पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

दूसरी लहर....हमारी संजीवनी:ऑक्सीजन की कमी खली ताे जनरेशन प्लांट लगा दिया

सिराेही2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • भामाशाहाें के सहयाेग से माउंंट और आबूराेड में लगा प्लांट, अब सिराेही व शिवगंज में भी

काेराेना की दूसरी लहर घातक साबित हाे रही है और अधिकांश मरीजाें काे ऑक्सीजन की जरूरत पड़ रही है। लेकिन इन हालाताें में भी जिले के भामाशाह पीछे नहीं आए। ऑक्सीजन की कमी आई ताे जनरेशन प्लांट तक लगा दिया। इतना ही नहीं दवाइयाें से लेकर अन्य सुविधाओं के लिए भामाशाहाेंं के साथ जिले के जनप्रतिनिधियाें ने भी सहयाेग किया।

तीनाें विधायकाें की ओर से अपने-अपने फंड में से ऑक्सीजन प्लांट लगाने के साथ ही रेमेडिसिविर समेत अन्य इंजेक्शन और आयुर्वेदिक दवाइयाें के लिए भी लाखाें रुपए का फंड दे दिया। इसके अलावा काेविड के मरीजाें काे निशुल्क इलाज मिल सके इसके लिए भी काेविड सेंटर में निशुल्क सुविधाएं उपलब्ध कराई जा रही है।

ऑक्सीजन प्लांट - भामाशाहाें के सहयाेग से पहले माउंट व आबूराेड में ऑक्सीजन प्लांट के लिए पहल की गई और प्लांट भेंट किया गया। वहीं जनप्रतिनिधियाें की ओर से भी ऑक्सीजन प्लांट लगाने के लिए अपने फंड से सहयाेग किया गया। अब भामाशाहाें की मदद से जिले के सिराेही व शिवगंज में भी ऑक्सीजन प्लांट का सहयाेग किया जा रहा है।

दवाइयां व मेडिकल सुविधा
पहली लहर से लगातार जिले में दवाइयाें व मेडिकल सुविधाओं के लिए भामाशाह सहयाेग कर चुके हैं। मास्क से लेकर सैनेटाइजर व पीपीई कीट प्रशासन काे उपलब्ध कराए। हाल ही में जनप्रतिनिधियाें की ओर से रेमडेसिविर इंजेक्शन व आयुर्वेदिक दवाइयाें के साथ अन्य मेडिकल सुविधाओं के लिए भी सहयाेग किया गया।

काेविड केयर सेंटर
जिले में आध्यात्मिक संस्थान की ओर से पहली लहर में 800 बेड का काेविड सेंटर प्रशासन काे दिया गया और अब दूसरी लहर में भी 500 बेड का सेंटर प्रशासन काे साैंपा है। वहीं भामाशाह के सहयाेग से ही ट्राेमा सेंटर में 30 बेड का काेविड केयर सेंटर शुरू किया गया, जिसमें मरीजाेंं के इलाज से लेकर जांच तक निशुल्क है।

खबरें और भी हैं...