पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मतदान में अराजकता:फर्जी मतदान के आरोप में भिड़े दो गुट पत्थरबाजी, बूथ पर चली कुर्सी-लाठियां, फिल्मी स्टाइल में दौड़ाए वाहन

जालोर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जालोर. पुर बूथ के भीतर एक-दूसरे पर कुर्सियां फेंकते दोनों गुटों के लोग। - Dainik Bhaskar
जालोर. पुर बूथ के भीतर एक-दूसरे पर कुर्सियां फेंकते दोनों गुटों के लोग।
  • सरनाऊ के सेड़िया व पुर बूथ पर मतदान के दौरान बिगड़े हालात, पुलिस मूकदर्शक बन देखती रही
  • कांग्रेस व निर्दलीय प्रत्याशी के समर्थकों में आधे घंटे तक हुई झड़प,
  • हमलावरों पर दूसरे दिन भी कार्रवाई नहीं, पहले दिन भी घटना काे मामूली बात बताते हुए अधिकारी बचते रहे

सरनाऊ पंचायत समिति क्षेत्र के दो बूथों पर शुक्रवार काे हुए दूसरे चरण के मतदान के दाैरान करीब आधे घंटे तक अराजकता का माहाैल रहा। सेड़िया बूथ पर दो गुटों ने बेखौफ होकर बूथ के आगे पत्थरबाजी की। इस दाैरान दहशत में आए मतदाता पत्थरबाजी से बचने काे इधर-उधर भागते रहे। वहीं, पुर बूथ के भीतर दो गुट आपस में कुर्सियों व लाठियों से एक-दूसरे पर हमला करते रहे। हैरानी की बात ताे यह है कि पुर बूथ पर हुई इस घटना से जिम्मेदार तक अनभिज्ञ रहे।

शनिवार काे मामला सामने आने के बाद भी दाेनाें बूथाें पर हुई अराजकता काे लेकर किसी पर भी काेई कार्रवाई नहीं की गई। जानकारी के अनुसार सेड़िया में दो कांग्रेसी नेताओं की माताएं आमने-सामने चुनाव लड़ रही हैं। दाेनाें पक्षाें में टिकट वितरण के दाैरान से ही विवाद चल रहा था। शुक्रवार काे दोनों गुटों द्वारा एक-दूसरे पर फर्जी मतदान करने का आरोप लगाते हुए आपस में भिड़ गए एवं पत्थरबाजी के साथ-साथ एक-दूसरों के पीछे वाहनों को भी दौड़ाते रहे। करीब 30 मिनट तक चले विवाद के दौरान वहां पर मौजूद पुलिस व प्रशासनिक अधिकारी केवल घटना को देखते रहे। सूचना के बाद बूथ पर बड़ी संख्या में पुलिस जाब्ता पहुंचा और मामला शांत किया। दाेनाें बूथाें पर हुए इतने बड़े हंगामे की जानकारी शनिवार काे वीडियो वायरल हेनेन के बाद हुई।

सेड़िया बूथ : आधे घंटे एक-दूसरे पर बरसाए पत्थर, भागते रहे मतदाता
सेड़िया बूथ पर करीब 30 मिनट तक खौफ के बीच मतदान हुआ। यहां पर कांग्रेस व निर्दलीय प्रत्याशी के समर्थकों के बीच झगड़ा हुआ, जो 30 मिनट तक चलता रहा। इस दौरान दोनों गुटों द्वारा एक-दूसरे पर जमकर पत्थर बरसाए गए। उसके बाद दोनों गुटों ने फिल्मी स्टाइल से लग्जरी वाहनों को दौड़ाकर मतदाताओं में खौफ पैदा कर दिया। घटना के समय बड़ी संख्या में महिलाओं के साथ-साथ बुजुर्ग मतदाता भी वाेट देने आए थे। मतदाता पत्थरों से बचने काे इधर-उधर भागते रहे।

सैकड़ों की संख्या में दीवारों पर चढ़ गए समर्थक, हंगामा करते रहे
वायरल वीडियो में सेड़िया बूथ पर सैकड़ों की संख्या में दोनों गुटों के समर्थक हंगामा करते हुए दिख रहे हैं, लेकिन प्रशासन की ओर से इनके खिलाफ अब तक कोई कार्रवाई नहीं की गई है। 200 मीटर के भीतर विद्यालय की दीवार पर भी समर्थक चढ़कर एक-दूसरे पर हमला करने को लेकर उकसाते रहे। वहीं सेडिय़ा में पत्थरबाजी के दौरान भी युवाओं से लेकर बुजुर्ग तक एक-दूसरे पर पत्थर फेंकते दिख रहे हैं। वहीं पंचायत समिति क्षेत्र के सेडिय़ा बूथ पर सबसे ज्यादा 82.58% मतदान हुआ।

