पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

जर्जर अवस्था:शमानसून के आगमन पर हर के विभिन्न स्थानों पर खड़ी जर्जर इमारतें हादसों को आमंत्रण दे रही है।

आबूरोड7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

शमानसून के आगमन पर हर के विभिन्न स्थानों पर खड़ी जर्जर इमारतें हादसों को आमंत्रण दे रही है। गत दिनों लगातार आंधी तूफान बरसात के कारण आसपास के क्षेत्र में पेड़ों के गिरने से नुकसान हुआ था। शहर के मुख्य बाजार व आबादी क्षेत्र में दशकों पुरानी इमारतें जर्जर खड़ी है, जिनका मानसून में गिरने का डर हैं, लेकिन प्रशासन इन दीवारों व भवनों को हटाने में ध्यान नहीं दे रहा।

शहर के नगरपालिका का पुराना भवन, तहसील आवास भवन, गंगाजी मंदिर भवन परिसर के भवन भी जर्जर अवस्था में है जो कभी भी धराशाई हो सकते हैं। गत दिनों कुम्हार मोहल्ले में भी एक भवन की बालकनी गिर गई थी, फिर भी प्रशासन ऐसी घटनाओं से सबक नहीं ले रहा हैं। क्षतिग्रस्त भवनाें के निकट से प्रतिदिन सैकड़ों वाहन आवागमन करते हैं और यहां सभी भवन शहर के बीचों-बीच जर्जर अवस्था स्थित है जो आमजन के लिए बड़ा खतरा बन सकते हैं।

खबरें और भी हैं...