स्वामी नारायण स्कूल से पकड़ी 30 टन लकड़ी:पिछले कुछ दिनों से चल रहा था पेड़ों की कटाई का काम, BAPS संस्थान को दिया नोटिस

माउंट आबू5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
स्कूल परिसर में पीपल, शीशम, पलाश और सिल्वर ऑक के पेड़ों की कटाई की गई थी। - Dainik Bhaskar
स्कूल परिसर में पीपल, शीशम, पलाश और सिल्वर ऑक के पेड़ों की कटाई की गई थी।

माउंट आबू में शुक्रवार को वन विभाग टीम ने साल गांव क्षेत्र में बड़ी कार्रवाई को अंजाम दिया है। टीम ने स्वामी नारायण स्कूल से करीब 30 टन गीली लकड़ी को जब्त किया और माउंट आबू फॉरेस्ट ऑफिस में रखवाया। वन विभाग ने स्वामी नारायण स्कूल के प्रबंधक BAPS संस्थान को 67 पेड़ों को अवैध रूप से काटने और पर्यावरण को नुकसान पहुंचाने को लेकर पर्यावरण संरक्षण अधिनियम 1966 की धारा 15, वन संरक्षण अधिनियम 1980 की धारा 2 के तहत नोटिस दिया गया है।

डीएफओ विजय शंकर पांडेय ने बताया कि स्वामी नारायण स्कूल परिसर में कुछ दिन से पेड़ों की कटाई का काम चलने की सूचना मिली थी। इस पर वन विभाग की गठित टीम के कर्मचारी मौके स्थल पर गए। स्कूल परिसर को बाहर चारों तरफ ग्रीन नेट से ढका हुआ था। अंदर गए तो पेड़ों की कटाई का काम चल रहा था। स्कूल परिसर में पीपल, शीशम, पलाश और सिल्वर ऑक के विभिन्न प्रकार की प्रजाति के 67 पेड़ों की कटाई की गई थी। टीम ने पेड़ों की कटाई कर रखी करीब 30 टन की गीली लकड़ी जब्त की है और माउंट आबू फॉरेस्ट ऑफिस में रखवाया।