पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

सांसारिक जीवन छोड़कर संयम पथ अंगीकार करने का फैसला:सात साल पहले जागा भक्ति का भाव, संगीत की दुनिया में जाने की रुचि छोड़ अब दीक्षा लेंगी मेंगलवा की प्रिया

मेंगलवा5 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
माता-पिता से आशीर्वाद लेती मुमुक्षु प्रिया। - Dainik Bhaskar
माता-पिता से आशीर्वाद लेती मुमुक्षु प्रिया।
  • दो हजार किलोमीटर पैदल विहार कर चुकीं प्रिया, मेंगलवा में 28 फरवरी को लेगी दीक्षा

छोटी ही उम्र में संगीत व एंकरिंग करने का शौक रखने वाली प्रिया को भक्ति का भावा जागा एवं उन्होंने सांसारिक जीवन छोड़कर संयम पथ अंगीकार करने का फैसला कर लिया। सायला उपखंड क्षेत्र के मेंगलवा निवासी प्रिया जैन सांसारिक जीवन छोड़कर 28 फरवरी को संयम पथ अंगीकार करने जा रही हैं।

इसको लेकर मेंगलवा कस्बे को दुल्हन की तरह से सजा दिया गया हैं। 31 वर्षीय प्रिया को संगीत के क्षेत्र में रुचि थी, लेकिन जैन संतों के साथ लंबे समय तक पैदल विहार करने के बाद उन्होंने संयम पथ अंगीकार करने का फैसला लिया। उनके बाद प्रिया के पिता तेजराज जैन ने भी बेटी के फैसले को समर्थन कर दिया। जिसमें पिता का सपना था कि बेटी का दीक्षा समारोह उनके गांव में ही आयोजित हो।

ऐसे में अब उनके गांव मेंगलवा में प्रिया का दीक्षा समारोह आयोजित होने जा रहा। इसको लेकर अब मेंगलवा गांव में तैयारियां शुरू कर दी हैं। मुमुक्षु प्रिया की दीक्षा जैनाचार्य धर्म दिवाकर गच्छाधिपति नित्यसेनसूरीश्वर महाराज ओर जैनाचार्य भाण्डवपुर तीर्थोद्धार आचार्य देव जयरत्नसूरीश्वर महाराज एवं साधु-साध्वी की निश्रा में दीक्षा ग्रहण करेगी।

मुमुक्षु प्रिया।
मुमुक्षु प्रिया।

ग्रेजुएट कर चुकीं प्रिया की एंकर व संगीतकार में थी रुचि, कई राज्यों में किया पैदल विहार

  • प्रिया ग्रेजुएट तक की पढ़ाई कर चुकी हैं। वो एक एंकर ओर संगीतकार भी है। प्रिया के भाई धीरज जैन बताते हैं कि बहन प्रिया एंकरिंग ओर संगीत में बहुत रूची थी। वो पांच साल पहले दीक्षा लेने की जिद करने लगी तब परिवार वालों ने कहा कि आपकी दीक्षा होगी तो जहां तुम्हारा जन्म हुआ हैं वहां ही होगी। उसके बाद 28 फरवरी तय हुआ हैं। बहिन प्रिया का प्रवज्या प्रियोत्सव समारोह की तैयारियां जोरों पर चल रही है।
  • सांसारिक जीवन को त्याग कर संयम पथ अंगीकार करने जा रही मुमुक्षु प्रिया जैन समाज की साध्वियों के साथ करीब 2 हजार किमी पैदल विहार कर चुकी हैं। करीब सात साल पहले दीक्षा का भाव जगा था तब अपने माता-पिता को दीक्षा के लिए आज्ञा मांगी। मुमुक्षु प्रिया ने कई राज्यों में पैदल विहार कर संयम पथ अंगीकार करने जा रही है।

पंचाहिका महोत्सव की तैयारियों को अंतिम रूप
मेंगलवा गांव में पंचाहिका महोत्सव की तैयारियों जोरो पर चल रही है। पंचाहिका महोत्सव को लेकर गांव को दुल्हन की तरह सजाया जा रहा है। गांव के मुख्य द्वारों पर भव्य प्रवेश द्वार ओर गांव के मंदिरों को रंग-बिरंगी रोशनी से सजाया जा रहा हैं। वही गांव में जगह-जगह तोरण ओर रंग-बिरगी रोशनी से जगमगाता नजर आ रहा हैं।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आप प्रत्येक कार्य को उचित तथा सुचारु रूप से करने में सक्षम रहेंगे। सिर्फ कोई भी कार्य करने से पहले उसकी रूपरेखा अवश्य बना लें। आपके इन गुणों की वजह से आज आपको कोई विशेष उपलब्धि भी हासिल होगी।...

    और पढ़ें