

मृतकों के शव सांचौर अस्पताल स्थित मोर्चरी में रखवाए गए, जिनका बुधवार सुबह पोस्टमार्टम कराया जाएगा। मृतकाें में एक पूर्व सरपंच का पुत्र है। हादसे की सूचना मिलने पर वन एवं पर्यावरण मंत्री सुखराम विश्रोई ने दुख जताया। वे शोक संतप्त परिवाराें को सांत्वना देने बुधवार को सुराचंद जाएंगे।

ग्रामीणों ने डिस्कॉम को भी नहीं दी इस बारे में सूचना

  • जमीन का समतलीकरण करने से लाइन की ऊंचाई कम हो गई थी। ग्रामीण तारों की ऊंचाई बढ़ाना चाहते थे। डिस्कॉम को भी इसकी जानकारी नहीं दी। पोल लाइन के टच होने पर करंट फैला। - पूनमाराम विश्रोई, सहायक अभियंता, डिस्कॉम
  • सुराचंद गांव में में यह हादसा हुआ है। सूचना मिलते ही मौके पर पहुंच गए है। हादसे में 3 जनों की मौत हो गई। परिजनों को सहयोग दिलाने का प्रयास करेंगे। - हेमाराम सोलंकी, तहसीलदार

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज का दिन परिवार व बच्चों के साथ समय व्यतीत करने का है। साथ ही शॉपिंग और मनोरंजन संबंधी कार्यों में भी समय व्यतीत होगा। आपके व्यक्तित्व संबंधी कुछ सकारात्मक बातें लोगों के सामने आएंगी। जिसके ...

और पढ़ें