पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

रोष में परिजन:अस्पताल में शव छोड़ गए परिजन, बोले- सभी हत्यारों को पकड़ो तभी करेंगे अंतिम संस्कार

जालोर11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • वणधर बांध के पीछे मिला था विवाहिता का शव परिजन व भील समाज आज भी करेगा प्रदर्शन
  • पीहर आने के बाद गायब हो गई थी युवती

करड़ा थाना क्षेत्र के दांतवाड़ा निवासी विवाहित युवती का वणधर बांध के पीछे रविवार देर रात को शव मिलने के मामले में दूसरे दिन सोमवार को परिजन हत्या के आरोपियों की गिरफ्तारी मांग पर अड़े रहे। पोस्टमार्टम होने के बाद 24 घंटे बाद भी परिजनों ने शव नहीं उठाया। देर शाम को परिजन अस्पताल में ही शव को छोड़कर अपने घर लौट गए, अब मंगलवार को भी प्रदर्शन होगा। इधर, पुलिस ने एक आरोपी दांतवाड़ा निवासी पारसाराम उर्फ प्रतीक मेघवाल (25) पुत्र निंबाराम मेघवाल को गिरफ्तार किया है, लेकिन परिजन सभी आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग पर अड़े हैं।

तीन सितंबर को दांतवाड़ा निवासी भावना (19) पुत्री लीलाराम भील घर से लापता हो गई थी। दो दिन बाद रविवार देर रात को वणधर गांव में स्थित बांध के पिछले हिस्से नदी बहाव क्षेत्र की झाडिय़ों में शव मिला। शव मिलने के बाद परिजनों ने एक गांव के युवक समेत अन्य आरोपियों पर अपहरण करने के बाद हत्या का आरोप लगाते हुए पुलिस थाने में रिपोर्ट दी थी।

भीनमाल, सांचौर व रानीवाड़ा रास्ता 30 मिनट तक जाम

सोमवार सुबह ही बड़ी संख्या में भील समाज के लोग घटनास्थल पर पहुंच गए। घर से लापता हुई युवती की हत्या के बाद आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं होने पर पुलिस पर लापरवाही बरतने के आरोप लगाते हुए शव उठाने से मना कर दिया। परिजन प्रदर्शन करते हुए समाज के बड़ी संख्या में लोग करड़ा से निकलने वाली मुख्य सड़क पर पहुंच गए। यहां पर करीब 30 मिनट तक रास्ते को जाम कर दिया। बड़ी संख्या में लोग सड़क पर जमे रहे।

आरोप : अपहरण कर हत्या की, कई आरोपी शामिल

भावना के भाई माधाराम ने रविवार देर रात को करड़ा पुलिस थाना करड़ा में रिपोर्ट दर्ज करवाई। रिपोर्ट में गांव निवासी युवक पारसाराम उर्फ प्रतीक मेघवाल समेत अन्य लोगों पर अपहरण कर हत्या करने का आरोप लगाया है। पुलिस ने एक आरोपी पारसाराम को गिरफ्तार कर लिया है।

समझाइश : पुलिस ने दो दिन का समय और मांगा

परिजनों द्वारा किए जा रहे प्रदर्शन के बाद एएसपी दशरथ सिंह भी मौके पर पहुंचे। इस दौरान उन्होंने समझाइश की कोशिश की, लेकिन समझौता नहीं हो पाया। परिजनों व समाजबंधुओं द्वारा शव लेने से मना करने पर एसपी दशरथ सिंह ने परिजनों से दो दिन में सभी आरोपियों की गिरफ्तारी करने की बात कही। लेकिन परिजन व समाज के लोगों ने पहले आरोपियों को गिरफ्तार की मांग उठाई।

बाकी आरोपियों का पता लगाया जा रहा

मामले में मुख्य आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। बाकी संदिग्धों से पूछताछ की जा रही है। सीडीआर के आधार पर अन्य आरोपियों की तलाशी की जा रही है। - अवधेश सांदू, थानाधिकारी करड़ा

खबरें और भी हैं...