बूथ के भीतर घटना होने के बाद भी प्रशासन क्याें दबाता रहा

पुर बूथ के भीतर खौफ पैदा करने जैसा मंजर दिख रहा है। जहां पर एक-दूसरों पर कुर्सियों से हमला करते हुए साफ तौर पर दिख रहे हैं। दोनों गुट प्रशासन द्वारा ही लगाई गई कुर्सियों से हमला कर रहे हैं। वहीं, प्रशासन के जिम्मेदार अधिकारी घटना की जानकारी नहीं हेनेन की बात बाेल रहे हैं। बूथ के भीतर इतना बड़ा विवाद होने के बाद भी दूसरे दिन तक कोई कार्रवाई नहीं हो पाई है। ऐसे में प्रशासन द्वारा इस तरह के मामले को हल्के में लेने से क्षेत्र में भय का माहौल बन रहा है।

जिम्मेदारों को जानकारी तक नहीं
सरनाऊ पंचायत समिति क्षेत्र के सेडिय़ा बूथ के बाहर विवाद हुआ था। पुर बूथ के भीतर कुर्सियों से मारपीट होने की जानकारी हमारे पास नहीं हैं।
- शंकरलाल मीणा, रिटर्निंग अधिकारी सरनाऊ

सीधी बात :श्यामसिंह, एसपी

सरनाऊ पंचायत समिति क्षेत्र में चुनाव के दौरान विवाद हुआ था अब तक पुलिस ने क्या कार्रवाई की?
सेडिय़ा पंचायत क्षेत्र में बूथ के बाहर विवाद हुआ था। सूचना मिलते ही बड़ी संख्या में पुलिस जाब्ता समेत मैं खुद मौके पर पहुंच गया था। मामला शांत करवा दिया। एक पक्ष ने मामला दर्ज करवाया है, जिसकी जांच कर रहे हैं।
पुर बूथ पर भी विवाद हुआ था?
उ. इसकी जानकारी नहीं हैं।
बूथ में लड़ाई का वीडियो भी वायरल हुआ है, जिसमें कुर्सियों से एक-दूसरों को मार रहे हैं?
बूथ के भीतर लड़ाई की जानकारी नहीं हैं। कुर्सियां वहां पर कहां से आई है। फिर भी अगर ऐसा है, तो पता करवाता हूं।

सेड़िया में कांग्रेस से टिकट नहीं मिलने पर बढ़ा था विवाद
सेडिय़ा बूथ जहां पर दो गुटों के बीच विवाद हुआ है, यह दोनों कांग्रेसी हैं। कांग्रेस से पूर्व पीसीसी सदस्य मोहन कुमार विश्नाेई की माता सुगणी देवी प्रत्याशी हैं, उनके सामने जिला कांग्रेस महासचिव सुरेश सियाग की माता झमकू देवी निर्दलीय चुनाव लड़ रहीं हैं। दोनों नेताओं के बीच लंबे समय से विवाद चल रहा है। इस बार दोनों प्रधान के लिए दावेदार थे। ऐसे में दोनों ने टिकट मांगा था, लेकिन मोहन कुमार काे टिकट मिल गया। तभी से दाेनाें के बीच विवाद बढ़ गया।

पुर में एक-दूसरों पर कुर्सियों से हमला, जिम्मेदारों को पता तक नहीं
पुर ग्राम के बूथ पर दो गुट आमने-सामने भिड़ गए। इसका भी वीडियो सामने आया है। यहां पर दोनों गुट मतदान केंद्र के मुख्य दरवाजे के पास एक-दूसरों ने कुर्सियों से हमला किया। हैरानी इस बात की है कि इसकी जानकारी रिटर्निंग अधिकारी से लेकर पुलिस अधिकारियों को भी नहीं है। वायरल वीडियो में साफ दिख रहा है कि दो गुट एक-दूसरों पर कुर्सियों से हमला कर रहे हैं। वहीं बीच बचाव को लेकर महिलाएं भी आती हुई दिख रही हैं।

करड़ा थाने में अब तक थाने में एक मामला दर्ज
करड़ा थाने में शुक्रवार को मतदान के दौरान फिल्मी स्टाइल में गाड़ी दौड़ाकर जान से मारने का मामला दर्ज हुआ है। थानाधिकारी अवधेश सांदू ने बताया की सेड़िया निवासी वालाराम पुत्र प्रेमाराम विश्नोई ने रिपोर्ट पेश कर बताया कि शुक्रवार को मेरा भतीजा सुखराम मतदान कर आ रहा था। इसी दरम्यान सेडिय़ा निवासी मोहनलाल पुत्र केसाराम, भाखराराम पुत्र केसाराम, अनिल पुत्र केसाराम, बाबूलाल पुत्र रामचन्द्र, वगडुराम पुत्र रतनाराम, ओमप्रकाश पुत्र मोहनलाल, किशनाराम पुत्र केहराराम ने जान से मारने की नीयत से गाडिय़ों को फिल्मी स्टाइल में दौडाया। पुलिस ने मामला दर्ज किया है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आपकी सकारात्मक और संतुलित सोच द्वारा कुछ समय से चल रही परेशानियों का हल निकलेगा। आप एक नई ऊर्जा के साथ अपने कार्यों के प्रति ध्यान केंद्रित कर पाएंगे। अगर किसी कोर्ट केस संबंधी कार्यवाही चल र...

    और पढ़ें