आरटीई:प्रवेश के लिए 9 तक होगी आवेदन पत्रों की जांच

जालोरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

आरटीई के तहत विद्यार्थियों के प्रवेश को लेकर प्रक्रिया चल रही है। आरटीई में निशुल्क प्रवेश के लिए ऑनलाइन आवेदनों की 9 नवंबर तक आवेदन पत्रों की जांच की जाएगी। आम तौर पर आरटीई में निशुल्क प्रवेश के ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया अप्रैल में शुरू होती है, लेकिन इस बार यह प्रक्रिया 7 माह देरी से अक्टूबर में शुरू हुई। इधर सितंबर से ही प्रदेश के सभी स्कूल खुल गए। ऐसे में अधिकांश अभिभावकों ने अपने बच्चों का एडमिशन पहले ही करवा दिया।

इसी वजह से इस बार आरटीई में 70 हजार कम आवेदन आए है। आरटीई में प्राइवेट स्कूलों में 25 प्रतिशत सीटों पर निशुल्क प्रवेश के लिए ऑनलाइन आवेदन इस बार 11 से 24 अक्टूबर तक लिए गए। 27 अक्टूबर को निकाली गई लॉटरी में इन स्टूडेंट्स का वरीयता क्रम निर्धारित कर दिया गया है। विद्यार्थियों की ओर से संबंधित स्कूल में ऑनलाइन रिपोर्टिंग की गई।

पिछली बार पूरे राज्य में आरटीई में ऑनलाइन आवेदन करने वाले विद्यार्थियों की संख्या 1 लाख 81 हजार के करीब थी। इनमें से 1 लाख 3 हजार को निशुल्क एडमिशन मिला। इस बार 1 लाख 11 लाख विद्यार्थियों में कितनों को निशुल्क प्रवेश मिलेगा। इसका आंकड़ा एडमिशन की प्रक्रिया पूरी होने के बाद दिसंबर में प्राप्त होगा।

यह रहेगी प्रक्रिया :

  • {9 नवंबर तक आवेदन पत्रों की जांच
  • {10 नवंबर से 14 नवंबर तक आवेदन पत्रों में करेक्शन
  • {15 नवंबर से 18 नवंबर तक स्कूली स्तर पर आवेदन पत्र की जांच
  • {19 से 28 नवंबर तक ऑनलाइन चयन
  • {30 नवंबर को शेष रिक्त रही आरटीई सीट्स पर पोर्टल द्वारा स्वयं ही आवंटन

अवकाश के कारण एडमिशन प्रक्रिया प्रभावित दिवाली पर अवकाश के कारण एडमिशन प्रक्रिया प्रभावित होगी। गौरतलब है कि हर साल राज्य के प्राइवेट स्कूलों में एडमिशन के लिए आरटीई के तहत 25 प्रतिशत सीटों पर एडमिशन दिया जाता है। पहली कक्षा में होने वाले यह एडमिशन आम तौर पर मई-जून में हो जाते हैं लेकिन इस बार अक्टूबर का पहला सप्ताह बीतने तक भी प्रोसेस शुरू नहीं हो पाया था और अभिभावक इंतजार में थे कि कब एडमिशन की प्रक्रिया शुरू होगी।

खबरें और भी हैं...