पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अनलॉक-3:शादी कारोबारियों को जुलाई के सावों की गाइडलाइन का इंतजार

जालोर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • समारोह पर रोक और शादी में 11 लोगों के ही शामिल होने की अनुमति यथावत रखने से असमंजस

अनलॉक-3 में सरकार ने 30 जून तक शादी समारोह पर पाबंदी यथावत रखी है। जुलाई के सावों के लिए कोई गाइडलाइन जारी नहीं की गई है। ऐसे में शादीवाले परिवारों और वेडिंग कारोबारियों में असमंजस बना हुआ है। जुलाई में भड़ल्या नवमी 18 जुलाई तक मात्र 8 सावे ही हैं। 20 जुलाई को देवउठनी एकादशी को देव सो जाएंगे। इसके बाद 4 माह तक कोई मांगलिक कार्य नहीं होंगे।

सरकार की तरफ से कोई गाइडलाइन नहीं दिए जाने से शादी वाले परिवार विवाह स्थल, होटल, बैंड बाजे, घोड़ी, हलवाई, केटरिंग, डेकोरेशन आदि की बुकिंग नहीं करा पा रहे हैं। हालांकि, वेडिंग इंडस्ट्री व्यापारी मानकर चल रहे हैं कोरोना संक्रमण दर एकदम कम हो गई है तो सरकार जुलाई के सावों के लिए 50-100 मेहमानों की अनुमति दे सकती है।

ऑल वेडिंग इंडस्ट्रीज फेडरेशन राजस्थान के प्रदेशाध्यक्ष मोहनलाल अग्रवाल का कहना है कि सरकार को जल्द से जल्द जुलाई के लिए कम से कम 100-150 लोगों की गाइडलाइन जारी कर देनी चाहिए। इससे लोगों का असमंजस खत्म हो और वे बुकिंग करा सकें।

राजस्थान टैंट डीलर्स किराया व्यवसायी समिति के चेयरमैन रवि जिंदल का कहना है कि राज्य सरकार के टैंट कारोबारियों के हितों की अनदेखी कर गाइडलाइन में पूर्व की तरह ही पाबंदी को यथावत रखने का आदेश सर्विस इंडस्ट्रीज़ से जुड़े 5 लाख व्यापारियों के सामने रोज़ी रोटी का संकट खड़ा हो गया है। शादी समारोह में 11 की जगह कम से कम 200 व्यक्ति करने चाहिए ताकि इस इंडस्ट्रीज़ से जुड़े लोगों को जीवनदान मिल सके।

व्यापारी बोले- नहीं लौटाएंगे बुकिंग कैंसिल कराने पर एडवांस राशि

साथ ही सरकार ने गाइड लाइन में वेडिंग इंडस्ट्री के व्यापारियों को बुकिंग केंसिल कराने पर एडवांस राशि लौटने को कहा लेकिन अप्रैल, मई, जून की बुकिंग केंसिल कराने पर एडवांस राशि नहीं लौटाई जा रही। ऐसे में बुकिंग करने वाले व्यापारी और शादी आयोजकों के बीच में गतिरोध बना हुआ है। वेडिंग इंडस्ट्री के इन व्यापारियों का कहना है कि एडवांस बुकिंग की राशि आगे के सावों की तारीख में समायोजित कर सकते हैं लेकिन वापस नहीं लौटा सकते।

कुछ आयोजक अग्रिम राशि आगे करवा रहे हैं समायोजित

कुछ आयोजक जिन्होंने अप्रैल-मई, जून में शादियां बुक करवा रखी थीं वे बुकिंग कैंसिल होने के कारण एडवांस को आगे नवंबर, दिसंबर में बुकिंग के लिए समायोजित करवा रहे हैं। वहीं, कुछ आयोजक जुलाई के सावों पर सरकार की गाइडलाइन का इंतजार कर रहे हैं।

हमने सरकार का साथ दिया, हमारा सीजनल व्यापार पूर्णता खत्म हो गया। सरकार जल्द जुलाई के सावों के लिए 100 मेहमानों की गाइडलाइन जारी करें।

भवानी शंकर माली, प्रदेश महामंत्री, ऑल वेल्डिंग इंडस्ट्रीज फेडरेशन राजस्थान

खबरें और भी हैं...